Create

सौरव गांगुली ने लॉर्ड्स में टेस्ट मैच देखते हुए पुरानी यादों को ताजा किया

बीसीसीआई (BCCI) अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) इस समय लॉर्ड्स में भारत और इंग्लैंड के बीच दूसरे टेस्ट (IND vs IND) मैच को देख रहे हैं। पहले दिन के खेल का आनंद लेते हुए पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज ने क्रिकेट के मक्का में अपने टेस्ट करियर की शुरुआत में शतक लगाया था और एक बार फिर से उन्हें पुरानी यादें ताजा हो गई होंगी।

अपने इंस्टाग्राम पर चार तस्वीरों का एक कोलाज साझा करते हुए सौरव गांगुली ने लॉर्ड्स में भारत के लिए अपने पहले टेस्ट मैच को याद किया। इसके बाद उन्होंने उल्लेख किया कि कैसे वह भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी करते हुए इस स्थल पर कुछ यादगार पलों का हिस्सा बने।

दादा ने लिखा कि खिलाड़ी के रूप में 1996 में यहां आया था और फिर कप्तान के रूप में आया। लॉर्ड्स में एक प्रशासक के रूप में आज के खेल का आनंद लिया। भारत हर समय एक अच्छी स्थिति में था। क्रिकेट का यह खेल प्रभावशाली है।

सौरव गांगुली का पोस्ट इंस्टाग्राम पर वायरल हो गया है, जिसे एक घंटे के भीतर 50,000 से अधिक लाइक और 350 कमेंट मिले हैं। लॉर्ड्स क्रिकेट ग्राउंड के आधिकारिक इंस्टाग्राम हैंडल ने बीसीसीआई अध्यक्ष के लिए एक कमेन्ट किया। इसमें लिखा था कि आपका वापस स्वागत है सौरव।

सौरव गांगुली ने क्रिकेट के मक्का में खेलते हुए काफी सफलता हासिल की। उन्होंने लॉर्ड्स में अपने करियर का पहला टेस्ट मैच खेला और शतक लगाया। गांगुली ने 301 गेंदों में 131 रन बनाए और इंग्लैंड के खिलाफ 1996 के लॉर्ड्स टेस्ट में भारत को पहली पारी में बढ़त दिलाने में मदद की।

टीम इंडिया विराट कोहली के नेतृत्व में इस समय इंग्लैंड में है और भारतीय ओपनरों ने बेहतरीन शुरुआत की। रोहित शर्मा और केएल राहुल ने मिलकर पहले विकेट के लिए 126 रन जोड़े। हालांकि रोहित शर्मा शतक नहीं बना पाए और 83 रनों के निजी स्कोर पर आउट हो गए।

भारतीय ओपनरों ने जनवरी 2011 के बाद पहली बार एशिया के बाहर टेस्ट क्रिकेट में शतकीय साझेदारी निभाई। इससे पहले सेंचुरियन में वीरेंदर सहवाग और गौतम गंभीर ने 2010 में शतकीय साझेदारी करते हुए 137 रन जोड़े थे।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma
Be the first one to comment