महेंद्र सिंह धोनी ने किया खुलासा, कौनसा गेंदबाज उन्हें सबसे खौफनाक लगा

भारतीय टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी ने स्वीकार किया कि उन्हें अपने करियर के दौरान पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर सबसे खौफनाक गेंदबाज लगे। विराट कोहली की फाउंडेशन द्वारा आयोजित डिनर में बात करते हुए 35 वर्षीय विकेटकीपर बल्लेबाज ने मजाक करते हुए कहा कि आईसीसी खुद भी नहीं जानती कि डकवर्थ लुईस नियम किस प्रकार काम करता है। इन सबकी शुरुआत तब हुई जब एमएस धोनी ने होस्ट एलन विलकिंस से पूछा, 'आप्प क्रिकेट में काफी लंबे समय से सक्रिय हैं, इसलिए मैं आपसे एक प्रश्न पूछना चाहता हूं, क्या आप डकवर्थ लुईस नियम समझते हैं?' जब नकारात्मक प्रतिक्रिया आई तो धोनी ने मुस्कुराते हुए कहा, 'मुझे नहीं लगता कि आईसीसी भी डकवर्थ लुईस पद्धति को जानती समझता होगा।' इसके बाद धोनी से पूछा गया कि सबसे ज्यादा मुश्किल किस तेज गेंदबाज का सामना करने में हुई तो पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा, 'सभी तेज गेंदबाजों को खेलना मुश्किल रहा, लेकिन अगर मुझे सिर्फ एक नाम चुनना पड़े तो वो हैं शोएब अख्तर। इनका नाम लेने का आसान कारण ये है कि वो बहुत तेज गेंदबाजी करते थे। वो यॉर्क गेंद कर सकते थे, बाउंसर कर सकते थे। हालांकि आप उनसे कभी बीमर की उम्मीद नहीं कर सकते (जोरदार ठहाका), उनकी गेंदबाजी समझना आसान नहीं था, उनके खिलाफ खेलने में बड़ा मजा आया।' भारत की एजबेस्टन में पाकिस्तान के खिलाफ एकतरफा जीत के बाद कप्तान विराट कोहली की फाउंडेशन द्वारा आयोजित डिनर में टीम इंडिया शामिल हुई। कोचिंग स्टाफ के साथ भारतीय टीम ने इसके माध्यम से फंड इकठ्ठा किया। धोनी को भले ही पाकिस्तान के खिलाफ चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के मैच में बल्लेबाजी करने का मौका नहीं मिला, लेकिन टीम ने चिर-प्रतिद्वंदी के खिलाफ 124 रन की विशाल जीत दर्ज की। बारिश के कारण कई बार मैच बाधित हुआ और अब तक टूर्नामेंट के दो मैच इसकी वजह से रद्द भी हो चुके हैं। धोनी ने अपना दिमाग चलाते हुए डकवर्थ लुईस नियम पर तंज भी कस दिया। भारत को अब अपना अगला मैच गुरुवार को श्रीलंका के खिलाफ खेलना है। टीम इंडिया अच्छी लय में है और वो एशियाई टीम को हराने के लिए अपना पूरा दम लगाएगी।

Edited by Staff Editor