Create
Notifications
Advertisement

ICC World Cup 2019: ख़िताब जीतने के 4 प्रबल दावेदार

  • भारतीय क्रिकेट टीम वर्ल्डकप 2019 की सबसे प्रबल दावेदार दिख रही है
Rahul Pandey
ANALYST
Modified 25 Jun 2018, 10:05 IST

 

क्रिकेट के सबसे बड़े टूर्नामेंट की तैयारी उन सभी शीर्ष 10 देशों के लिए शुरू चुकी है जिन्होंने विश्वकप 201 9 के लिए क्वालिफाई किया है। यह मेगा इवेंट 30 मई 2019 को शुरू होगा, मेजबान इंग्लैंड टूर्नामेंट के पहले मैच में ऑस्ट्रेलिया से भिड़ेगी।

विश्व कप के इस संस्करण का प्रारूप दस टीमों के बीच राउंड-रॉबिन प्रारूप में बदल दिया गया है, जिसमें प्रत्येक टीम कुल नौ मैचों में खेल रही है। शीर्ष 4 टीमें सेमीफाइनल और फाइनल के नाकआउट चरण में जाएँगी।

यह 1992 के विश्व कप प्रारूप के समान है जहां आठ टीमों ने राउंड रॉबिन प्रारूप में एक दूसरे के खिलाफ प्रतिस्पर्धा की थी। लॉर्ड्स में 14 जुलाई को फाइनल खेला जायेगा।

सभी टीमों ने अपनी तैयारी पूरी तरह से शुरू कर दी है क्योंकि टूर्नामेंट में अब साल भर से भी कम का समय बचा है। अब तक 2015 विश्वकप के बाद, कुछ टीमों ने शानदार प्रदर्शन किया है जबकि कुछ टीमों ने आगे बढ़ने के लिए संघर्ष किया है।

यहाँ हम वर्तमान फॉर्म और स्थिरता के हिसाब से, ख़िताब जीतने के लिए चार सबसे मजबूत दावेदार पर नज़र डाल रहे हैं।

 

# 4 ऑस्ट्रेलिया




 

मौजूदा चैंपियन विश्व क्रिकेट में सबसे मजबूत टीमों में से एक हैं। जब बड़े टूर्नामेंट की बात आती है, तो ऑस्ट्रेलियाई सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले हैं और दबाव को अच्छी तरह से संभालते हैं। विश्वकप के आखिरी 5 संस्करणों में, उन्होंने 4 खिताब जीते हैं और 2011 में भारत में खेले गए विश्वकप में वह क्वार्टर फ़ाइनल तक पहुंचे थे।

सैंडपेपर गेट घटना ने डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ की सेवाओं के बिना ऑस्ट्रेलिया टीम को बहुत मुश्किल में डाला है, लेकिन वे अभी भी एक बहुत मजबूत टीम हैं। गेंदबाजी लाइन-अप में मिचेल स्टार्क, पैट कमिन्स, जोश हैज़लवुड और एंड्रयू टाई के साथ बैक अप गेंदबाज भी बहुत बेहतर हैं। स्पिन विभाग में, उनके पास एश्टन अगर और एडम ज़म्पा है।

बल्लेबाजी में शीर्ष पर डी'आर्सी शॉर्ट और आरोन फिंच जैसे आक्रामक खिलाड़ी हैं, जबकि मध्य क्रम में उनके पास ग्लेन मैक्सवेल, ट्रेविस हेड और मार्कस स्टोइनीस हैं। इसके अलावा, वॉर्नर और स्मिथ विश्व कप से पहले वापस आ जाएंगे जो उनकी संभावनाओं को बढ़ा देंगे।

ऑस्ट्रेलियाई टीम एक बहुत ही संतुलित टीम दिखती है, और नॉकआउट चरणों में अपना खेल बेहतर करने की उनकी क्षमता के साथ वे अपने खिताब की रक्षा कर सकते हैं।

1 / 4 NEXT
Published 25 Jun 2018, 10:05 IST
Advertisement
Fetching more content...
Get the free App now
❤️ Favorites Edit