Create

4 युवा खिलाड़ी जो आने वाले समय में भारतीय टीम के लिए खेल सकते हैं

Enter caption

कई अंडर-19 खिलाड़ी उच्चतम स्तर पर टीम इंडिया के लिए सफल खिलाड़ी साबित हुए हैं। युवा क्रिकेट में मजबूत प्रदर्शन के बाद युवराज सिंह, विराट कोहली और हाल ही में ऋषभ पंत और पृथ्वी शॉ भारत के लिए शुरुआत करने में कामयाब हो सके थे।

रणजी ट्रॉफी और दिलीप ट्रॉफी जैसे घरेलू टूर्नामेंटों में भी हाल के सालों में प्रदर्शन का स्तर काफी बढ़ गया है। घरेलू टूर्नामेंट लगातार अंतर्राष्ट्रीय टीम के लिए कुशल क्रिकेटरों को उपलब्ध करा रहे हैं। ऐसे में आइए एक नजर उन खिलाड़ियों पर जो घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं और भविष्य में टीम इंडिया के लिए जगह बना सकते हैं...

#4 कृष्णप्पा गौतम

Enter caption

कर्नाटक के कृष्णप्पा गौतम घरेलू मैचों में काफी शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। कृष्णप्पा गौतम एक बॉलिंग ऑलराउंडर के तौर पर जाने जाते हैं। आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के लिए कृष्णप्पा गौतम खेल चुके हैं। घरेलू स्तर पर कृष्णप्पा गौतम 24 मैच खेल चुके हैं और 85 विकेट भी हासिल कर चुके हैं।

रणजी सीजन 2017-18 में कृष्णप्पा गौतम ने 8 मैचों में 34 विकेट हासिल किए थे और 2 बार 5 विकेट हॉल लेने में कामयाब हुए थे। ऐसे में कृष्णप्पा गौतम भारत के लिए जल्द खेलते हुए दिखाई दे सकते हैं।

#3 रजनीश गुरबानी

Enter caption

विदर्भ के रजनीश गुरबानी ने साल 2016 में प्रथम श्रेणी क्रिकेट में पदार्पण किया था। पिछले साल रणजी टूर्नामेंट में रजनीश गुरबानी सबसे ज्यादा विकेट हासिल करने के मामले में दूसरे पायदान पर रहे थे। आमतौर पर रजनीश गुरबानी 130-135 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करते हैं। उनकी गेंदों को स्विंग कराने की क्षमता से अच्छे से अच्छा बल्लेबाज भी परेशान हो जाता है।

ऐसे में उनकी स्विंग गेंदबाजी का फायदा आने वाले दिनों में भारतीय क्रिकेट टीम को भी देखने को मिल सकता है। वहीं उन्होंने 2017-18 रणजी सीजन में 6 मैचों में 39 विकेट हासिल किए थे, जिसमें 5 फाइव विकेट हॉल शामिल थे।

#2 नवदीप सैनी

Enter caption

दिल्ली के नवदीप सैनी काफी शानदार गेंदबाज हैं। नवदीप सैनी लगातार 140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करने में माहिर हैं। इस साल अफगानिस्तान के खिलाफ खेले गए एकमात्र टेस्ट में उनका चयन किया गया था लेकिन अंतिम 11 में शामिल नहीं किया गया। रणजी 2017-18 में नवदीप सैनी ने शानदार प्रदर्शन किया और उन्होंने 8 मुकाबलों में 34 विकेट हासिल किए थे।

#1 मयंक अग्रवाल

Enter caption

कर्नाटक के मयंक अग्रवाल घरेलू स्तर पर रन मशीन के तौर पर जाने जाते हैं। उनकी बल्लेबाजी काफी प्रभावित करने वाली है। 2017-18 सीजन में उन्होंने 13 पारियों में 1160 रन स्कोर किए थे। इस दौरान उनकी औसत 105.45 थी और साथ ही उन्होंने 5 शतक भी लगाए।

इस सीजन में उन्होंने अपने करियर की बेहतरीन पारी को अंजाम दिया और नाबाद 304 रन बनाए। मयंक भी आने वाले दिनों में भारतीय टीम के लिए खेलते हुए देखे जा सकते हैं।

लेखक: बालकृष्ण

अनुवादक: हिमांशु कोठारी

Edited by मयंक मेहता
Be the first one to comment