Create
Notifications

"यह कुछ ऐसा नहीं है जिसके लिए आप एक गेंदबाज के रूप में योजना बना सकते हैं", अनिल कुंबले ने एजाज पटेल के 10 विकेट को लेकर दी प्रतिक्रिया 

अनिल कुंबले ने एजाज पटेल की सराहना की
अनिल कुंबले ने एजाज पटेल की सराहना की
Prashant Kumar

न्यूजीलैंड के स्पिनर एजाज पटेल (Ajaz Patel) ने मुंबई टेस्ट (IND vs NZ) के दूसरे दिन भारत की पहली पारी के दौरान सभी विकेट लेकर इतिहास रच दिया और टेस्ट क्रिकेट में ऐसा करने वाले वह तीसरे गेंदबाज बन गए। इस खास क्लब में दूसरे गेंदबाज के रूप में शामिल भारत के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी अनिल कुंबले (Anil Kumble) ने भी पटेल की इस खास उपलब्धि पर प्रतिक्रिया दी है।

टाइम्स ऑफ़ इंडिया से बातचीत करते हुए कुंबले ने कीवी गेंदबाज की ऐतिहासिक उपलब्धि पर अपने विचार व्यक्त किये। उन्होंने बताया कि कैसे एक गेंदबाज के लिए यह संभव नहीं है कि वह विपक्षी टीम के सभी बल्लेबाजों को आउट करने की योजना बना सके।

कुंबले ने यह भी कहा कि इस तरह की उपलब्धि में किस्मत की भी अहम भूमिका होती है। कुंबले ने 1999 में पाकिस्तान के खिलाफ दिल्ली टेस्ट में यह उपलब्धि हासिल की थी और वह जिम लेकर के बाद ऐसा करने वाले दूसरे गेंदबाज बन गए थे।

कुंबले ने कहा,

यह ऐसा कुछ नहीं है जिसके लिए आप एक गेंदबाज के रूप में योजना बना सकते हैं। निश्चित तौर पर, आप हर बल्लेबाज के लिए योजना बनाते हैं, लेकिन आप कभी भी यह सोचकर बाहर नहीं जाते हैं कि आप सभी दस विकेट लेने जा रहे हैं। यह सिर्फ भाग्य की बात है, उन चीजों में से एक है जो क्रिकेट के मैदान पर होती हैं। इसमें बहुत मेहनत लगती है, हां, लेकिन दूसरी चीजों को भी जगह में लाने की जरूरत है। कोई गेंदबाज ऐसी गेंदबाजी कर सकता है, लेकिन सभी कैच हाथ में जाने की जरूरत है, फील्डर्स को उन कैच को लेने की जरूरत है। आज एजाज के साथ ऐसा ही हुआ, जैसा मेरे साथ हुआ था।

कुंबले ने यह भी कहा कि परफेक्ट 10 लेने का मौका पाने के लिए लंबे स्पैल करने पड़ते हैं। साथ ही इस बात का भी उल्लेख किया कि यही कारण हो सकता है कि तीनों गेंदबाज जिनके नाम पर शानदार उपलब्धि है, वे स्पिन गेंदबाज हैं, क्योंकि पेसर आमतौर पर लंबे स्पैल नहीं फेंक सकते हैं। कुंबले ने आगे कहा,

जाहिर है, आपको लंबे समय तक गेंदबाजी करनी चाहिए। मुझे पता है कि परफेक्ट टेन क्लब के तीनों सदस्य स्पिनर हैं, शायद इसका इससे कुछ लेना-देना है। एक तेज गेंदबाज एक एक साथ में चार या पांच विकेट ले सकता है, लेकिन कई तेज गेंदबाज स्पिनरों की तरह 15 या 20 ओवर के स्पैल नहीं कर सकते। दूसरी ओर, आप एक पारी में केवल दस विकेट प्राप्त कर सकते हैं यदि आप एक ओपनिंग बल्लेबाज के विकेट से शुरुआत करते हैं। जब एजाज ने पहला विकेट लिया तब भारत का स्कोर 80 था।

मेरे 10 विकेट लेने बाद बाद हर कोई इसकी उम्मीद करने लगा - अनिल कुंबले

महान स्पिनर ने खुलासा किया कि कैसे 1999 में फिरोज शाह कोटला में ऐतिहासिक प्रदर्शन के बाद उन्हें बहुत सारी उम्मीदों का सामना करना पड़ा। उन्होंने भविष्यवाणी की कि भारत के खिलाफ उनके शानदार प्रदर्शन के बाद पटेल का जीवन भी बदलने के लिए तैयार है, खासकर क्योंकि यह उनके जन्मस्थान, मुंबई में आया। उन्होंने कहा,

मेरी जिंदगी बदल गई। मेरे 10 विकेट लेने के बाद हर कोई इसकी उम्मीद करने लगा। शायद एजाज के लिए, न्यूजीलैंड में इस तरह की उम्मीदें नहीं होंगी, लेकिन यह आश्चर्यजनक है कि उन्होंने इसे हासिल किया और मुझे यकीन है कि उनका जीवन इस मामले में बदल जाएगा कि कैसे परफेक्ट 10 उन्होंने लिया, जिसके लिए वह जाना जाएगा। अपने जन्म स्थान मुंबई में, सभी दस विकेट प्राप्त करना बड़ी बात है।

Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...