Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

भारत के खिलाफ सबसे बड़ा हथियार साबित हो सकते हैं जोश हेज़लवुड: ग्लेन मैकग्रा

  • ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज तेज़ गेंदबाज़ ग्लेन मैकग्रा ने की अपनी प्रतिक्रिया ज़ाहिर
CONTRIBUTOR
Modified 21 Sep 2018, 21:27 IST

इस महीने के आखिर में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच शुरू होने वाली चार टेस्ट मैचों की सीरीज को लेकर ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के पूर्व दिग्गज तेज़ गेंदबाज़ ग्लेन मैकग्रा ने अपनी प्रतिक्रिया ज़ाहिर की है। उन्होंने भरोसा जताया है कि ऑस्ट्रेलिया के भारत दौरे पर तेज़ गेंदबाज़ जोश हेज़लवुड ऑस्ट्रेलियाई टीम का सबसे बड़ा हथियार साबित हो सकते हैं। अपने समय के सबसे बेहतरीन तेज़ गेंदबाज़ ग्लेन मैकग्रा ने cricket.com.au के हवाले से कहा "जोश हेज़लवुड का कद काफी लम्बा है, साथ ही वह शक्तिशाली भी हैं, उनमे काफी उर्जा है, जहां वह गेंद को कहीं भी पटक सकते हैं" इसके साथ ही पूर्व ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने कहा "वह काफी समय तक अच्छी दिशा के साथ गेंदबाजी करते हैं और वह बाउंस गेंदों पर भी शानदार तरीके से कार्य करते हैं" "मुझे लगता है कभी-कभी वह स्विंग गेंदों पर कार्य करते हैं और कुछ देर के लिए बाउंसर लगाना बंद कर देते हैं, अगर एक बार वो अपने कार्य में सफल हो गए तो, इसमें कोई दो राय नहीं कि हेज़लवुड भारत के खिलाफ अच्छा कर सकते हैं": ग्लेन मैकग्रा ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज़ गेंदबाज़ ने भारतीय परिस्थितियों में खेलने को लेकर अपनी टीम के बल्लेबाजों को भी खेलने का तरीका सुझाया है। उन्होंने अपनी टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज़ मैथ्यू हेडन का उदाहरण पेश करते हुए कहा कि ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ भारत के खिलाफ स्वीप शॉट खेलें जैसा कि मैथ्यू हेडन खेला करते थे। उन्होंने कहा "आपको स्कोर बनाने की रणनीति पर ध्यान देना चाहिए और इसके लिए मेरे हिसाब से ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज़ मैथ्यू हेडन सबसे अच्छा उदहारण हैं, जब उन्होंने शुरुआत की थी तब वह स्वीप शॉट ढंग से नहीं खेल पाते थे, लेकिन उन्होंने स्वीप शॉट का जमकर अभ्यास किया और वह गेंद को स्वीप करने वाले बेहतरीन बल्लेबाज़ बन गए, जिसके बाद स्पिनरों के विरुद्ध स्वीप शॉट उनका सबसे बड़ा हथियार साबित हुआ, खासकर उप-महाद्वीप की पिचों पर" आपको बता दें कि ऑस्ट्रेलियाई टीम इस माह भारत का दौरा करेगी जहां वह चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी। दोनों टीमों के बीच सीरीज का पहला टेस्ट मैच 23 फरवरी से पुणे में खेला जाएगा। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले भारतीय टीम बांग्लादेश के खिलाफ एकमात्र टेस्ट मैच खेलेगी। उल्लेखनीय है कि बांग्लादेश इस वक़्त आईसीसी विश्व टेस्ट रैंकिंग में नौंवें पायदान पर है, वहीँ भारतीय टीम इस कतार में सबसे ऊपरी क्रम पर बनी हुई है। इसके अलावा मुश्फिकुर रहीम की कप्तानी में भारतीय ज़मीं पर बांग्लादेश का यह पहला टेस्ट मैच होगा। भारत और बांग्लादेश के बीच एक मात्र टेस्ट मैच 9 फरवरी से हैदराबाद में खेला जाएगा। उसके बाद भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी। बाद में भारत आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी खेलने के लिए इंग्लैंड रवाना होगा।

Published 08 Feb 2017, 13:45 IST
Advertisement
Fetching more content...