Create
Notifications

"IPL जैसे टी20 लीग्स बढ़ते रहे तो फिर द्विपक्षीय सीरीजों के अस्तित्व पर आएगा खतरा"- ICC चेयरमैन का बड़ा बयान

खेला जा रहा है IPL का 15वां सीजन (Photo Credit: IPL)
खेला जा रहा है IPL का 15वां सीजन (Photo Credit: IPL)
Neeraj

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) दुनिया की सबसे सफल और मशहूर टी20 लीग है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) इस लीग का आयोजन ऐसे समय में कराती है जब लगभग पूरा इंटरनेशनल कैलेंडर खाली हो। आईपीएल के समय दुनिया के सभी टॉप खिलाड़ी मौजूद रहते हैं और ऐसे में जाहिर तौर पर द्विपक्षीय सीरीज पर असर पड़ता है। अब इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) के चेयरमैन ग्रेग बार्कले (Greg Barclay) ने भी यही बात दोहराई है। बार्कले ने कहा,

घरेलू प्रतियोगिताएं अपने हिसाब से चल सकती हैं। हालांकि, अधिक इवेंट्स और लंबे समय तक चलने वाले टूर्नामेंट्स का असर पड़ेगा क्योंकि साल में केवल 365 दिन ही होते हैं। यदि ऐसे अधिक घरेलू लीग्स होते हैं जो खिलाड़ियों को आकर्षित करेंगे तो इसका असर जरूर पड़ेगा। इसका असर हर साल होने वाले ICC इवेंट्स पर नहीं पड़ेगा बल्कि इसका असर इंटरनेशनल टीमों के बीच होने वाली द्विपक्षीय सीरीज पर पड़ेगा।

पिछले सीजन तक आईपीएल में आठ टीमें खेलती थीं और सीजन में कुल 60 मुकाबले खेले गए थे। हालांकि, इस सीजन की शुरुआत से पहले दो नई टीमों को लीग से जोड़ा गया और इस सीजन कुल 74 मुकाबले खेले जाने थे। दो नई टीमों के आने से 14 मैचों की बढ़ोतरी हुई और साथ ही यह पूरे दो महीने तक चलने वाला इवेंट भी बन गया है।

बार्कले ने IPL की जमकर तारीफ

भले ही बार्कले ने द्विपक्षीय सीरीजों के भविष्य को लेकर चिंता जाहिर की है, लेकिन इसके साथ ही उन्होंने IPL की जमकर तारीफ भी की है। उन्होंने कहा,

दो सालों तक यात्रा नहीं कर पाने के बाद पहली चीज जो मैं कहना चाहूंगा वह यह है कि भारत में आना शानदार है। IPL के सेमीफाइनल और फाइनल के लिए भारत की यात्रा करना मेरे लिए खुशी की बात है। मुझे IPL पसंद है और यह एक शानदार प्रतियोगिता है। मेरा मानना है कि BCCI और भारत ने क्रिकेट के लिए यह शानदार काम किया है।

Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...