Create

भारतीय टीम के तीन सपोर्ट स्टाफ सदस्य RTPCR टेस्ट में संक्रमित पाए गए

रवि शास्त्री के लेटरल फ्लो टेस्ट भी संक्रमित पाया गया था
रवि शास्त्री के लेटरल फ्लो टेस्ट भी संक्रमित पाया गया था

भारतीय टीम (Indian Team) के मुख्य कोच रवि शास्त्री, फील्डिंग कोच आर श्रीधर और गेंदबाजी कोच भरत अरुण का आरटीपीसीआर टेस्ट पॉजिटिव आया है। तीनों सदस्यों को अब 10 दिन के लिए क्वारंटीन में रहना पड़ सकता है। इससे पहले रवि शास्त्री के संक्रमित होने की खबरें आई थी लेकिन अब स्थिति और ज्यादा साफ हो गई है। इंग्लैंड के खिलाफ चौथे टेस्ट (IND vs ENG) के चौथे दिन भी सभी आइसोलेशन में थे।

एएनआई ने अपने सूत्र के हवाले से कहा है कि ये तीनों सपोर्ट स्टाफ के सदस्य अब आइसोलेशन में रहेंगे और वह बाहर तभी आएँगे जब दो बार आरटीपीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट नेगेटिव न आ जाए।

ओवल टेस्ट मैच के चौथे दिन का खेल शुरू होने से पहले ही बीसीसीआई ने एक अहम घोषणा करते हुए बताया था कि रवि शास्त्री का कोरोना टेस्ट संक्रमित पाया गया है। भरत अरुण, श्रीधर और फिजियो नितिन पटेल को सावधानी बरतने के लिए आइसोलेशन में भेजा गया था। अब नितिन पटेल के अलावा बाकी तीनों के टेस्ट पॉजिटिव आए हैं।

चौथे दिन इन सभी का ड्रेसिंग रूम में नहीं होना टीम को खला होगा।बैटिंग कोच विक्रम राठौड़ ने कहा था कि निश्चित रूप से हम रवि भाई को काफी मिस कर रहे हैं। रवि भाई, आर श्रीधर और भरत अरुण टीम के सेटअप में अहम भाग हैं। उन सभी ने पिछले पांच-छह सालों में टीम के प्रदर्शन में मुख्य भूमिका निभाई है।

राठौड़ ने यह भी कहा कि रवि भाई शनिवार की रात को थोड़ा असहज महसूस कर रहे थे। मेडिकल टीम ने लेटरल फ्लो टेस्ट कराने का निर्णय लिया। यह टेस्ट पॉजिटिव आया और उनके करीबी सम्पर्क में आने वाले लोगों की पहचान की गई और आइसोलेशन का काम किया गया।

उल्लेखनीय है कि चौथे दिन के खेल में सपोर्ट स्टाफ टीम इंडिया के साथ नहीं था। इस दौरान भारतीय टीम ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड को 368 रन का लक्ष्य दिया। हालांकि इंग्लैंड ने भी उसी तरह से जवाब देते हुए भारतीय टीम को कोई विकेट नहीं लेने दिया और बिना किसी नुकसान के 77 रन बनाए।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma
Be the first one to comment