मेरी और रविचंद्रन अश्विन की गहरी दोस्ती है: जयंत यादव

आश्चर्यजनक तरीके से विशाखापट्टनम टेस्ट मैच में डेब्यू करने वाले भारतीय ऑफ स्पिनर जयंत यादव ने खेल के सभी क्षेत्रों में प्रभावित किया है। अश्विन के साथ विरोधी टीम को परेशानी में डालने वाले जयंत यादव ने विश्व के नंबर एक ऑल राउंडर खिलाड़ी के साथ खेलने को लेकर बयान दिया है। विशाखापट्टनम टेस्ट के तीसरे दिन का खेल समाप्त होने के बाद जयंत यादव ने प्रेस वार्ता में अश्विन के साथ दोस्ती और उनसे गेंदबाजी की बारीकियाँ सीखने को उत्सुक होने की बात कही है। जयंत यादव ने कहा "हम पूर्व भारतीय कोच एरिक सिमन्स के जरिये मिले थे। अश्विन उस समय 2014 के इंग्लैंड दौरे की तैयारी कर रहे थे। उनसे मिलना बहुत सुखद था क्योंकि मैं उस समय रणजी ट्रॉफी खेल रहा था। वो तैयारी कैसे करते हैं और उनसे चीजें जानना बहुत खास रहा। तब से हम टच में रहे हैं और हमारी घनिष्ठ मित्रता है"। पूर्व भारतीय ऑल राउंडर रवि शास्त्री से टेस्ट कैप लेने वाले जयंत ने दूसरे दिन बल्लेबाजी करते हुए टीम को सहारा प्रदान किया और अश्विन के साथ एक साझेदारी की। अश्विन ने भी जयंत और अपनी दोस्ती के बारे में कहा "मैं और जयंत 2 या 3 वर्ष पीछे की यादों में चले गए जब ये चेन्नई आए थे और करीब 2 सप्ताह मेरे घर पर रुके, और मेरे साथ अभ्यास किया। हम दोनों में काफी घनिष्ठता है। जिस सकारात्मकता से उन्होंने बल्लेबाजी की है, उससे मुझे खुशी है। हम दोनों के बीच साझेदारी के समय काफी अच्छा तालमेल रहा। हम बीच में बातचीत कर रहे थे। जयंत यादव ने बल्लेबाजी में अच्छा प्रदर्शन के बाद इंग्लैंड के बल्लेबाज हसीब हमीद को ऋद्धिमान साहा के साथ मिलकर रन आउट कराया। इसके अलावा जयंत यादव ने मोइन अली का विकेट लेकर गेंदबाजी में भी अच्छा प्रदर्शन किया। हरियाणा के इस खिलाड़ी ने 5 ओवर गेंदबाजी की, उन्होंने लाइन के अलावा क्रीज़ का अच्छा प्रयोग किया। दूसरी तरफ उनके दोस्त अश्विन ने इंग्लैंड के बल्लेबाजों को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया। जयंत ने कहा “पिच पर काफी कुछ घटित होने के लिए मौजूद था। अश्विन शानदार सपने की तरफ गेंदबाजी कर रहे थे, आपको अच्छे प्रयास और तकनीक दर्शानी होती है।“

Edited by Staff Editor