Create

अनिल कुंबले के टेस्ट विकेटों के पास जाकर संन्यास ले लूंगा, उनसे आगे नहीं जाऊंगा: आर अश्विन

क्रिकेट में रिकार्ड्स टूटने के लिए ही बनते हैं और ऐसा होते हुए हम कई बार देखते भी हैं। इसी क्रम में भारतीय ऑफ़ स्पिनर आर अश्विन ने एक बड़ी और तारीफ़ करने वाली बात कही है। उन्होंने पूर्व भारतीय लेग स्पिनर अनिल कुंबले के लिए सम्मान व्यक्त करते हुए कहा कि अगर मैं उनके टेस्ट क्रिकेट में 619 विकेटों के पास 618 तक भी पहुँच जाऊँगा, तो मैं आगे नहीं खेलूँगा और उसी मैच में संन्यास ले लूँगा।

अनिल कुंबले भारतीय टीम के कोच भी रह चुके हैं और अश्विन ने उनसे काफी कुछ सीखा भी है। अश्विन ने कहा कि अनिल कुंबले मेरे लिए सम्माननीय व्यक्ति हैं और मैं अगर टेस्ट क्रिकेट में 618 विकेट लेने में सफल हो जाता हूँ, तो अच्छा लगेगा लेकिन मैं अनिल कुंबले के 619 विकेटों को पार नहीं करूँगा और उसी टेस्ट मैच में संन्यास ले लूँगा। अश्विन का यह बयान अनिल कुंबले के प्रति उनका आदर और महानता को भी दर्शाता है। उन्होंने खुद को कुंबले का बहुत बड़ा फैन बताया। इसके अलावा उन्होंने श्रीलंका के ऑफ़ स्पिनर रंगना हेराथ को लेकर भी कहा कि वे लगातार अनुशासन में गेंदबाजी करते हुए अच्छा कर रहे हैं और वे मेरे आदर्श हैं।

गौरतलब है कि आर अश्विन ने टेस्ट क्रिकेट में बेहद उम्दा गेंदबाजी का प्रदर्शन किया है और मात्र 52 टेस्ट मैचों में 292 विकेटों का आंकड़ा प्राप्त कर लिया है। इसके अलावा वन-डे क्रिकेट में भी उनके नाम 150 विकेट है लेकिन इस प्रारूप में उनका प्रदर्शन कुछ ख़ास नहीं रहा है, इसका अंदाज हम 2015 विश्वकप के बाद उनके द्वारा झटके गए 17 विकेटों से लगा सकते हैं।

पूर्व भारतीय गेंदबाज अनिल कुंबले ने 132 टेस्ट मैचों में 619 विकेट झटके हैं और सबसे अधिक टेस्ट विकेट लेने के मामले में विश्व भर में तीसरे नम्बर पर हैं। इसके अलावा अनिल कुंबले ने वन-डे क्रिकेट में भी 337 विकेट चटकाए हैं। अश्विन द्वारा कुंबले के सम्मान में कही गई बातें उनके आंकड़े बखूबी बयाँ करते हैं।

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment