पिंक बॉल से होने वाले पहले भारतीय टूर्नामेंट से हरभजन सिंह ने अपना नाम वापस लिया

भारत के स्टार ऑफ़ स्पिनर हरभजन सिंह दिलिप ट्रॉफ़ी में नहीं खेल पाएंगे, भज्जी इस वक़्त लंदन में हैं जहां अभी कुछ ही दिन पहले वह पिता बने हैं। हरभजन अपनी नवजात बेटी और परिवार के साथ थोड़ा और वक़्त गुज़ारना चाहते हैं। इसलिए उन्होंने दिलिप ट्रॉफ़ी से अपना नाम वापस ले लिया है। बीसीसीआई के हवाले से मिली एक ख़बर के मुताबिक़ भज्जी ने दिलिप ट्रॉफ़ी से अपना नाम वापस लेने की गुज़ारिश की थी, जिसके बाद उन्हें इस पिंक बॉल से होने वाले टूर्नामेंट से बाहर रहने की अनुमति दे दी गई है। ''हरभजन की बेटी अभी एक महीने की भी नहीं हुई है, स्वाभाविक है इस वक़्त भज्जी को अपने परिवार के साथ रहने की ज़रूरत है। परिवार हमेशा सबसे पहले आता है, वह अभी इंग्लैंड में अपने परिवार के साथ हैं।" : सूत्र बीसीसीआई ये पहला मौक़ा जब दिलिप ट्रॉफ़ी में क्रिकेट मैच दूधिया रोशनी में पिंक बॉल से खेले जाएंगे। ये टूर्नामेंट इस बार चैलेंजर्स ट्रॉफ़ी के तर्ज़ पर किया जा रहा है, जहां खिलाड़ियों को तीन टीमों में बांटा गया है। भज्जी को भारत ग्रीन टीम में रखा गया था, जिसकी कप्तानी का ज़िम्मा सुरेश रैना के कंधों पर होगा। ये टूर्नामेंट ग्रेटर नोएडा में खेला जाएगा। हरभजन सिंह के अलावा इस टूर्नामेंट में युवराज सिंह, सुरेश रैना और गौतम गंभीर जैसे खिलाड़ियों को भी अलग अलग टीम में रखा गया था। लेकिन अब भज्जी इस टूर्नामेंट का हिस्सा नहीं होंगे। भारत ग्रीन की कप्तानी जहां रैना करेंगे, तो भारत रेड और भारत ब्लू की कप्तानी का ज़िम्मा युवराज सिंह और गौतम गंभीर पर होगा। भज्जी के अलावा शिखर धवन और अजिंक्य रहाणे भी अब इस टूर्नामेंट में नहीं खेल पाएंगे, क्योंकि ये दोनों खिलाड़ी वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ अमेरिका में होने वाले टी20 सीरीज़ में खेल रहे होंगे। दिलिप ट्रॉफ़ी के दौरान ही भारत अमेरिका के फ़्लोरिडा में 27 और 28 अगस्त को दो टी20 मैचो की सीरीज़ खेल रहा होगा, जिसकी कप्तानी महेंद्र सिंह धोनी करेंगे।

Edited by Staff Editor