Create
Notifications

वेस्टइंडीज़ को 3-0 से हराने के बाद कोहली एंड कंपनी के पास नंबर-1 बनने का मौक़ा

Syed Hussain

अगले कुछ महीनों में लगातार टेस्ट क्रिकेट खेले जाने हैं। पाकिस्तान क्रिकेट टीम जहां इस वक़्त इंग्लैंड में टेस्ट खेल रही है, तो भारत और वेस्टइंडीज़ के बीच 4 टेस्ट मैचों की सीरीज़ गुरुवार से एंटीगुआ में शुरू होने जा रही है। ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम भी श्रीलंका के ख़िलाफ़ 3 टेस्ट के लिए पहुंच चुकी है। भारतीय क्रिकेट टीम के पास इन टेस्ट सीरीज़ के नतीजों और वेस्टइंडीज़ में शानदार प्रदर्शन करते हुए एक बार फिर टेस्ट की नंबर-1 टीम बनने का मौक़ा है। फ़िलहाल टेस्ट में नंबर-1 का स्थान ऑस्ट्रेलिया के पास है, ऑस्ट्रेलिया 118 अंको के साथ टॉप पर है, तो कोहली एंड कंपनी 112 अंको के साथ दूसरे स्थान पर हैं। पाकिस्तान और इंग्लैंड भी 111 और 108 अंको के साथ इस टेस्ट रैंकिंग में भारी फेरबदल करने की कोशिश में लगे हैं। भारत को अपने से कहीं नीचे 8वें स्थान पर काबिज़ वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ टेस्ट सीरीज़ खेलना है, तो 7वें स्थान पर चल रही श्रीलंका के ख़िलाफ़ ऑस्ट्रेलिया को टेस्ट में दो-दो हाथ करना है। इस स्थिति में भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों को ही भारी अंतर से सीरीज़ जीतनी होगी, ऐसा न करने पर दोनों ही टीमों की स्थिति ख़राब हो सकती है। मसलन भारत को कम से कम 3-0 से वेस्टइंडीज़ को हराना होगा, 2-0 या 3-1 से सीरीज़ जीतने पर टीम इंडिया को 2 अंको का नुक़सान हो जाएगा। अगर भारत ने वेस्टइंडीज़ का सूपड़ा साफ़ किया, तभी उन्हें एक अंक मिलेगा। वहीं वेस्टइंडीज़ के पास सुनहरा मौक़ा होगा अगर भारत के ख़िलाफ़ कैरेबियाई टीम 2-0 या 3-1 से जीत दर्ज करती है तो उन्हें 14 अंको का फ़ायदा होगा। अगर सीरीज़ ड्रॉ कर पाने में भी वेस्टइंडीज़ की टीम क़ामयाब हो जाती है तो भारत 98 अंको के साथ नंबर-4 पर खिसक जाएगा। ठीक इसी तरह ऑस्ट्रेलिया को भी श्रीलंका को कम से कम 2-0 के अंतर से शिकस्त देनी होगी, तभी वह 118 अंको के साथ बनी रहेगी। अगर श्रीलंका ने सीरीज़ 1-0 से जीत ली, तो ऑस्ट्रेलिया के 111 अंक हो जाएंगे और वह अपना नंबर-1 का स्थान भारत के हाथों खो देगी। भारत के नज़रिए से देखें तो टीम इंडिया को नंबर-1 बनने के लिए वेस्टइंडीज़ को कम से कम 3-0 से हराना होगा, फिर ये उम्मीद करनी होगी कि श्रीलंका के हाथो ऑस्ट्रेलिया की हार हो। साथ ही साथ भारत की नज़र इंग्लैंड और पाकिस्तान टेस्ट सीरीज़ पर भी होगी, जहां अगर जीत इंग्लैंड की होती है या सीरीज़ ड्रॉ होती है तो एक बार फिर भारत टेस्ट में नंबर-1 की पोजिशन हासिल कर लेगा। टीम इंडिया ने आख़िरी बार इसी साल फरवरी में टेस्ट में नंबर-1 रैंकिंग हासिल की थी। टेस्ट रैंकिंग

रैंक टीम प्वाइंट्स
1 ऑस्ट्रेलिया 118
2 भारत 112
3 पाकिस्तान 111
4 इंग्लैंड 108
5 न्यूजीलैंड 98
6 दक्षिण अफ्रीका 92
7 श्रीलंका 85
8 वेस्टइंडीज 65
9 बांग्लादेश 57

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...