Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

INDvAUS: 12 साल के शानदार रिकॉर्ड को बरक़रार रखने उतरेगी भारतीय टीम

  • पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में पहली बार खेला जा रहा है टेस्ट, ऑस्ट्रेलिया ने भारत में आखिरी जीत 2004 में हासिल की थी
FEATURED WRITER
Modified 21 Sep 2018, 21:19 IST

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 23 फरवरी से पुणे में चार टेस्ट मैचों की सीरीज शुरू हो रही है। भारतीय टीम के मौजूदा घरेलू सीजन में ऑस्ट्रेलिया चौथी और आखिरी मेहमान टीम है। इससे पहले भारत ने इस सीजन में शानदार प्रदर्शन करते हुए सबसे पहले न्यूजीलैंड को टेस्ट और एकदिवसीय सीरीज, इंग्लैंड को टेस्ट, एकदिवसीय और टी20 सीरीज एवं बांग्लादेश को एकमात्र टेस्ट में हराया। अब भारत की नज़रें चार टेस्ट मैचों की सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को हराने पर होगी। अगर भारत में ऑस्ट्रेलिया के रिकॉर्ड की बात करें तो उन्होंने 2004 के नागपुर टेस्ट में जीत हासिल करने के बाद एक भी मैच नहीं जीता है। भारतीय टीम 12 साल के इस रिकॉर्ड को बरक़रार रखने के इरादे से पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में उतरेगी। ऑस्ट्रेलिया ने पिछले 12 साल में भारत में 11 टेस्ट खेले हैं, जिसमें से उन्हें 9 टेस्ट मैचों में हार का सामना करना पड़ा है और दो मैच ड्रॉ हुए हैं। पुणे के इस मैदान पर पहली बार टेस्ट मैच का आयोजन किया जा रहा है और भारत में टेस्ट मैच आयोजित करने वाला ये 25वां ग्राउंड होगा। अगर टीमों की बात करें तो भारतीय टीम बांग्लादेश के खिलाफ हैदराबाद में मिली जीत के बाद शायद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट में एक बदलाव करे। भुवनेश्वर कुमार की जगह ऑफ स्पिनर जयंत यादव को इस टेस्ट में मौका दिया जा सकता है। मुरली विजय के साथ केएल राहुल ओपनिंग करेंगे और उसके बाद पुजारा, कप्तान कोहली, अजिंक्य रहाणे और ऋद्धिमान साहा का नंबर आएगा। स्पिन गेंदबाजी में अश्विन और जडेजा का साथ जयंत यादव देंगे और तेज़ गेंदबाजी आक्रमण की जिम्मेदारी उमेश यादव और इशांत शर्मा के पास होगी। टेस्ट से पहले भारतीय कप्तान कोहली ने कोच अनिल कुंबले की जमकर तारीफ की है। इसके अलावा उन्होंने टीम के बल्लेबाजों को मिचेल स्तरक से सतर्क रहने की भी सलाह दी है। ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ ने अपनी टीम को 'अंडरडॉग' माना है और कहा कि उनकी टीम भारत को कड़ी टक्कर देगी। अगर ऑस्ट्रेलियाई टीम की बात करें तो भारत ए के खिलाफ अभ्यास मैच में शतक लगाने वाले शॉन मार्श को टीम में जगह मिल सकती है और ऐसे में उस्मान खवाज़ा को बाहर बैठना पड़ सकता है। डेविड वॉर्नर के साथ ओपनिंग की जिम्मेदारी मैट रेंशॉ के पास रहेगी। कप्तान स्टीव स्मिथ के अलावा फॉर्म में चल रहे पीटर हैंड्सकॉम्ब मध्यक्रम को मजबूती प्रदान करेंगे। विकेटकीपर मैथ्यू वेड भी बल्लेबाजी में अपना योगदान देना चाहेंगे। तेज़ गेंदबाजी की जिम्मेदारी मिचेल स्टार्क के साथ जोश हेज़लवुड के पास होगी। ऐसे में जैक्सन बर्ड को बाहर बैठना पड़ सकता है। स्पिन गेंदबाजी में नाथन लायन का साथ स्टीव ओ'कीफ देंगे और एश्टन एगर के साथ मिचेल स्वेपसन को बाहर बैठना पड़ सकता है। ऑलराउंडर में ग्लेन मैक्सवेल के ऊपर मिचेल मार्श को तरजीह दी जा सकती है। अगर पुणे के पिच की बात करें तो यहाँ स्पिनरों को स्लो टर्न मिल सकता है और इसी कारण से ऑस्ट्रेलिया तीसरे स्पिनर को भी खिलाने का सोच सकती है। इसके अलावा तेज़ गेंदबाजों लो रिवर्स स्विंग भी मिलने की उम्मीद है। सुबह 9 बजे टॉस होने के बाद कल मैच 9.30 बजे से शुरू होगा।

Published 22 Feb 2017, 21:14 IST
Advertisement
Fetching more content...