COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

Duleep Trophy 2018, फाइनल: फॉलोओन खेलते हुए इंडिया रेड पर मंडराया पारी से हार का खतरा

SENIOR ANALYST
41   //    06 Sep 2018, 21:42 IST

दिलीप ट्रॉफी फाइनल में तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक इंडिया रेड दूसरी पारी में 5 विकेट पर 128 रन बनाकर पारी से हार टालने के लिए संघर्ष कर रही है। इशान किशन 25 और ऋतिक चटर्जी 13 रन बनाकर क्रीज पर हैं। फॉलोओन खेलते हुए उन्हें अभी पारी से हार बचाने के लिए 231 रन और चाहिए। इससे पहले उन्होंने पहली पारी में 182 रन बनाए इसलिए इंडिया ब्लू ने फॉलोओन देने का निर्णय लिया। इंडिया ब्लू ने पहली पारी में 541 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया था।

कल के स्कोर 27/1 से आगे खेलते हुए इंडिया रेड ने दिन का पहला विकेट संजय रामास्वामी (18) के रूप में खोया। इसके बाद तो मानो विकेट पतन शुरू हो गया हो। एक के बाद एक गिरते विकेटों के बीच बवानाका संदीप ने टिककर खेलते हुए 57 रनों की पारी खेली, निचले क्रम में प्रसिद्ध कृष्णा ने 25 रन बनाए लेकिन 182 रनों के मामूली स्कोर पर आउट होने के बाद इंडिया रेड को फिर से आकर फॉलोओन खेलने पर मजबूर होना पड़ा। इंडिया ब्लू के लिए स्वप्निल सिंह ने सबसे अधिक 5 विकेट चटकाए। उनके अलावा धवल कुलकर्णी और दीपक हूडा ने भी 2-2 विकेट चटकाए।

फॉलोओन खेलने वापस मैदान पर बल्लेबाजी कर लिए उतरी इंडिया रेड के लिए संजय रामास्वामी (11) और अभिनव मुकुंद (46) ने पहले विकेट के लिए 55 रन जोड़े। इनके आउट होने के बाद बवानाका ने कुछ देर टिकने की कोशिश की लेकिन 25 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद 2 विकेट और गिरकर स्कोर 101/5 हो गया। यहां से इशान किशन (25*) और ऋतिक चटर्जी (13*) ने कोई अन्य विकेट नहीं गिरने दिया और दिन का खेल समाप्त होने तक इंडिया रेड का स्कोर 128/5 रहा। उन्हें पारी से हार टालने के लिए अभी 231 रन और चाहिए। इंडिया ब्लू के लिए दूसरी पारी में सौरभ कुमार ने 3 और दीपक हूडा ने 2 विकेट चटकाए। इंडिया रेड के लिए मैच बचाना मुश्किल लग रहा है।

संक्षिप्त स्कोर

इंडिया ब्लू: 541/10

इंडिया रेड: 182/10, 128/5

SENIOR ANALYST
Naveen is a Senior Analyst and Cricket Commentator, He worked as a Political Researcher in Jharkhand and Bihar Assembly elections. Sports, Women Studies, Poetry, Political Writing are his area of Interest.
Advertisement
Fetching more content...