Create

"हमारे खेलने के दिनों में, हम होटल की लॉबी में भी ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों से बात नहीं करते थे" - हरभजन सिंह की बड़ी प्रतिक्रिया 

हरभजन सिंह का ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के साथ काफी विवाद रहा है
हरभजन सिंह का ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के साथ काफी विवाद रहा है

हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) की ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों के साथ विवाद हमेशा सुर्खियों में रहा है। दोनों के बीच ऑन-फील्ड हमेशा तनाव देखने को मिला है। ऐसे ही कुछ 2008 में देखने को मिला जब पूर्व ऑस्ट्रलियाई बल्लेबाज मैथ्यू हेडन ने एक इंटरव्यू के दौरान हरभजन सिंह पर आपत्तिजनक कमेंट कर दिया था। उनके इस बयान के बाद काफी विवाद हो गया था। भारत और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों के बीच हमेशा विवादों का नाता रहा है।

हालांकि समय बीतने के साथ आईपीएल में भारतीय और ऑस्ट्रेलियाई एक टीम के लिए खेले, साथ अभ्यास किया, डिनर किया। इन सब को देखते हुए अब पहले जैसी प्रतिद्वंदिता नहीं देखने को मिलती है।

हाल ही में क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने वाले हरभजन ने स्वीकार किया कि आईपीएल की वजह से काफी बदलाव आया है, लेकिन उन्होंने कहा कि उन्हें अपने देश के लिए मैच जीतने की कोशिश में विरोधियों का दुश्मन बनने में कोई दिक्कत नहीं है।

हरभजन ने न्यूज 18 के साथ बातचीत में कहा,

अगर मेरे देश के लिए मैच जीतने की कोशिश मुझे विरोधियों की नजर में हमेशा के लिए दुश्मन बना देती है तो मैं 200 बार बनने के लिए तैयार हूं।

आईपीएल के आने से काफी बदलाव आया - हरभजन सिंह

आईपीएल युग से पहले के रिश्तों पर बात करते हुए, हरभजन ने खुलासा किया कि एक समय था जब भारतीय और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर एक-दूसरे से बात भी नहीं करते थे, यहां तक कि होटल की लॉबी में भी बात नहीं करते थे।

हां, आईपीएल की वजह से खिलाड़ियों के बीच काफी बदलाव आ गया है क्योंकि हम लगभग 45-50 दिन एक साथ बिताते हैं जो बहुत कुछ है। आप दोस्त बन जाते हैं और अतीत की बहुत सारी कड़वाहट भूल जाते हैं। आजकल विरोधी तो मैदान पर ही दुश्मन हैं। लेकिन हमारे खेलने के दिनों में, मैदान पर हमारे बीच इस तरह की झड़पें हुईं थी कि हमने होटल की लॉबी में भी आस्ट्रेलियाई लोगों से बात तक नहीं की।

हालांकि हरभजन ने माना कि जब रिकी पोंटिंग और मैथ्यू हेडन जैसे खिलाड़ी आपकी प्रशंसा करते हैं तो काफी अच्छा महसूस होता है। क्योंकि आप में जब कुछ खास होगा तभी वे आपकी सराहना करेंगे।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment