Create

इंग्लैंड को हराकर कॉमनवेल्थ गेम्स के फाइनल में पहुंचने के बाद भारतीय कप्तान ने दिया बड़ा बयान

Cricket - Commonwealth Games: Day 9
Cricket - Commonwealth Games: Day 9

कॉमनवेल्थ गेम्स (Commonwealth Games) के सेमीफाइनल में इंग्लैंड के खिलाफ भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने इतिहास रचा है। भारतीय महिलाओं ने बेहद करीबी रहे मुकाबले में चार रन से जीत दर्ज की और फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली है। इंग्लैंड ने लक्ष्य का पीछा करते हुए जिस तरह की शुरुआत की थी उसके बाद भारत की वापसी बेहद कठिन लग रही थी, लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए अपनी टीम को यह जीत दिलाई है। मुकाबला जीतने के बाद भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर (Harmanpreet Kaur) ने कहा,

मुझे खुद को चार्ज रखना था क्योंकि जब मैं चार्ज रहूंगी तो पूरी टीम इसमें शामिल होगी और उन्हें कभी ऐसा नहीं लगेगा कि हम मैच से बाहर हो गए हैं। शैफाली ने टुकड़ों में अच्छा काम किया। कई बार जब आप को स्ट्राइक नहीं मिलती है तो क्रीज पर बने रहना कठिन हो जाता है। वह धीरे-धीरे सीख जाएगी कि कैसे क्रीज पर खड़े रहकर अपनी राह बनानी होती है, लेकिन स्मृति ने अद्भुत बल्लेबाजी की।

"गंभीर नहीं है जेमिमा रॉड्रिग्स की चोट"- हरमनप्रीत

भारत के लिए महत्वपूर्ण 44 रन बनाने वाली जेमिमा रॉड्रिग्स के दाएं हाथ में चोट लगी है और वह आखिरी कुछ ओवरों में फील्डिंग करती नहीं दिखीं। हरमनप्रीत के मुताबिक जेमिमा की चोट गंभीर नहीं हैं और वह अगले मैच के लिए उपलब्ध रहेंगी। हरमनप्रीत ने कहा,

जेमिमा एक फाइटर हैं और ऐसी चीजें होती रहती हैं। उनके हाथ में थोड़ी सी खिंचाव है, लेकिन वह अच्छी हो जाएंगी और उम्मीद है कि वह फाइनल के लिए उपलब्ध रहेंगी। शैफाली ऐसी खिलाड़ी हैं जिनका आत्मविश्वास काफी अधिक है और वह खुद गेंदबाजी के लिए मांग करती हैं। आपको गति में मिश्रण करना होता है और इसी कारण हमने उनका इस्तेमाल किया। उनका एक ओवर काफी अच्छा रहा था, लेकिन दूसरा महंगा साबित हुआ। निश्चित तौर पर हम दूसरा सेमीफाइनल देखेंगे और अपने फाइनल के प्लान को तैयार करेंगे।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment