भारत में तेज़ गेंदबाज़ी का भविष्य काफी उज्जवल: ग्लेन मैक्ग्रा

टीम इंडिया ने हाल में ही वेस्टइंडीज़ दौरा किया है जहां उसने 4 टेस्ट मैच की सीरीज खेली। पहले तीन टेस्ट पूर्ण रूप से संपन्न हुए पर चौथा मैच पूरी तरह बारिश और खराब मैदान की भेंट चढ़ गया। भारत तीन टेस्ट मैचों में 2-0 से अजयी बढ़त बना चुका था और चौथा टेस्ट मैच ड्रा पर ख़त्म हुआ, इस तरह से भारत ने 4 टेस्ट मैचो की सीरीज़ 2-0 से जीत हासिल कर ली। इस पूरी सीरीज में भारत की बल्लेबाजी के साथ-साथ गेंदबाज़ी भी अहम भूमिका निभाती नज़र आई। पूरी सीरीज़ में भारतीय गेंदबाज़ों ने कमाल का प्रदर्शन किया। टेस्ट सीरीज ख़त्म होने के बाद भारतीय टीम को वेस्टइंडीज़ के साथ फ्लोरिडा में दो टी20 मैचों की सीरीज़ खेलनी थी जो 27 और 28 अगस्त को खेली गई। इस दो मैचों की टी20 सीरीज का दोनों मुकाबला फ्लोरिडा में खेला गया जहां पहले मुकाबले में भारत को वेस्टइंडीज़ के हाथों एक रन की हार मिली और दूसरे मुकाबले में जीत की ओर बढ़ती भारतीय टीम को बारिश के कारण जीत नहीं मिल सकी और उन्हें सीरीज़ 1-0 से हारनी पड़ी। पहले टी20 मैच में वेस्टइंडीज़ के खिलाफ निराशाजनक प्रदर्शन करने के बाद दूसरे टी20 में ज़बरदस्त वापसी कर भारतीय गेंदबाजों ने खुद को फिर से एक बार साबित किया है। गेंदबाजों के इस शानदार प्रदर्शन के बाद देशभर से उन्हें प्रशंशाएं मिल रही हैं। प्रशंसा करने वालों में विश्व के कई दिग्गज गेंदबाज़ भी शामिल हैं जिनमें एक नाम ऑस्ट्रलियाई दिग्गज ग्लेन मैक्ग्रा का भी है। मैक्ग्रा के अनुसार भारतीय तेज़ गेंदबाज़ काफ़ी बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं और पिछले कुछ समय से उनकी गेंदबाजी में लगातार सुधार होता चला जा रहा है और भारतीय गेंदबाज़ एक उभरते हुए समूह के रूप में नज़र आरहे हैं। “भारतीय तेज़ गेंदबाज़ बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं, और उनमें काफी सुधार भी हुआ है। जिस तरह रणजी ट्रॉफी में घास छोड़ी जा रही है और गेंदबाज़ उसका फायदा उठा रहे हैं, मुझे लगता है भारतीय गेंदबाज़ सही दिशा में जा रहे हैं। मुझे आशा है कि वो मेरे यहां होने का और मेरे अनुभव का काफी फायदा उठाना पसंद करेंगे”: मैक्ग्रा मैक्ग्रा के अनुसार इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार और अब जसप्रीत बुमराह जैसे तेज़ गेंदबाजों की वजह से भारतीय तेज़ गेंदबाज़ी आक्रमण काफी मज़बूत हो गया है।