भारत और पाकिस्तान के बीच भविष्य में क्रिकेट मैच होना मुश्किल

Rahul

भारत और पाकिस्तान के बीच भविष्य में होने वाले मुकाबलों को लेकर बीसीसीआई ने आईसीसी की चैंपियनशिप नियम को देखते हुए अपना रुख साफ़ कर दिया है। बीसीसीआई ने कहा है कि आईसीसी के फ्यूचर टूअर्स प्रोग्राम के अनुसार अगर भारत और पाकिस्तान एक दूसरे के खिलाफ खेलते है, तो यह विवादस्पद मामला हो सकता है। इसलिए आईसीसी भविष्य के कार्यक्रम में भारत और पाकिस्तान के मुकाबलों को न कराए। हालांकि इस मामले को लेकर बीसीसीआई एक दिसम्बर को अपनी एसजीएम ( स्पेशल जनरल मीटिंग ) बैठक के बाद फैसला लेगी। बीसीसीआई के कार्यकारी सचिव अमिताभ चौधरी ने भारत और पाकिस्तान के मैच की महत्वा को समझते हुए कहा कि दोनों देशों के बीच मुकाबले से आईसीसी को बहुत फायदा होता है लेकिन मौजूदा राजनैतिक रिश्तों के कारण इन दोनों देशों के बीच अभी क्रिकेट मैच संभव नहीं है। आईसीसी चैंपियनशिप लीग के नियमानुसार सभी देशों को एक दूसरे के खिलाफ श्रृंखलाएं खेलना जरुरी है। इस नियम को समझते हुए चौधरी ने कहा कि अगर विश्व में किसी भी प्रतियोगिता में 20 से अधिक टीम होती, तो जरुरी नहीं है कि वह एक दूसरे के खिलाफ खेले। भारत और पाकिस्तान की सीरीज न कराने पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट पर ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ेगा, तो हमारा मानना है कि आईसीसी चैंपियनशिप में भारत और पाकिस्तान सीरीज का होना जरुरी नहीं है। पिछले महीने आईसीसी ने टेस्ट और वनडे लीग करने पर फैसला लिया था, जो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के भविष्य को देखते हुए एक अहम कदम माना गया। इस चैंपियनशिप के नियम के मुताबिक सभी देशों को एक दूसरे के खिलाफ 2 या 3 साल में द्विपक्षीय सीरीज खेलना जरुरी है लेकिन भारत और पाकिस्तान की सीरीज होना नामुमकिन माना जा रहा है। इसलिए बीसीसीआई ने आईसीसी के इस फैसले को लेकर अपना मत रखने के लिए अगले महीने एसजीएम की बैठक का आयोजन किया है। अब देखना है कि एसजीएम की बैठक में बीसीसीआई अंतिम फैसला क्या लेती है। गौरतलब है भारत और पाकिस्तान के बीच आाखिरी अंतर्राष्ट्रीय मैच इसी साल जून में चैंपियंस ट्रॉफी में हुआ था, जिसमें पाकिस्तान ने बाजी मारी थी।

Edited by Staff Editor