बीसीसीआई के पूर्व जनरल मैनेजर एमवी श्रीधर का निधन हुआ

Rahul

बीसीसीआई में क्रिकेट ऑपरेशन के पूर्व जनरल मैनेजर मातुरी वेंकट श्रीधर का आज सुबह देहांत हो गया। एमवी श्रीधर हैदराबाद रणजी टीम के पूर्व कप्तान भी रह चुके थे। श्रीधर जब अपने निवास स्थान पर थे, तो उन्हें दिल का दौरा पड़ा और उन्हें तुरंत हॉस्पिटल के लिए ले जाया गया लेकिन हॉस्पिटल ले जाने के बाद उनका निधन हो गया। एमवी श्रीधर को उनके परिवार वालों ने बचाने की कोशिश की लेकिन उन्होंने दिल का दौरा पड़ते ही आखिरी सांस ली, उनके परिवार में उनकी पत्नी और 2 बच्चे शामिल हैं।

प्रथम श्रेणी क्रिकेट में एमवी श्रीधर हैदराबाद के जाने माने बल्लेबाज थे। उन्होंने अपने करियर में 21 शतक जड़े और साथ ही हैदराबाद की तरफ से 300 रन बनाने वाले 3 बल्लेबाजों में से एक थे। उनके अलावा वीवीएस लक्षमण और अब्दुल अजीम ने यह कारनामा किया है। उन्होंने साल 1994 में आन्ध्रा के खिलाफ 366 रनों के बेहतरीन पारी खेली और रणजी ट्रॉफी में तीसरे नंबर पर सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया। उनसे आगे केवल भाऊसाहेब निबालकर 443 नाबाद और संजय मांजरेकर 377 का स्कोर था। एमवी श्रीधर एक योग्य डॉक्टर भी थे, उन्होंने हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन के लिए भी बहुत वर्षों तक कार्य किया।

एमवी श्रीधर ने साल 2013 में भारतीय क्रिकेट बोर्ड में एन श्रीनिवासन के कार्यकाल में जनरल मैनेजर की भूमिका निभाई थी। वह घरेलू क्रिकेट में एक अधिकारी के तौर पर दूर रहे लेकिन पिछले 2 साल से उन्होंने बीसीसीआई के लिए खिलाड़ियों, चयनकर्ताओं, बीसीसीआई मैनेजमेंट के साथ अलग अलग विभाग में काम किया। बीसीसीआई की तरफ से वह आईसीसी की बैठकों में भी शामिल होते थे। एमवी श्रीधर ने इस साल सितम्बर में अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। एमवी श्रीधर भारतीय क्रिकेट बोर्ड के मुख्य सदस्य और घरेलू स्तर पर हैदराबाद क्रिकेट के लिए अहम ख़िलाड़ी रहे थे।

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment