क्या भारत को जिम्बाब्वे के दूसरे वनडे में पहले बल्लेबाजी करनी चाहिए, दिग्गज ने दी अपनी प्रतिक्रिया 

भारतीय जोड़ी ने दूसरे बल्लेबाजों को मौका नहीं दिया था
भारतीय जोड़ी ने दूसरे बल्लेबाजों को मौका नहीं दिया था

भारतीय टीम ने जिम्बाब्वे को तीन मैचों की सीरीज (IND vs ZIM) के पहले वनडे में एकतरफा हराते हुए जीत दर्ज की। मुकाबले में दोनों टीमों के बीच साफ़ तौर पर अंतर दिखा। ऐसे में 20 अगस्त को होने वाले मुकाबले के लिए पूर्व भारतीय खिलाड़ी मनिंदर सिंह (Maninder Singh) ज़िम्बाब्वे के खिलाफ भारत को पहले बल्लेबाजी करते हुए देखना चाहते हैं, ताकि दोनों टीमों के बीच कुछ बराबरी का मुकाबला हो सके।

हरारे में खेले गए पहले वनडे मुकाबले में भारतीय कप्तान केएल राहुल ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी थी। भारतीय गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के आगे ज़िम्बाब्वे की टीम पूरे ओवर भी नहीं खेल पाई और महज 189 रन बनाकर ढेर हो गई। लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत के लिए शिखर धवन और शुभमन गिल ने 192 रन जोड़ते हुए 10 विकेट से जीत दिला दी और अन्य बल्लेबाजों को कोई मौका नहीं दिया।

सोनी स्पोर्ट्स पर मैच के बाद चर्चा के दौरान, मनिंदर सिंह से पूछा गया कि क्या मेहमान टीम को पहले बल्लेबाजी करने पर विचार करना चाहिए। जवाब में पूर्व खिलाड़ी ने कहा,

ईमानदारी से कहूं तो मैं इसे देखना चाहता हूं, क्योंकि कठिन परिस्थितियों में खेलना आपके लिए एक परीक्षा होगी। मुझे लगता है कि भारत पहले बल्लेबाजी करता है अगर जिम्बाब्वे टॉस जीतता है या भारत टॉस जीतता है, जो भी टॉस जीतता है, शायद कुछ प्रतिस्पर्धा हो सकती है जो आप मैदान में देख सकते हैं।

ज़िम्बाब्वे को बाद में बल्लेबाजी करने से मिलेगी मदद - मनिंदर सिंह

मनिंदर सिंह ने उल्लेख किया कि मैच के आगे बढ़ने से पिच आसान हो जाती है और इससे दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने ज़िम्बाब्वे को मदद मिलेगी। उन्होंने कहा,

हमने बाद के ओवरों में देखा कि जब सतह सूख गई तो यह बल्लेबाजी के लिए आसान हो गई। इसलिए मुझे लगता है कि अगर भारत पहले बल्लेबाजी करता है तो यह वास्तव में मैच को संतुलित करेगा। मैं वास्तव में इसे देखना चाहूंगा ताकि हम मैदान पर कुछ प्रतिस्पर्धा देख सकें।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar