Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

बांग्लादेशी खेमे ने भारतीय टीम की सबसे कमजोर कड़ी युवराज सिंह को माना

ANALYST
Modified 21 Sep 2018, 20:30 IST
Advertisement
भारत और बांग्लादेश के बीच बर्मिंघम में गुरुवार को आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017 का अहम सेमीफाइनल मुकाबला होना है। बांग्लादेश खेमे में इस समय काफी बातचीत चल रही है और वो हर तरीके से विराट कोहली के नेतृत्व वाली भारतीय टीम पर दबाव बनाने का प्रयास कर रही है। इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक बांग्लादेश खेमे का मानना है कि भारतीय टीम की सबसे कमजोर कड़ी युवराज सिंह है और वो उन्हें निशाने पर रखने के लिए तैयार है। बता दें कि बांग्लादेश की टीम युवराज सिंह को धीमा फील्डर मान रही है और वो इसी का पूरा फायदा उठाने की कोशिश में है। इसके साथ ही बांग्लादेश की टीम भारत के खिलाफ चार तेज गेंदबाजों को मौका देने की फ़िराक में है। बांग्लादेशी खेमे की माने तो मशरफे मोर्तज़ा, तास्किन अहमद, रूबेल हुसैन और मुस्ताफिजुर रहमान अपनी गति और आक्रमकता से भारतीय बल्लेबाजी क्रम को तहस-नहस करने की कोशिश करेंगे। यह भी पढ़ें : मैं कुछ और सालों तक भारतीय क्रिकेट की सेवा करना चाहता हूं : युवराज सिंह बांग्लादेश के प्रमुख कोच चंडिका हथुरुसिंघे के मुताबिक बांग्लादेश का तेज गेंदबाजी आक्रमण काफी संतुलित है, जिसमें भारतीय बल्लेबाजी क्रम के परखच्चे उड़ाने की क्षमता है। बांग्लादेश के गेंदबाज भारतीय ओपनर्स और कप्तान विराट कोहली को प्रमुख निशाना बनाएंगे ताकि मध्यक्रम को परख सके कि वो दबाव में प्रदर्शन कर पाएगी या नहीं। एक और चर्चा है कि हथुरुसिंघे का मानना है कि बांग्लादेश की फील्डिंग भारत से बेहतर है, भले ही नतीजे और कैच लेने का प्रतिशत कुछ और ही बयां करते हो। इसके अलावा बांग्लादेश खेमा जोश से लबरेज है और वो भारतीय टीम पर हावी होकर मुकाबला खेलेंगे। बांग्लादेश ने उलटफेर करके न्यूजीलैंड को मात दी और सेमीफाइनल में जगह पक्की की। ये किसी भी आईसीसी टूर्नामेंट में बांग्लादेश का पहला सेमीफाइनल होगा और इससे पहले वो टेंशन मुक्त है। Published 14 Jun 2017, 22:21 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit