Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

हरभजन सिंह के मुताबिक भारतीय टीम को पिंक बॉल से खेलने में कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए

  • भारतीय क्रिकेट टीम इस समय डे-नाइट टेस्ट खेलने के पक्ष में नहीं है
FEATURED WRITER
Modified 21 Sep 2018, 20:23 IST

भारतीय टीम से बाहर चल रहे स्टार ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह के मुताबिक भारतीय टीम को डे-नाइट टेस्ट खेलने में कोेई दिक्कत नहीं होनी चाहिए। हरभजन ने पीटीआई से बातचीत के दौरान यह बात कही। आपको बता दें कि भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया दौरे के टेस्ट सीरीज में डे-नाइट टेस्ट खेलने से मना कर दिया था। भारतीय क्रिकेट टीम के इस फैसले के बाद मार्क वॉ और इयान चैपल जैसे दिग्गज खिलाडियों ने इसकी काफी आलोचना की थी। हरभजन ने कहा, "मुझे नहीं पता कि भारतीय टीम डे-नाइट टेस्ट क्यों नहीं खेलना चाहती। यह एक दिलचस्प फॉर्मेट है और हमें इसे खेलना चाहिए। पिॆंक गेंद के साथ खेलने में दिक्कत किया है? शायद यह इतना भी मुश्किल न हो, जितना कि अभी दिख रहा है।" हरभजन सिंह ने इसके अलावा यह भी कहा कि अगर पिंक बॉल से हम इसलिए नहीं खेलते क्योंकि हमारे बल्लेबाज आउट हो जाएंगे, तो हमें यह भी सोचना होगा कि हमारे गेंदबाज भी उन्हें दिक्कत में डाल सकते हैं। हमें हर एक चैलेंज के लिए तैयार रहना चाहिए। उन्होंने नए चैलेंज को लेकर कहा, "हम इंग्लैंड में जाकर वहां के हालातों से तालमेल नहीं बिठाते, अगर हम उस चैलेंज के लिए तैयार है, तो पिंक बॉल से खेलने में क्या दिक्कत है।" इससे पहले सीओए के चीफ विनोद राय ने एक इवेंट के दौरान कहा कि आने वाले समय में भी पिंक बॉल टेस्ट खेलना मुश्किल ही है। उन्होंने इस मुद्दे पर कहा, "मेरे हिसाब से हर टीम सीरीज को जीतने के लिए खेलती है और इसलिए हम अपनी टीम को पूरा मौका देना चाहते हैं।" पहले इस बात के कयास लगाए जा रहे थे कि भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान अपना पहला डे-नाइट टेस्ट मैच खेलेगी, लेकिन भारतीय टीम अभी भी पिंक बॉल से खेलने के लिए तैयार नहीं है। डे-नाइट टेस्ट के लिए दोनों ही टीमों का राजी होना जरूरी है।

Published 18 May 2018, 15:00 IST
Advertisement
Fetching more content...