क्रिकेट

INDvAFG, एकमात्र टेस्ट: पहले दिन बने सभी आंकड़ों पर एक नज़र

टेस्ट खेलने वाली 13वीं टीम बनी अफगानिस्तान, शिखर धवन और मुरली विजय का शतक

बैंगलोर में आज से भारत और अफगानिस्तान के बीच ऐतिहासिक टेस्ट मैच की शुरुआत हुई। पहले दिन भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया और शिखर धवन एवं मुरली विजय ने शानदार शतकीय पारियां खेलकर टीम को मजबूत शुरुआत दिलाई। पहले दिन स्टंप्स तक भारत ने 347/6 का स्कोर बना लिया है। केएल राहुल ने भी अर्धशतकीय पारी खेली। कल भारतीय टीम की निगाहें 400 का आंकड़ा पार करने पर होगी। गौरतलब है कि यह अफगानिस्तान का पहला टेस्ट है।

आइये नज़र डालते हैं पहले दिन बने सभी आंकड़ों पर:


# टेस्ट खेलने वाला 13वां देश बना अफगानिस्तान।

# भारत के खिलाफ अपना पहला टेस्ट खेलने वाला चौथा देश बना अफगानिस्तान। इससे पहले पाकिस्तान (1952), ज़िम्बाब्वे (1992) और बांग्लादेश (2000) ने अपना पहला टेस्ट भारत के खिलाफ खेला था।


# भारत में पहली बार कोई टेस्ट मैच जून में आयोजित किया जा रहा है। अब सिर्फ मई और जुलाई ही दो ऐसे महीने हैं, जिसमें भारत ने किसी टेस्ट की मेजबानी नहीं की है।

# मुजीब-उर-रहमान ने 17 साल 78 दिन की उम्र में अपना टेस्ट डेब्यू किया और अपने देश के पहले ही टेस्ट में खेलने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बने। इससे पहले यह रिकॉर्ड पाकिस्तान के हनीफ मोहम्मद (17 साल 300 दिन) के नाम था। इसके अलावा पिछले 100 सालों में पहला प्रथम श्रेणी मैच टेस्ट के तौर पर खेलने वाले छठे खिलाड़ी बने मुजीब, उनसे पहले यह रिकॉर्ड ग्राहम विवियन (न्यूजीलैंड, 1964), उजेश रणछोड़ (ज़िम्बाब्वे, 1992-93), मशरफे मोर्तज़ा (बांग्लादेश, 2001-02), यासिर अली (पाकिस्तान, 2003) और नजमुल होसैन (बांग्लादेश, 2004-05) के नाम था।

# 21वीं सदी में पैदा होकर टेस्ट डेब्यू करने वाले पहले दो खिलाड़ी बने मुजीब-उर-रहमान और वफादार।

# दिनेश कार्तिक ने आठ साल और 87 टेस्ट मैचों के बाद टीम में वापसी की और नया भारतीय रिकॉर्ड बनाया। इससे पहले रिकॉर्ड पार्थिव पटेल (83 टेस्ट) के नाम था।

# शिखर धवन ने अपना सातवां शतक लगाया और पहले दिन लंच से पहले शतक पूरा करने वाले विश्व के सिर्फ छठे बल्लेबाज बने। उनसे पहले यह रिकॉर्ड विक्टर ट्रम्पर (vs इंग्लैंड, 1902), चार्ल्स मैकार्टनी (vs इंग्लैंड, 1921), डॉन ब्रैडमैन (vs इंग्लैंड, 1930), माजिद खान (vs न्यूज़ीलैंड, 1976) और डेविड वॉर्नर (vs पाकिस्तान, 2017) के नाम था। भारत की तरफ से पिछला रिकॉर्ड वीरेंदर सहवाग (99 vs वेस्टइंडीज, 2006) के नाम था।

# शिखर धवन ने तीसरी बार एक सेशन के अंदर 100 रन बनाये। इस मामले में विश्व रिकॉर्ड डॉन ब्रैडमैन (6) के नाम है।

# शिखर धवन ने अपने 107 में से 94 रन बाउंड्री से लगाये और 87.85 प्रतिशत के साथ 100 से ज्यादा रन बनाने के मामले में विश्व रिकॉर्ड बनाया।

# मुरली विजय ने अपना 12वां टेस्ट शतक लगाया और यह सभी शतक उन्होंने पहली पारी में लगाये हैं। दूसरी पारी में बिना शतक लगाये सबसे ज्यादा का विश्व रिकॉर्ड  मुरली विजय के नाम है।

# शिखर धवन और मुरली विजय ने पहले विकेट के लिए 168 रनों की साझेदारी निभाई।

# केएल राहुल (54) ने अपना 11वां अर्धशतक लगाया। 2016 में चेन्नई टेस्ट में इंग्लैंड के खिलाफ 199 रनों की पारी खेलने के बाद राहुल ने एक भी शतक लगाये बिना 10 अर्धशतक लगाये हैं।

# अफगानिस्तान की तरफ से पहला टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाज बने यामिन अहमदज़ाई। उन्होंने शिखर धवन को आउट करके यह रिकॉर्ड बनाया। इसके अलावा वह अफगानिस्तान की तरफ से टेस्ट क्रिकेट में पहला गेंद फेंकने वाले गेंदबाज भी बने।

# अफगानिस्तान के सभी 11 खिलाड़ियों ने अपना डेब्यू किया - असग़र स्टैनिकज़ाई (कप्तान), मोहम्मद शहज़ाद, जावेद अहमदी, रहमत शाह, हस्मतुल्लाह शाहिदी, अफ़सर ज़ज़ाई, मोहम्मद नबी, राशिद खान, मुजीब-उर-रहमान, यामिन अहमदज़ाई और वफादार।

# अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में भारतीय टीम का यह दूसरा टेस्ट है। इससे पहले 2017 में उन्होंने धर्मशाला में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टीम की कप्तानी की थी।

# इंग्लैंड के खिलाफ 1961 में हुए ब्रेबर्न (मुंबई) टेस्ट के बाद पहली बार तमिलनाडु के तीन क्रिकेटरों ने भारत के लिए एक ही टेस्ट में शिरकत की। बैंगलोर टेस्ट में मुरली विजय, दिनेश कार्तिक और रविचंद्रन अश्विन ने यह रिकॉर्ड बनाया। 1961 में इंग्लैंड के खिलाफ भारत की टीम में मद्रास के एजी मिल्खा सिंह, एजी कृपाल सिंह और वामन कुमार खेले थे।