महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में खेलने वाली सर्वश्रेष्ठ भारतीय वनडे एकादश

महेंद्र सिंह धोनी की गिनती भारतीय क्रिकेट के सबसे सफल कप्तानों में की जाती है। 2007 में कप्तान बनते ही धोनी ने टी20 विश्वकप पर कब्जा जमा लिया। इसके साथ ही वह आईसीसी की सभी ट्रॉफी जीतने वाले एकमात्र कप्तान भी हैं। टी20 विश्वकप कप के अलावा उनकी कप्तानी में टीम ने 2011 क्रिकेट विश्वकप और 2013 चैंपियंस ट्रॉफी पर भी कब्जा जमाया था। उन्होंने 60 टेस्ट, 199 वनडे और 72 टी20 अंतरराष्ट्रीय समेत 331 मैचों में भारत की कप्तानी की है। इसके अलावा भारत की तरफ से कप्तान के रूप में सबसे ज्यादा जीत का रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम दर्ज हैं। धोनी की कप्तानी में भारतीय वनडे टीम का प्रदर्शन शानदार रहा है। उनकी टीम में सचिन तेंदुलकर, वीरेंदर सहवाग, सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़, शिखर धवन और आशीष नेहरा जैसे खिलाड़ी शामिल रहे हैं। इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने 2007 से 2016 तक भारतीय टीम की कप्तानी की थी। आज हम आपको धोनी की कप्तानी में खेलनी वाली सर्वश्रेष्ठ वनडे एकादश के बारे में बताने जा रहे हैं (नोट: इसमें महानता की जगह आंकड़ों को ध्यान में रखा गया है, आंकड़े 22 जुलाई 2018 तक के) सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा वर्तमान में रोहित शर्मा दुनिया के सबसे सफल ओपनिंग बल्लेबाजों में से एक हैं और यह धोनी की ही देन है। रोहित शर्मा ने 2007 में राहुल द्रविड़ की कप्तानी के अपना डेब्यू किया था और धोनी की कप्तानी में लगभग 150 मैच खेले। 31 वर्षीय यह बल्लेबाज वनडे क्रिकेट में लंबी पारी खेलने के लिए जाना जाता है और अभी तक 50 ओवरों की क्रिकेट में तीन दोहरे शतक लगाने वाले एकमात्र खिलाड़ी भी है। हाल के वर्षों में रोहित शर्मा वनडे क्रिकेट में भारत की सफलता की मुख्य वजहों में से रहे हैं। धोनी की कप्तानी में रोहित का रिकॉर्ड मैच- 151, रन- 5123, शतक- 10 गौतम गंभीर वीरेंदर सहवाग और शिखर धवन से ऊपर गंभीर को धोनी की सर्वश्रेष्ठ वनडे इलेवन में रोहित शर्मा के साथ सलामी बल्लेबाजी करने के लिए चुना गया है। गंभीर ने लगभग 10 वर्षों तक भारत के लिए अंतरराष्ट्रीय मैचों में प्रतिनिधित्व किया है। उन्होंने 10000 से अधिक अंतरराष्ट्रीय रन बनाए हैं और 2011 विश्व कप जीत में उन्होंने अहम भूमिका निभाई थी। गंभीर उन कुछ भारतीय क्रिकेटरों में से एक हैं जो सभी फॉर्मेट में अच्छा खेल दिखाने में सफल रहे हैं। गंभीर ने 2016 में अंतिम बार भारत के लिए अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था। धोनी की कप्तानी में गंभीर का रिकॉर्ड मैच- 118, रन 4353, शतक- 9 मध्यक्रम विराट कोहली एक बल्लेबाज के रूप में वनडे क्रिकेट में विराट कोहली सफलता के मामले में सचिन तेंदुलकर के बाद दूसरे स्थान पर माने जाते हैं। कोहली ने धोनी के भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी संभाली है। धोनी की कप्तानी में अपने अंतरराष्ट्रीय शुरुआत की और दुनिया के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटरों में से एक बन गये। 29 वर्षीय ने अब तक 211 वनडे खेले हैं और जिसमें 9779 रन बनाए हैं। उनके नाम अब तक वनडे क्रिकेट में 35 शतक दर्ज हैं। धोनी की कप्तानी में विराट कोहली का रिकॉर्ड मैच- 176, रन- 7570, शतक- 26 युवराज सिंह युवी भारत के लिए सीमित ओवरों का क्रिकेट खेलने वाले सबसे सफल खिलाड़ियों में से एक हैं। उन्होंने भारत के लिए 300 से अधिक वनडे मैच खेले हैं, जिसमें 8701 रन बनाए हैं। वह दुनिया के सर्वश्रेष्ठ फिनिशरों में से एक थे और भारत की 2011 विश्व कप की सफलता में उनका बड़ा योगदान था। युवराज सिंह ने लगभग एक दशक तक भारतीय मध्यक्रम को संभल कर रखा। धोनी की कप्तानी में युवराज सिंह का रिकॉर्ड मैच- 121, रन- 3592, शतक- 7 सुरेश रैना सुरेश रैना ने अब तक अपने करियर में भारत के लिए 200 से अधिक वनडे खेले हैं। सुरेश रैना ने 2005 में वनडे डेब्यू किया और धोनी के लिए निचले मध्य क्रम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने अपने वनडे करियर में कई मैच जिताऊ पारियां खेली है। 31 वर्षीय ने 50 ओवरों के खेल में 93.51 की शानदार स्ट्राइक रेट पर 5615 रन बनाए हैं। धोनी की कप्तानी में सुरेश रैना का रिकॉर्ड मैच-187, रन- 4956, शतक- 5 विकेटकीपर और ऑलराउंडर महेंद्र सिंह धोनी धोनी क्रिकेट के सभी फॉर्मेट में दुनिया के सफलतम कप्तानों में से एक है। उन्होंने 2011 विश्वकप के फाइनल में श्रीलंका के खिलाफ शानदार प्रदर्शन करते हुए भारत को 28 साल बाद विश्व विजेता बनाया। भारत ने उनकी कप्तानी में ही 2013 चैंपियंस ट्रॉफी पर भी कब्जा किया था। धोनी की गिनती वनडे क्रिकेट के सर्वश्रेष्ठ फिनिशरों में की जाती है। धोनी ने अपनी कप्तानी में 199 वनडे खेले हैं जिसमें 110 मैचों में जीत हासिल की। 37 वर्षीय ने 321 वनडे मैच खेले हैं और 51.26 की औसत से 10046 रन बनाए हैं। अपनी कप्तानी में धोनी का रिकॉर्ड मैच- 199, रन- 6633, शतक- 6 रविंद्र जडेजा रविन्द्र जडेजा कप्तान धोनी के सबसे भरोसेमंद खिलाड़ियों में से एक थे। जडेजा ने भारत के लिए 136 वनडे मैच खेले हैं और उसमें 155 विकेट लिए हैं। उन्होंने बल्ले से 1914 रन भी बनाए और नीचे आकर कई महत्वपूर्ण पारियां खेली है। वह अपने पूरे करियर में एक शानदार कफील्डर रहे हैं और कई असम्भव दिखते कैच पकड़े हैं। धोनी की कप्तानी में जडेजा ने बल्ले और गेंद दोनों के साथ जबरदस्त प्रदर्शन किया था। धोनी की कप्तानी में जडेजा का रिकॉर्ड मैच- 126, रन- 1849, विकेट- 147 गेंदबाजी रविचंद्रन अश्विन रविचंद्रन अश्विन भारतीय क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ स्पिनरों में से एक हैं। चेन्नई के इस खिलाड़ी ने धोनी के लिए ऑफ स्पिन गेंदबाजी के रूप में काफी सफलता हासिल की है। अश्विन ने 111 वनडे मैच खेले और उसमें 150 बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाया है। उन्होंने बल्ले के साथ कुछ उपयोगी योगदान भी दिए हैं। अश्विन ने धोनी की कप्तानी में 2011 और 2015 विश्व कप खेला था और इंडियन प्रीमियर लीग में वह 2017 तक धोनी की ही टीम में थे। धोनी की कप्तानी में अश्विन का रिकॉर्ड मैच- 102, रन- 657, विकेट- 142 इशांत शर्मा इशांत शर्मा को 18 साल की उम्र में भारतीय टीम के लिए अपना डेब्यू किया था। दिल्ली का यह दाएं हाथ का तेज गेंदबाज टेस्ट क्रिकेट में भारत के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों में से एक है, लेकिन अपने करियर में केवल 80 वनडे मैच ही खेल पाया है। वनडे में इशांत शर्मा ने 115 विकेट लिए हैं लेकिन उन्होंने टीम में अपने स्थान को लेकर हमेशा संघर्ष किया है। इशांत ने भारत के लिए अभी तक 82 टेस्ट मैच भी खेले हैं। धोनी की कप्तानी में इशांत शर्मा का रिकॉर्ड मैच- 80, विकेट- 115, मैच में चार विकेट- 6 बार उमेश यादव उमेश यादव अभी भारत के सबसे तेज गेंदबाजों में से एक हैं। 30 वर्षीय यह तेज गेंदबाज को पहली बार 2010 में टी20 विश्वकप के लिए भारतीय टीम में चुना गया था। उमेश यादव ने 73 वनडे मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 105 विकेट चटकाए हैं। वह अपने करियर के शुरूआती दिनों में निरंतरता के लिए संघर्ष करते नजर आते थे लेकिन जैसे-जैसे उनका करियर आगे बढ़ा उनमें सुधार होता गया। वह 2015 विश्वकप में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज भी थे। वनडे क्रिकेट में कुछ समय से बाहर रहे उमेश यादव ने इंग्लैंड के खिलाफ हाल ही में समाप्त हुई सीरीज में वापसी की है। धोनी की कप्तानी में उमेश यादव का रिकॉर्ड मैच- 62, विकेट- 87, मैच में 4 विकेट- 3 बार जहीर खान जहीर खान भारतीय क्रिकेट इतिहास के सबसे बेहतरीन तेज गेंदबाजों में से एक हैं। टेस्ट और वनडे मैचों में भारत के लिए उनका प्रदर्शन असाधारण था। बाएं हाथ के इस तेज गेदबाज ने भारत के लिए 200 वनडे मैच खेले हैं और 282 विकेट हासिल किए हैं। 2011 विश्वकप में भारतीय टीम की जीत में ज़हीर की अहम भूमिका थी। उस टूर्नामेंट में 21 विकेट चटकाकर वह सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज भी थे। उन्होंने एक दशक से अधिक समय तक भारतीय टीम की तेज गेंदबाजी का नेतृत्व किया है और उनकी सफलता में महत्वपूर्ण भूमिका भी निभाई है। धोनी की कप्तानी में ज़हीर खान का रिकॉर्ड मैच - 67, विकेट - 94, मैच में 4 विकेट - एक बार लेखक- सुजीत मोहन अनुवादक- ऋषिकेश सिंह

App download animated image Get the free App now