Create
Notifications

टेस्ट टीम में चुने जाने से आश्चर्यचकित हैं हार्दिक पांड्या

Abhishek Tiwary

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की चयन समिति ने बुधवार को इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले दो टेस्ट के लिए 15 सदस्यीय टीम का ऐलान किया। दोनों टीमों के बीच पहला टेस्ट मैच 9 नवंबर से राजकोट में शुरू होगा। एमएसके प्रसाद की अध्यक्षता वाली चयन समिति ने कुछ आश्चर्यजनक नामों की घोषणा की, जिसमें रणजी ट्रॉफी में अच्छा प्रदर्शन करने वालों को मौका नहीं दिया गया। प्रशंसकों के लिए सबसे बड़ा आश्चर्य ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या का टेस्ट टीम में शामिल होना रहा। टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में हार्दिक पांड्या ने कहा कि वह टेस्ट में चयनित होने से आश्चर्यचकित हैं। पांड्या ने कहा, 'यह बड़ा आश्चर्य है। किसी भी स्तर का क्रिकेटर हमेशा सफेद पोशाक में भारत का प्रतिनिधित्व जरुर करना चाहता है। मैं अलग नहीं हूं। मेरे अंदर क्रिकेट के सभी प्रारूपों को लेकर काफी इज्जत है, लेकिन टेस्ट सबसे विशेष हैं। मैंने ऐसे चयन की उम्मीद नहीं की थी।' ऑलराउंडर ने कहा कि इस वर्ष वर्ल्ड टी20 के बाद वह सही लय में नहीं थे। उन्होंने साथ ही कहा कि उनका विश्वास भी थोड़ा गिरा हुआ था। हालांकि भारत 'ए' के साथ ऑस्ट्रेलिया दौरा करने के दौरान उन्हें राहुल द्रविड़ के साथ काम करने का मौका मिला, जिससे चीजें काफी बदली। ऑलराउंडर को फिर न्यूजीलैंड के खिलाफ वन-डे सीरीज के लिए राष्ट्रीय टीम में मौका मिला और अपनी डेब्यू सीरीज में उन्होंने काफी प्रभावी प्रदर्शन किया। पांड्या ने कहा कि वह क्रिकेट के पारंपरिक प्रारूप में खेलने को लेकर काफी खुश और उत्साहित हैं। उन्होंने कहा, 'यह बहुत ही अच्छा एहसास है। मैं अपने कंधों पर जिम्मेदारी लेने के लिए पूरी तरह तैयार हूं।' दाएं हाथ के बल्लेबाज ने कहा कि उन्हें आक्रमक क्रिकेट खेलना पसंद हैं और इसका उन पर कोई फर्क नहीं पड़ता कि प्रारूप कौनसा है। उनका मानना है कि मैदान पर आक्रमक रहने से उन्हें बेहतर प्रदर्शन करने में मदद मिलती है। 23 वर्षीय ऑलराउंडर ने कहा, 'मैं खेल भावना की इज्जत करता हूं और मानता हूं कि यह बिलकुल सही अंदाज में खेला जाना चाहिए। इसके साथ ही आक्रामकता ऐसी चीज है जो मेरे अंदर नैसर्गिक रूप से आती है।' पांड्या ने साथ ही कहा कि वह टीम की हर जरुरत के हिसाब से किसी भी भूमिका को अदा करने के लिए तैयार हैं। भारतीय टीम को इंग्लैंड के खिलाफ राजकोट में 9 नवंबर से पहला टेस्ट खेलना है और उसकी कोशिश न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीत की लय को बरकरार रखने की होगी।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...