Create
Notifications

हरभजन सिंह ने टी20 वर्ल्ड कप में भारत की गेंदबाजी को निशाजनक बताते हुए दी प्रतिक्रिया 

जसप्रीत बुमराह अभी तक एकमात्र सफल भारतीय गेंदबाज हैं
जसप्रीत बुमराह अभी तक एकमात्र सफल भारतीय गेंदबाज हैं
ANALYST

टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) में भारत (Indian Cricket Team) के खराब प्रदर्शन के पीछे बल्लेबाजी के साथ-साथ टीम की गेंदबाजी की भी अहम भूमिका रही है। इस टूर्नामेंट में अब तक खेले अपने दो मैचों में भारतीय टीम ने महज 2 विकेट हासिल किये हैं। टीम की गेंदबाजी को लेकर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने निराशा जाहिर की है। भज्जी ने कहा कि इस टूर्नामेंट में भारत की गेंदबाजी हैरान करने वाली और निराशाजनक रही है।

भारतीय टीम ने इस संस्करण में अपना पहला मैच पाकिस्तान के खिलाफ खेला था। उस मैच में टीम के गेंदबाज पाकिस्तानी बल्लेबाजों को आउट करने में पूरी तरह से असफल रहे थे और 10 विकेट से हार मिली थी। इसके बाद न्यूजीलैंड के खिलाफ टीम को 8 विकेट से हार मिली। टीम के लिए एक मात्र सफल गेंदबाज जसप्रीत बुमराह साबित हुए हैं, जिन्होंने दो मैचों में 2 विकेट चटकाए हैं।

स्पोर्ट्सकीड़ा पर आज होने वाले भारत और अफगानिस्तान के मुकाबले को लेकर बात करते हुए भारत की निराशाजनक गेंदबाजी को लेकर हरभजन सिंह ने कहा,

यह वास्तव में हैरान करने वाला है कि हमने जो दो मैच खेले हैं उनमें अब तक हमने केवल दो विकेट लिए हैं। मैं गेंदबाजी के प्रदर्शन से निराश हूं। हमारे पास ऐसे गेंदबाज हैं जो इससे बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं। बुमराह के अलावा मोहम्मद शमी को अच्छा करना की जरूरत है। बल्लेबाज वरुण चक्रवर्ती को सावधानी से खेल रहे हैं लेकिन हमें विकेट लेने का तरीका खोजना होगा।

मिस्ट्री स्पिनर वरुण चक्रवर्ती भी विकेट लेने में नाकाम रहे हैं और उनके बारे में हरभजन ने कहा,

अगर बल्लेबाज चक्रवर्ती के खिलाफ जोखिम नहीं ले रहे हैं, तो भारत घेरे के अंदर अतिरिक्त फील्डर लगा सकता है। अगर ऐसा होता है, तो बल्लेबाज जोखिम लेने के लिए मजबूर हो सकते हैं। अन्यथा, हम विकेट कैसे लेंगे?

भारतीय गेंदबाजों में विकेट लेने का इरादा नहीं दिख रहा - हरभजन सिंह

हरभजन का मानना है कि भारत के गेंदबाज जिस तरह से गेंदबाजी कर रहे हैं, उनमें विकेट लेने वाली बात नजर नहीं आ रही है। हरभजन ने गेंदबाजों को लाइन और लेंथ में भी सुधार करने का सुझाव दिया है। उन्होंने कहा,

भारतीय गेंदबाजों की लाइन और लेंथ थोड़ा पीछे रही है। उन्हें विकेट लेने के लिए थोड़ा आगे गेंदबाजी करने की जरूरत है। भारत को स्लिप लगाने की भी जरूरत है। जब वरुण चक्रवर्ती गेंदबाजी के लिए आये तो उनके लिए कोई स्लिप नहीं लगी थी। उन्होंने विकेट लेने का इरादा नहीं दिखाया है और उन्हें अपनी बॉडी लैंग्वेज में भी सुधार करने की जरूरत है। इस बॉडी लैंग्वेज से जीतना मुश्किल है।

भारतीय टीम के लिए टी20 वर्ल्ड कप में आज करो या मरो का मुकाबला है। अफगानिस्तान के खिलाफ अगर भारत जीत दर्ज करने में असफल रहता है तो टीम की सेमीफाइनल में पहुँचने की उम्मीदें पूरी तरह से खत्म हो जाएंगी।


Edited by Prashant Kumar
comments icon1 comment
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now