Create
Notifications

क्रिकेट न्यूज: श्रीसंत ने सुप्रीम कोर्ट से की अपनी सजा कम करने की मांग 

Enter caption
मयंक मेहता

आजीवन प्रतिबंध झेल रहे श्रीसंत ने सुप्रीम कोर्ट से मांग की है कि उनकी सजा काफी सख्त है और उन्हें मैदान में वापसी की इजाजत दी जानी चाहिए क्योंकि अब समय उनके हाथ से निकल रहा है। वरिष्ठ वकील सलमान खुर्शिद ने श्रीसंत के स्थान पर जस्टिस अशोक भूषण और अजय रस्तोगी से कहा कि ट्रायल कोर्ट ने श्रीसंत को स्पॉट फिक्सिंग मामले में बरी कर दिया था। अब उनके ऊपर से आजीवन प्रतिबंध को हटाया जाए और उन्हें क्रिकेट खेलने की इजाजत दी जाए।

आपको बता दें कि साल 2013 में हुए आईपीएल में श्रीसंत के साथ अजित चंडीला और अंकित चव्हान के ऊपर स्पॉट फिक्सिंग के आरोप लगे थे और उन्हें गिरफ्तार भी कर लिया गया था। इसके बाद बीसीसीआई ने उनके ऊपर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया। भले ही श्रीसंत को दिल्ली के कोर्ट से क्लीन चिट मिल चुकी है, लेकिन बीसीसीआई ने अबतक उनके ऊपर से प्रतिबंध नहीं हटाया है।

सलमान खुर्शिद ने कहा, "आजीवन प्रतिबंध काफी सख्त सजा है, वो 36 साल के हो चुके हैं। वो बैन के कारण लोकल क्लब क्रिकेट भी नहीं खेल सकते हैं। उन्हें क्रिकेट खेलनी है, इंग्लैंड से ऑफर भी मिल रहा है, लेकिन जबतक उनके ऊपर से बैन नहीं हटेगा वे नहीं खेल पाएंगे।"

इसके अलावा खुर्शिद ने यह भी कहा कि किसी भी खिलाड़ी को इतनी कठोर तरीके से ट्रीट नहीं किया गया है। यहां तक कि उन्होंने पूर्व भारतीय कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन के केस का भी उदाहरण दिया कि जब उनके मामले में फैसले को बदला जा सकता है, तो श्रीसंत के केस में ऐसा क्यों नहीं हो सकता।

हालांकि अशोक भूषण और अजय रस्तोगी ने दिल्ली हाई कोर्ट से पहले इस मामले पर रुख साफ करने के लिए कहा और सुनवाई को जनवरी के तीसरे हफ्ते तक स्थगित किया।

श्रीसंत इस समय मशहूर टीवी शो बिग बॉस का हिस्सा हैं, जहां पर उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोपों को बेबुनियाद बताया। हालांकि देखना होगा कि श्रीसंत के ऊपर से बैन हटता है या नहीं और क्या वो एक बार फिर क्रिकेट मैदान पर वापसी कर पाएंगे।

पढ़िए क्रिकेट की ब्रेकिंग न्यूज समेत दिनभर की तमाम बड़ी खबरें


Edited by मयंक मेहता

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...