INDvSL: नागपुर टेस्ट में भी दिखेगा कोलकाता की तरह ‘’हरा जादू’’, मिशन प्रोटियाज़ की है तैयारी

भारत और श्रीलंका के बीच 3 मैच की टेस्ट सीरीज़ का दूसरा मुक़ाबला शुक्रवार से नागपुर में खेला जाएगा। कोलकाता के ऐतिहसिक ईडन गार्डेन्स पर हुए रोमांचक मुक़ाबले के बाद सभी की नज़रें अब नागपुर के विदर्भ क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम पर टिक गई है। कोलाकाता की हरी पिच पर टीम इंडिया कमाल की वापसी करते हुए मैच जीतने के बेहद क़रीब आ गई थी, लेकिन ख़राब रोशनी ने श्रीलंका को हार से बचा लिया था। मैच से ठीक पहले हुई प्रेस कॉन्फ़्रेंस में भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने भी नागपुर टेस्ट को बेहद अहम क़रार दिया है और साथ ही साथ ये भी साफ़ कर दिया कि कोलकाता की तरह नागपुर में भी हरी पिच ही चाहते हैं। असल में भारत को इस सीरीज़ के बाद दक्षिण अफ़्रीका दौरे पर जाना है, लिहाज़ा कोहली चाहते हैं कि उसके लिए हरी पिच पर ही क्रिकेट खेली जाए। पिच पर हुई घास तो लकमल भी हैं ख़ास हालांकि कोहली और टीम इंडिया की इस रणनीति से श्रीलंका ज़्यादा परेशान नहीं है, क्योंकि मेहमान टीम के तेज़ गेंदबाज़ सुरंगा लकमल ने कोलकाता में हरी पिच का इस्तेमाल बख़ूबी किया था। लकमल ने मैच में 7 विकेट झटके थे और कोई भी भारतीय बल्लेबाज़ उनके ख़िलाफ़ सहज नहीं दिखा था। हालांकि श्रीलंकाई बल्लेबाज़ी पूरी तरह से भारतीय गेंदबाज़ों के सामने बिखर सी गई थी, लिहाज़ा नागपुर में मेहमान टीम की कोशिश होगी कि लकमल को साथी गेंदबाज़ों के साथ साथ बल्लेबाज़ों का भी साथ मिले। तो वहीं टीम इंडिया के लिए कोलकाता में कमाल की गेंदबाज़ी करने वाले भुवनेश्वर कुमार (मैच में 8 विकेट, मैन ऑफ़ द मैच) अब सीरीज़ का हिस्सा नहीं हैं। उन्होंने अपनी शादी के लिए सीरीज़ से अपना नाम वापस लिया है। भुवनेश्वर की जगह टीम मैनेजमेंट इशांत शर्मा को प्लेइंग-11 में ला सकती है, हालांकि भुवी की जगह तमिलनाडु के ऑलराउंडर विजय शंकर को बुलाया गया है लेकिन उम्मीद कम है कि कोहली नागपुर में विजय का डेब्यू कराएंगे। नागपुर के आंकड़े भारत के साथ नागपुर के विदर्भ क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम पर अब तक टीम इंडिया ने 5 टेस्ट खेले हैं, जिनमें से सिर्फ़ एक मुक़ाबले में भारत को हार मिली है, जबकि 3 में जीत और 1 मैच बनतीजा रहा था। श्रीलंका पहली बार इस मैदान पर कोई टेस्ट मैच खेल रहा है, और उनके मौजूदा फ़ॉर्म को देखते हुए भारतीय सरज़मीं पर कोई टेस्ट मैच जीतने का उनका सपना फ़िलहाल तो सपना ही लग रहा है। पिच का पेंच और मौसम का मिज़ाज पिच को लेकर तो विराट कोहली ने अपनी राय साफ़ कर दी है, लिहाज़ा पिच पर घास तो लाज़िमी है। लेकिन बड़ा सवाल ये है कि नागपुर की पिच हाल के दिनों में सूखी और बेजान रही है जहां स्पिन गेंदबाजों को ख़ूब मदद मिलती आई है। ऐसे में अगर घास छोड़ भी दी जाए, तो क्या कोलकाता की ही तरह नागपुर में भी तेज़ गेंदबाज़ों को वैसी मदद मिलेगी ? और इसका क्या भरोसा कि पूरे पांच दिन घास पिच पर मौजूद रहेगी ? जहां तक संभावना है नागपुर की पिच शुरुआती एक या डेढ़ दिन ज़रूर तेज़ गेंदबाज़ों को मदद दे सकती है लेकिन जैसे जैसे खेल आगे बढ़ेगा इसके टूटने और स्पिन गेंदबाज़ों को फ़ायदा पहुंचाने की पूरी उम्मीद है। हां, एक चीज़ जो नागपुर में कोलकाता से बेहतर और शानदार हो सकता है, वह है मौसम का मिज़ाज। नागपुर में टेस्ट मैच के दौरान खिली धूप होने की संभावना है और बारिश के कोई आसार नहीं है। साथ ही साथ नागपुर में शाम काफ़ी देर से होती है यानी ख़राब रोशनी की वजह से नागपुर में क्रिकेट पर कोई असर नहीं पड़ने वाला। क्या होगा कोहली का टीम कॉम्बिनेशन ? भुवनेश्वर कुमार जहां शादी की वजह से इस सीरीज़ से ख़ुद को बाहर कर चुके हैं, तो पारिवारिक वजह से शिखर धवन भी नागपुर टेस्ट में नहीं होंगे। लिहाज़ा दो बदलाव तो इस मैच में तय हैं, शिखर की जगह जहां बेंच पर बैठे मुरली विजय आएंगे तो भुवनेश्वर की जगह इशांत शर्मा का खेलना भी क़रीब क़रीब पक्का है। नागपुर की पिच के हालिया इतिहास को देखते हुए कोहली एक बार फिर पांच नियमित गेंदबाज़ों के साथ जा सकते हैं, यानी मोहम्मद शमी, उमेश यादव और इशांत शर्मा पर जहां नई गेंद की ज़िम्मेदारी होगी तो गेंद के पुराना होते ही रविंद्र जडेजा और आर अश्विन श्रीलंकाई बल्लेबाज़ों के ख़िलाफ़ टूट पड़ेंगे। कोलकाता टेस्ट में अश्विन और जडेजा को एक भी विकेट नहीं मिला था, जो भारतीय क्रिकेट इतिहास का एक अनोखा रिकॉर्ड था। ऐसे में कोलकाता की कसर ये दोनों फिरकी के फनकार नागपुर में निकालना चाहेंगे। वैसे भी अश्विन और जडेजा के लिए ये मैदान काफ़ी शानदार रहा है, 2015 में दक्षिण अफ़्रिका के ख़िलाफ़ इसी मैदान पर अश्विन ने 12 तो जडेजा ने 4 विकेट झटके थे। अश्विन टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज़ 300 विकेट लेने से बस 8 विकेट दूर हैं, और उन्हें उम्मीद होगी कि कोलकाता में जो नहीं हुआ वह नागपुर में ज़रूर होगा। टीम इंडिया की संभावित प्लेइंग-XI के एल राहुल, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे, ऋद्धिमान साहा, आर अश्विन, आर जडेजा, मोहम्मद शमी, उमेश यादव और इशांत शर्मा

Edited by Staff Editor