Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

आईपीएल में कैसे होती है नेट रन रेट की गणना!

Rahul Pandey
ANALYST
फ़ीचर
1.89K   //    27 Mar 2019, 18:03 IST

Enter caption

आईपीएल 2019 की शुरुआत हो गई है, और हर बार कि तरह यह एक बार फिर से अपने साथ तमाम संभावनाओं को भी लेकर आया है। आईपीएल जैसे टूर्नामेंट में, कई बार कुछ टीमें सीज़न के अंत में अंक तालिका पर एक सामान अंक के साथ होती हैं, जिसके चलते अंक तालिका में टीम का स्थान नेट रन रेट के आधार पर तय होता है।

टूर्नामेंट के अंतिम चरण के दौरान, अधिकांश टीमें मैच शुरू होने से पहले इन अंकों की गणना करने पर मजबूर हो जाती हैं और अपने नेट रन रेट को बेहतर बनाने के लिए बड़े अंतर से मैच जीतने की कोशिश करती हैं।

हालांकि नेट रन रेट एक जटिल आंकिक गणना दिखती है जिसे समझना मुश्किल है, परन्तु यह वास्तव में काफी सरल है। इस आंकड़े की गणना के लिए किसी बड़े गणतीय उपकरण की आवश्यकता नहीं है। इसे आसानी से समझा जा सकता है और किसी के द्वारा भी इसकी गणना की जा सकती है।

आईये अब एक नज़र डालते हैं कि आखिर नेट रन रेट की गणना कैसे करते हैं?

उदाहरण के तौर पर दिल्ली कैपिटल और मुंबई इंडियंस के बीच दूसरे मैच में, दिल्ली ने 20 ओवर में 213 रन बनाए। तो उस मैच के लिए दिल्ली का रन रेट 213 को 20 से विभाजित करने पर आता है 10.65। मुंबई की टीम 176 रन बनाकर आउट हुई। तो 20 ओवर में 176 से उसका रन रेट 8.8 होगा। अब जब 10.65 और 8.8 का रन रेट सामने है तो इनके बीच का अंतर जो कि 1.85 है, यह दोनों टीम के बीच नेट रन रेट है।

मुंबई की टीम दिल्ली से 1.85 अंक पीछे है और इसलिए इसका नेट रन रेट -1.85 है, जबकि दिल्ली का +1.85 है। बस कुल यही गणित है नेट रन रेट की।

लेकिन कुछ महत्वपूर्ण बिंदु हैं जिन्हें भी ध्यान में रखना आवश्यक है। कई मैच खेले जाने की स्थिति में, रन और ओवरों की कुल संख्या पर विचार करने की आवश्यकता होती है, न कि किसी एक मैच के रन-रेट की। पूरे टूर्नामेंट के लिए, नेट रन रेट की गणना कुल ओवरों की संख्या और एक टीम बनाम ओवरों की संख्या और उनके द्वारा बनाए गए रन से की जाती है।


आसान शब्दों में:



मानक नेट रन रेट फ़ॉर्मूला
मानक नेट रन रेट फ़ॉर्मूला
Advertisement

आइए पूरे टूर्नामेंट में एक टीम के लिए नेट रन रेट की गणना करने के लिए एक उदाहरण लेते हैं। हम विश्व कप के 2011 में भारतीय टीम का उदाहरण यहाँ ले रहे हैं।

6 ग्रुप मैच के बाद, भारत का नेट रन रेट +0.9 था। उन 6 मैचों में, भारत ने कुल 1673 रन बनाए और कुल 282.3 ओवर खेले। दूसरी ओर उनके खिलाफ 299.3 ओवर में कुल 1505 रन बनाए गए।

हमारे बताये गये फ़ॉर्मूले एन जब इन आंकड़ों को डालते हैं तो हमें पहले भाग में 5.92 और दूसरे भाग में 5.02 का रन रेट मिलता है। इन दोनों के बीच का अंतर हमें +0.9 का नेट रन रेट देता है, जो कि भारतीय टीम का था।

इसके अलावा, अगर किसी टीम को आईपीएल में 20 ओवरों के भीतर ही आउट कर दिया जाता है, तो नेट रन रेट की गणना करते समय 20 ओवरों का पूरा कोटा माना जाता है। जब कोई टीम 20 ओवरों के भीतर एक निश्चित लक्ष्य का पीछा करती है, तो नेट रन रेट की गणना के लिए केवल ओवर में खेले जाने वाले ओवरों की संख्या का उपयोग किया जाता है।

जैसा कि देखा जा सकता है, नेट रन रेट समझने में काफी सरल है। अब जबकि प्रशंसक यह देखने के लिए उत्सुक हैं कि आईपीएल का 12 वां सीज़न कैसे बढ़ता है, यह तो तय हैं कि अंत आते आते सभी की नज़र अपनी टीमों को प्लेऑफ में आगे बढ़ते देखने के लिए सबसे महत्वपूर्ण अंक तालिका पर भी बनी रहेगी।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...