Create

'अम्बाती रायडू के 3 डी वाले ट्वीट के बाद मैंने विश्वकप में बेहतर प्रदर्शन किया'

विजय शंकर (Vijay Shankar) ने कहा है कि उन्हें अंबाती रायडू (Ambati Rayudu) के '3डी' ट्वीट के लिए कोई शिकायत नहीं है लेकिन उनके और रायडू के बीच सोशल मीडिया ट्रोल्स की तुलना टीम के भीतर उनकी अलग-अलग भूमिकाओं के कारण तर्कसंगत नहीं है। शंकर ने यह भी कहा कि जब मैं और रायडू मिलते हैं, तो वह वायरल ट्वीट बीच में नहीं आता है।

न्यूज 18 से बातचीत करते हुए विजय शंकर ने कहा कि जब हम मिलते हैं तो अच्छी तरह बातचीत करते हैं। हमारे बीच में व्यक्तिगत मसला नहीं है। यह ऐसे होना था क्योंकि ट्वीट वायरल हो गया। निश्चित रूप से उनके खिलाफ मुझे कोई शिकायत नहीं है। मैं हाल ही में उनसे दिल्ली में मिला था और हमारे बीच में शानदार बातचीत हुई।

विजय शंकर ने 3 डी टैग पर दिया बयान

भारतीय ऑल राउंडर ने कहा कि मेरा इससे कोई संबंध नहीं है। उन्होंने मुझे बेतरतीब ढंग से एक टैग दिया और इसे वायरल कर दिया। लेकिन उस ट्वीट के बाद मैंने विश्व कप में भारत के लिए तीन मैच खेले और अच्छा प्रदर्शन किया। मैंने कुछ भी बुरा नहीं किया।

गौरतलब है कि शंकर को 2019 विश्व कप में रायुडू से पहले चुना गया, जिससे विवाद हुआ और आंध्र प्रदेश के वरिष्ठ बल्लेबाज ने नाराजगी जताई। शंकर को चुनने का कारण बताते हुए एमएसके प्रसाद ने कहा कि वह 3 डी यानी बैटिंग, फील्डिंग और गेंदबाजी में बेहतर थे इसलिए उन्हें चुना गया। 3 डी कमेन्ट को लेकर रायडू ने ट्विटर पर चुटकी ली थी। इसके बाद धवन चोटिल हुए तब भी रायडू के 3 डी वाले ट्वीट पर नाराज होकर चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने रायडू को नहीं चुनकर मयंक अग्रवाल को चुना। यहाँ से रायडू को बुरा लगा और उन्होंने आनन-फानन में संन्यास लेने का ऐलान कर दिया। रायडू को नहीं चुनने को लेकर काफी बाद में एमएसके प्रसाद ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण था।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma
Be the first one to comment