Create

युजवेंद्र चहल ने वनडे क्रिकेट में एक बड़ी उपलब्धि हासिल की

चहल ने घातक गेंदबाजी का प्रदर्शन किया
चहल ने घातक गेंदबाजी का प्रदर्शन किया

भारतीय टीम (Indian Team) के 1000वें एकदिवसीय मैच में युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) ने भी एक व्यक्तिगत उपलब्धि हासिल की है। चहल ने पचास ओवर के प्रारूप में अपने 100 विकेट पूरे किये हैं। वह सबसे तेज 100 विकेट लेने वाले दूसरे भारतीय स्पिनर भी बन गए हैं। वेस्टइंडीज के खिलाफ अहमदाबाद में चहल ने 4 विकेट हासिल किये।

युजवेंद्र चहल अपने स्पिन साथी कुलदीप यादव के बाद एकदिवसीय क्रिकेट में 100 विकेट लेने वाले दूसरे सबसे तेज भारतीय स्पिनर बन गए। चहल ने भारत के लिए अपने 60 वें मैच में यह आंकड़ा हासिल किया। उन्होंने वेस्टइंडीज के बल्लेबाज निकोलस पूरन को आउट करने के साथ ही अपने विकेटों का शतक पूरा कर लिया।

चहल एकदिवसीय क्रिकेट में 100 विकेट लेने वाले 5वें सबसे तेज भारतीय गेंदबाज भी बने। खास बात यह भी है कि साल 2019 के बाद वह घरेलू जमीन पर पहला एकदिवसीय मैच खेले रहे थे। उन्होंने विंडीज टीम के कुछ बड़े नामों को पवेलियन भेजने में सफलता हासिल की।

भारत के लिए सबसे तेज 100 वनडे विकेट लेने वाले गेंदबाजों में मोहम्मद शमी का नाम सबसे ऊपर आता है। उन्होंने इस आंकड़े के लिए कुल 56 मैच खेले। जसप्रीत बुमराह ने 57 और कुलदीप यादव ने 58 मुकाबले खेले। उनके अलावा इरफान पठान ने 59 और चहल ने 60 मैचों में अपने 100 विकेट पूरे किये हैं।

इससे पहले भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का निर्णय लिया। दीपक हूडा ने इस मुकाबले के साथ अपना डेब्यू किया। भारतीय टीम अपना 1000वां मुकाबले खेल रही है। इससे पहले अन्य किसी भी टीम ने इतने मैच नहीं खेले हैं। टीम इंडिया के लिए भी यह एक बड़ी उपलब्धि है। रोहित शर्मा बतौर पूर्ण कप्तान वनडे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पहली बार मैदान पर उतरे। वेस्टइंडीज की टीम पहले खेलते हुए महज 176 रन बनाकर आउट हो गई। जेसन होल्डर ने उनके लिए अर्धशतक जड़ा।

Quick Links

Edited by निरंजन
Be the first one to comment