Create

पाकिस्तान के खिलाफ भारत की वर्ल्ड कप में एक और जीत को लेकर कप्तान ने दिया बड़ा बयान

भारतीय महिला टीम ने जबरदस्त जीत हासिल की (Photo Credit - BCCI)
भारतीय महिला टीम ने जबरदस्त जीत हासिल की (Photo Credit - BCCI)
reaction-emoji
Nitesh

भारतीय महिला टीम (India Womens Team) ने पाकिस्तान को वुमेंस वर्ल्ड कप (Womens odi World Cup) के मुकाबले में 107 रनों से आसानी से हरा दिया। भारतीय टीम की पाकिस्तान के खिलाफ वर्ल्ड कप में ये चौथी जीत है। आज तक पाकिस्तान की महिला टीम भारत को वर्ल्ड कप में कभी नहीं हरा पाई है। भारत ने एक और जबरदस्त जीत हासिल की और अपने वर्ल्ड कप अभियान का शानदार तरीके से आगाज किया। इसके बाद कप्तान मिताली राज (Mithali Raj) ने बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने टॉप ऑर्डर के परफॉर्मेंस को लेकर निराशा जताई।

भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट पर 244 रन बनाए। जवाब में पाकिस्तान की टीम 43 ओवर में 137 रन बनाकर आउट हो गई। भारतीय टीम की इस शानदार जीत के बाद कप्तान मिताली राज ने बड़ा बयान दिया। उन्होंने टीम की जीत पर खुशी जताई लेकिन साथ ही सुधार की गुंजाइश भी बताई।

भारतीय टीम की पाकिस्तान के खिलाफ जबरदस्त जीत को लेकर मिताली राज का बड़ा बयान

मिताली राज ने मैच के बाद कहा "टीम को मिली पहली जीत से मैं खुश हूं लेकिन अभी काफी सुधार करना बाकी है। जब आप मिडिल ऑर्डर में विकेट गंवा देते हैं तो उससे काफी दबाव आ जाता है। इस तरह के टूर्नामेंट्स में टॉप ऑर्डर को रन बनाने होंगे।"

आपको बता दें कि भारतीय टीम की तरफ से बैटिंग में स्मृति मंधाना, स्नेह राणा और पूजा वास्त्रकर ने बेहतरीन प्रदर्शन किया। स्मृति मंधाना ने 52 रनों की बेहतरीन पारी खेली। हालांकि इसके बावजूद भारतीय टीम ने सिर्फ 112 रन तक ही अपने पांच अहम विकेट गंवा दिए थे।

ऐसा लगा कि भारतीय टीम ज्यादा बड़ा स्कोर नहीं बना पाएगी और जल्द ही आउट हो जाएगी। हालांकि पूजा वास्त्रकर और स्नेह राणा ने इसके बाद जबरदस्त बल्लेबाजी की। दोनों ही खिलाड़ियों ने सातवें विकेट के लिए मिलकर 122 रनों की जबरदस्त साझेदारी की। वुमेंस वर्ल्ड कप के इतिहास में ये सातवें विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी है। वहीं महिला वनडे में भी ये सातवें विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी का रिकॉर्ड है।


Edited by Nitesh
reaction-emoji

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...