Create
Notifications

INDvENG 2016 : टेस्ट रोमांचक मोड़ पर, भारत जीत से 8 विकेट दूर

Abhishek Tiwary

भारत और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की सीरीज का दूसरा टेस्ट बेहद रोमांचक मोड़ पर पहुंच गया है। विशाखापट्टनम में खेले जा रहे टेस्ट के अंतिम दिन मेजबान टीम को जीतने के लिए 8 विकेट निकालने की जबकि इंग्लैंड को 318 रन बनाने की जरुरत है और उसके 8 विकेट शेष हैं। रविंद्र जडेजा ने दिन के अंतिम ओवर में इंग्लिश कप्तान एलिस्टेयर कुक (54) को LBW आउट करके मेजबान टीम को फ्रंटफुट पर खड़ा कर दिया। चौथे दिन स्टंप्स तक इंग्लैंड ने 59.2 ओवर में दो विकेट खोकर 87 रन बना लिए हैं। जो रूट 5 रन बनाकर क्रीज पर जमे हुए हैं। आज भारत ने अपनी पारी 98/3 से आगे बढ़ाई। कल 56 रन पर नाबाद कप्तान विराट कोहली ने सुबह के सत्र में संभलकर खेलना शुरू किया। मगर उन्हें अन्य बल्लेबाजों का साथ नहीं मिला। कल 22 रन पर नाबाद रहे अजिंक्य रहाणे आज अपने स्कोर में महज चार रन का इजाफा कर सके और ब्रॉड की गेंद पर कुक को आसान कैच थमाकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद रविचंद्रन अश्विन (7) को ब्रॉड ने विकेटकीपर बेयरस्टो के हाथों कैच आउट कराया। ऋद्धिमान साहा (2) को रशीद ने LBW आउट कर दिया। विराट एक छोर से रन बनाते रहे, लेकिन रशीद की गेंद पर वह स्टोक्स को कैच थमा बैठे। कोहली ने 109 गेंदों में 8 चौको की मदद से 81 रन बनाए। रशीद ने फिर रविंद्र जडेजा (14) को मोइन अली के हाथों कैच आउट करा दिया। उमेश को रशीद ने खाता भी नहीं खोलने दिया और विकेटकीपर बेयरस्टो के हाथों कैच आउट करा दिया। जयंत यादव (27*) ने फिर मोहम्मद शमी (19) के साथ आखिरी विकेट के लिए 42 रन की अहम साझेदारी की और भारत का स्कोर 200 के पार लगाया। भारत की पूरी टीम 63.1 ओवर में 204 रन पर ऑलआउट हुई। इस तरह उसने इंग्लैंड के सामने जीत के लिए 405 रन का लक्ष्य रखा। इंग्लैंड की तरफ से आदिल रशीद और स्टुअर्ट ब्रॉड ने 4-4 विकेट लिए। जेम्स एंडरसन और मोइन अली को एक-एक विकेट मिला। विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड ने बेहद धीमी, लेकिन संभली हुई शुरुआत की। हसीब हमीद (25) और कप्तान एलिस्टेयर कुक ने 302 गेंद खेली और 75 रन की साझेदारी की। चौथी पारी में सर्वाधिक गेंद की साझेदारी के मामले में कुक-हमीद की जोड़ी तीसरे स्थान पर पहुंची। दोनों बल्लेबाज भारतीय गेंदबाजों का डटकर मुकाबला कर रहे थे और उनकी धीमी बल्लेबाजी से ऐसा लग रहा था कि मेहमान टीम यह टेस्ट ड्रॉ कराना चाहती है। भारतीय स्पिनरों ने अच्छी गेंदबाजी करते हुए दो बार बल्लेबाजों को LBW आउट करने के मौके बनाए। गेंदबाजों की बात सुन विराट ने DRS का इस्तमाल भी किया, लेकिन रीप्ले में दोनों बार गेंद स्टंप के नजदीक रहने के बावजूद अंपायर के फैसले को सर्वोपरि माना गया। लिहाजा भारत के दोनों रीव्यू खराब हो गए। भारतीय स्पिनरों की कड़ी मेहनत रंग लाई जब अश्विन ने हमीद को LBW आउट कर दिया। यह गेंद बेहद नीची रही और टप्पा खाने के बाद अच्छी स्पिन भी हुई। अंपायर को ऊँगली उठाने में कोई हिचकिचाहट नहीं हुई। हालांकि कुक ने एक छोर पर शानदार बल्लेबाजी जारी रखी और अपना 53वां अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने 188 गेंदों में 4 चौको की मदद से 54 रन बनाए। जो रूट ने भी संभलकर भारतीय स्पिनरों का सामना किया और स्टंप्स तक टिके रहे। भारत की तरफ से अश्विन और जडेजा ने एक-एक विकेट लिया। संक्षिप्त स्कोरकार्ड : भारत : 455 और 204 (विराट कोहली 81, स्टुअर्ट ब्रॉड 4 विकेट) इंग्लैंड : 255 और 59.2 ओवर में 2 विकेट पर 87 रन ( एलिस्टेयर कुक 54*, हसीब हमीद 25)


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...