Create

रविचंद्रन अश्विन की तुलना में हरभजन सिंह ज्यादा आक्रामक स्पिनर रहे हैं: मैथ्यू हेडन

भारतीय ऑफ़ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन के अभूतपूर्व आंकड़ों के बावजूद पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी मैथ्यू हेडन ने हरभजन सिंह को ज्यादा दमदार और हावी रहने वाला स्पिनर बताया है। हेडन ने कहा कि अपने समय में हरभजन सिंह बल्लेबाजों पर दबाव बनाकर रखते थे और हावी रहते थे। हेडन ने कहा कि जब इस तरह का तेज गेंदबाजी आक्रमण नहीं था तब भज्जी के कन्धों पर अधिक जिम्मेदारी थी।

हेडन ने हरभजन सिंह का सामना कई बार किया है तथा आईपीएल में चेन्नई सुपरकिंग्स की तरफ से खेलते हुए अश्विन को भी काफी करीब से देखा है। उन्होंने कहा कि अश्विन ने 300 विकेट का विश्व रिकॉर्ड तोड़ा है और 5 वर्ष बाद अपने जमाने के महान गेंदबाज माने जाएंगे। उनका कौशल भी भज्जी की तरह शानदार है लेकिन हरभजन सिंह की तरह वे आक्रामक नहीं है, भज्जी उनसे ज्यादा आक्रामक स्पिनर थे।

इसके बाद हेडन ने कहा कि अश्विन को अधिक आक्रामक होने की जरुरत भी नहीं है क्योंकि इस टीम में उनको तेज गेंदबाजों से मदद मिल रही है इसलिए उनकी भूमिका भी अलग हो गई है। उन्होंने अपने जमाने के भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण से बेहतर अभी बताया।

आगे हेडन ने कहा कि हरभजन का कालखंड दबाव में लाने वाला रहा है। खासकर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अगर वे विकेट नहीं लेते थे, तो टीम मुश्किल में आ जाती थी। तेज गेंदबाजों के बारे में बात करते हुए हेडन ने कहा कि निश्चित रूप से जहीर खान और जवागल श्रीनाथ अच्छे गेंदबाज थे लेकिन अभी के भारतीय गेंदबाजों की तरह वे खौफनाक नहीं थे।

स्टीव स्मिथ, विराट कोहली, केन विलियमसन और जो रूट की तुलना पर हेडन ने कहा कि सभी की अपनी अलग शैली है इसके अलावा उन्होंने चेतेश्वर पुजारा के खेल को राहुल द्रविड़ की तरह अलग बताया।

श्रीलंका के खिलाफ नागपुर टेस्ट में अश्विन ने डेनिस लिली के सबसे कम मैचों में 300 विकेट के रिकॉर्ड को तोड़कर उस पर अपना कब्ज़ा किया है।

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment