Create
Notifications

पाकिस्तान के ऑलराउंडर मोहम्मद हफीज को गेंदबाजी करने की इजाजत मिली

मयंक मेहता

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के ऑलराउंडर मोहम्मद हफीज को एक बार फिर अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाजी करने की इजाजत मिल गई है। हालांकि वेस्टइंडीज के तेज़ गेंदबाज रोन्सफोर्ड बीटन को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाजी से निलंबित कर दिया गया है। न्यूजीलैंड के खिलाफ 24 दिसंबर को क्राइस्टचर्च में दूसरे एकदिवसीय के दौरान इस तेज गेंदबाज के एक्शन की शिकायत की गई थी। हफीज के गेंदबाजी एक्शन को पिछले साल श्रीलंका के खिलाफ हुई एकदिवसीय सीरीज के दौरान आईसीसी ने सस्पेंड कर दिया था। हफीज ने अप्रैल में लोगबोरो यूनिवर्सिटी में टेस्ट दिया था, जिसमें पता चला कि उनकी कोहनी आईसीसी के वैध गेंदबाजी के नियमों के अंतर्गत 15 डिग्री के दायरे के भीतर ही पाई गई, जिसके बाद आईसीसी ने उन्हें दोबारा गेंदबाजी करने की इजाजत दे दी। आईसीसी ने बयान जाहिर करते हुए कहा, बीटन का गेंदबाजी एक्शऩ अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के हिसाब से अवैध है और वो इस स्तर पर गेंदबाजी नहीं कर सकेंगे। हालांकि वो अपन वेस्टइंडीज क्रिकेट के अंडर होने वाले घरेलू टूर्नामेंट में अपनी गेंदबाजी को जारी रख सकते हैं।" हफीज का गेंदबाजी एक्शन पहले भी तीन बार अवैध घोषित हो चुका है और मैच अधिकारियों को हालांकि अगर लगता है कि हफीज संदिग्ध एक्शन के साथ गेंदबाजी कर रहे हैं और वैध एक्शन पर कायम नहीं हैं तो वह भविष्य में उनकी शिकायत करने के लिए स्वतंत्र होंगे। मैच अधिकारियों की सहायता के लिए गेंदबाज के नये वैध गेंदबाजी एक्शन की तस्वीर और वीडियो फुटेज भी मुहैया कराई जाएगी। पाकिस्तान की टीम इस समय आयरलैंड और इंग्लैंड के दौरे पर गई हुई है और मोहम्मद हफीज दोनों ही टीमों का हिस्सा नहीं हैं। हालांकि हफीज को अनुभव को देखते हुए वो अगले साल होने वाले विश्वकप में पाकिस्तान टीम में अहम भूमिका निभा सकते हैं। हफीज ने अबतक खेले 200 एकदिवसीय मुकाबलों में 6107 रन बनाए हैं और उनके नाम 136 विकेट भी दर्ज है। इसके अलावा हफीज को गेंदबाजी करने की इजाजत मिलने से पाकिस्तान टीम की स्पिन गेंदबाजी को काफी मजूबती मिलेगी।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...