ICC Champions Trophy 2017 : टूर्नामेंट के बारे में 20 रोचक तथ्य जो जानना जरुरी

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी का आठवां एडिशन इंग्लैंड एंड वेल्स में जारी है जहां विश्व की टॉप आठ टीमों के बीच ट्रॉफी जीतने का घमासान चल रहा है। हालांकि, अब सेमीफाइनल की राह पूरी तरह साफ हो गई है जहां भारत, पाकिस्तान, इंग्लैंड और बांग्लादेश की टीमें फाइनल में पहुंचने का युद्ध करेंगी। इतने वर्षों में टूर्नामेंट ने कई अनोखे और दिलचस्प रिकॉर्ड्स बनते देखे हैं और हम आज उनमें से 20 विचित्र तथ्य आपके सामने पेश कर रहे हैं, जो आपके लिए जानना बहुत जरुरी है। 20 तथ्य इस प्रकार है : #1 आईसीसी नॉकआउट टूर्नामेंट से आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में परिवर्तित होना टूर्नामेंट के पहले दो एडिशन (1998 और 2000) आईसीसी नॉकआउट के नाम से खेले गए जहां कोई ग्रुप नहीं होते थे और प्रत्येक मैच नॉकआउट की तर्ज पर खेला जाता था। जो भी हारेगा वो टूर्नामेंट से बाहर हो जाता था। 1998 में जहां कुल 8 मैच खेले गए वहीं 2000 में कुल 10 मैच खेले गए। 2002 से टूर्नामेंट का नाम बदलकर आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी रखा गया। #2 एकमात्र एडिशन आईसीसी नॉकआउट- उद्घाटन एडिशन बांग्लादेश में आयोजित किया गया, लेकिन मेजबान एकमात्र देश है, जिसने आयोजन कराया लेकिन टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं लिया। इसका कारण बांग्लादेश का रैंकिंग में निचले स्थान पर रहना था। #3 ख़िताब जीतने वाली पहली टीम 1998 में बांग्लादेश में आयोजित टूर्नामेंट के उद्घाटन एडिशन की विजेता दक्षिण अफ्रीका थी। ये एकमात्र आईसीसी टूर्नामेंट है, जिसमें दक्षिण अफ्रीका ने अब तक जीत दर्ज की है। #4 सर्वाधिक बार ख़िताब जीतने वाली टीमें ऑस्ट्रेलिया (2006 और 2009) और भारत (2002 और 2013) ऐसे दो देश हैं, जिसने दो-दो बार ख़िताब जीते। नोट : 2002 में भारत और श्रीलंका संयुक्त विजेता घोषित किए गए थे। #5 इन देशों को आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी का आयोजन कराना शेष है ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान, वेस्टइंडीज और न्यूजीलैंड क्रिकेट खेलने वाले ऐसे नियमित सदस्य हैं, जिनका चैंपियंस ट्रॉफी आयोजित कराना शेष है। #6 टूर्नामेंट आयोजित कराने के लिए वंचित होने वाला देश आईसीसी ने 2008 एडिशन के आयोजन की जिम्मेदारी पाकिस्तान को सौंपी थी, लेकिन कई देशों ने वहां सुरक्षा चिंताओं का हवाला देते हुए नहीं खेलने का फैसला किया था। आख़िरकार, टूर्नामेंट को एक साल के लिए आगे बढ़ाया गया और 2009 में इसकी मेजबानी दक्षिण अफ्रीका ने की। #7 वेस्टइंडीज सबसे निचली रैंकिंग पर गिरा वेस्टइंडीज का मौजूदा टूर्नामेंट में क्वालीफाई नहीं करने का मतलब हुआ कि टूर्नामेंट के इतिहास में पहली बार कैरीबियाई टीम हिस्सा नहीं ले सकी। वेस्टइंडीज ने 2004 में चैंपियंस ट्रॉफी का ख़िताब जीता जबकि 1998 और 2006 में वो रनर्स अप रही थी। मौजूदा आईसीसी वन-डे टीम रैंकिंग में वो 9वें स्थान पर थी। #8 आश्चर्यजनक एंट्री यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ़ अमेरिका (यूएसए) एकमात्र क्रिकेट का अनियमित सदस्य है, जिसने चैंपियंस ट्रॉफी में हिस्सा लिया। इंग्लैंड में आयोजित 2004 एडिशन में यूएसए ने न्यूजीलैंड के खिलाफ पहला मुकाबला खेला था, जिसमें उसे 210 रन की शिकस्त झेलना पड़ी थी। #9 आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी जल्द ही बंद हो सकती है हो सकता है कि भारत में आयोजित होने वाले 2022 एडिशन के बाद आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी आयोजित कराना बंद कर दे। #10 सर्वाधिक जीत प्रतिशत भारत का टूर्नामेंट में सर्वाधिक जीत प्रतिशत है- 71.42%। भारत ने चैंपियंस ट्रॉफी में 23 मैच खेले, जिसमें से 15 जीत, 6 हारे जबकि दो अनिर्णीत रहे। #11 न्यूनतम जीत प्रतिशत सभी एडिशंस में हिस्सा लेने वाली टीमों के आधार पर टूर्नामेंट के इतिहास में पाकिस्तान की जीत का प्रतिशत न्यूनतम है - 38.88%। #12 एक देश के खिलाड़ियों द्वारा सर्वाधिक शतक लगाए गए अब तक भारतीय खिलाड़ी इस लिस्ट में टॉप पर है, हाल ही में शिखर धवन ने श्रीलंका के खिलाफ शतक बनाया और इसे जोड़ते हुए टूर्नामेंट में कुल 9 शतक भारतीय बल्लेबाजों ने जमाए हैं। #13 पहला शतक चैंपियंस ट्रॉफी के इतिहास में ज़िम्बाब्वे के एलेस्टेयर कैंपबेल के नाम पहला शतक दर्ज है। उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ टूर्नामेंट के उद्घाटन एडिशन में यह कारनामा किया था। #14 पहला प्लेयर ऑफ़ द टूर्नामेंट दक्षिण अफ्रीका 1998 में विजेता बना और उसके ऑलराउंडर जैक्स कैलिस को प्लेयर ऑफ़ द टूर्नामेंट चुना गया। #15 सर्वाधिक अर्धशतक पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली के नाम ये रिकॉर्ड दर्ज है, जिन्होंने 6 फिफ्टी प्लस स्कोर बनाए हैं। #16 सर्वाधिक विकेट न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज काइल मिल्स के नाम ये रिकॉर्ड दर्ज हैं, जिन्होंने 15 मैचों में 18 विकेट चटकाए। #17 सर्वाधिक कैच पूर्व श्रीलंकाई कप्तान महेला जयवर्धने इस लिस्ट में टॉप पर हैं, जिन्होंने 22 मैचों में 15 कैच लपके। #18 सर्वाधिक विकेटकीपिंग डिसमिस्ल्स श्रीलंका के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज कुमार संगकारा ने 22 मैचों में 33 शिकार किए। #19 सर्वाधिक साझेदारी सर्वाधिक साझेदारी का रिकॉर्ड शेन वॉटसन (136*) और रिकी पोंटिंग (111*) के नाम दर्ज हैं, जिन्होंने 2009 में इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे विकेट के लिए 252 रन की अविजित साझेदारी की। #20 सर्वाधिक रन बनाने वाला बल्लेबाज वेस्टइंडीज के विस्फोटक ओपनर क्रिस गेल ने 17 मैचों में 791 रन बनाए। उन्होंने 2006 एडिशन में 474 रन बनाए और इसी वर्ष प्लेयर ऑफ़ द टूर्नामेंट बने।

Edited by Staff Editor