Create

"इशान किशन का प्रदर्शन टीम मैनेजमेंट को रोहित के जोड़ीदार के रूप में सोचने पर मजबूर कर सकता है" - दिग्गज खिलाड़ी ने दी प्रतिक्रिया

इशान किशन ने मौके को पूरी तरह से भुनाया
इशान किशन ने मौके को पूरी तरह से भुनाया

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज (IND vs SA) में कई भारतीय बल्लेबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया और उनमें एक नाम युवा बल्लेबाज इशान किशन (Ishan Kishan) का भी है। किशन के शानदार प्रदर्शन के बाद आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने बड़ी प्रतिक्रिया दी है। चोपड़ा को लगता है कि इशान का शानदार प्रदर्शन भारतीय टीम मैनेजमेंट को केएल राहुल (KL Rahul) के बजाय रोहित शर्मा (Rohit Sharma) के ओपनिंग जोड़ीदार के रूप में उनके नाम पर विचार करने के लिए मजबूर कर सकता है।

इशान किशन ने सीरीज के सभी पांच मैचों में बतौर ओपनर खेलते हुए 41.20 की औसत और 150 से भी अधिक के स्ट्राइक रेट से 206 रन बनाये। वह सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी रहे। इस दौरान उन्होंने दो अर्धशतक जड़े और उनका सर्वाधिक स्कोर 76 रहा।

अपने यूट्यूब चैनल पर आकाश चोपड़ा ने सीरीज में भारत के लिए सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वालों में इशान किशन को चुना। उन्होंने इशान को लेकर कहा,

इस लिस्ट में सबसे ऊपर इशान किशन हैं। अगर आप एक स्क्वाड की बात करें तो केवल तीन ओपनिंग बल्लेबाज ही जा सकते हैं, रोहित और राहुल आम तौर पर पहले दो विकल्प होते हैं। वास्तव में, वह इतना अच्छा खेला है कि आप सोचना शुरू कर सकते हैं कि क्या आपको राहुल के साथ ओपनिंग करनी चाहिए या उन्हें निचले क्रम में खिलाना चाहिए, और बाएं और दाएं हाथ के कॉम्बिनेशन के लिए इशान के साथ ओपन करना चाहिए।
youtube-cover

आईपीएल 2022 के बाद इशान किशन ने अच्छी वापसी की

आईपीएल 2022 में इशान किशन के प्रदर्शन को लेकर सवाल उठे थे, लेकिन उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज में अपने शानदार प्रदर्शन से जबरदस्त वापसी की। चोपड़ा ने उनकी वापसी को लेकर कहा,

इशान किशन ने जिस दबदबे के साथ खेला वह काबिले तारीफ था। आईपीएल के दौरान चर्चा थी कि वह किसी दबाव में हैं। आप कह सकते हैं कि उसने पैसे नहीं मांगे लेकिन पैसे का दबाव है। मैं यह नहीं कह रहा हूं कि मुंबई इंडियंस ने उन पर कोई दबाव डाला, लेकिन यह खुद थोपा गया है। लेकिन अब उन्होंने अच्छा किया है।

इशान मुंबई इंडियंस के लिए इस सीजन सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे। उन्होंने 14 मैचों में 32.15 की औसत से 418 रन बनाये थे। हालाँकि उनका स्ट्राइक रेट महज 120.11 का ही था, जो किसी भी लिहाज से एक ओपनर के लिए अच्छा नहीं कहा जा सकता है।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment