टेस्ट क्रिकेट में इस वर्ष सबसे अधिक विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज बने अश्विन

भारत और इंग्लैंड के बीच विशाखापट्टनम टेस्ट का तीसरा दिन भारत के नाम रहा। भारत 289 रनों की बढ़त हासिल कर चुका है जबकि कप्तान विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे क्रीज़ पर मौजूद है। एक बार फिर भारत की तरफ से अश्विन ने श्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए पाँच विकेट झटके। अश्विन अब तक एक पारी में 22 बार पाँच विकेट झटक चुके हैं। इस तरह इंग्लैंड की पारी 255 पर पर सिमट गई और भारत की पहली पारी के 455 रनों से 200 रन पीछे रह गई। कप्तान कोहली ने मेहमान टीम को फॉलोऑन नहीं खिलाने का फैसला किया और चायकाल से पहले भारतीय टीम बल्लेबाजी के लिए मैदान पर आई। जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड ने शानदार गेंदबाजी करते हुए भारतीय ओपनर केएल राहुल को पवेलियन का रास्ता दिखा दिया। इसके बाद मुरली विजय और चेतेश्वर पुजारा भी आउट हो गए, भारत की मुश्किल परिस्थितियों में कप्तान कोहली ने बल्लेबाजी का जिम्मा संभालते हुए अजिंक्य रहाणे के साथ नाबाद 58 रनों की साझेदारी कर टीम को संकट से उबारा। कोहली अपना अर्धशतक बनाकर खेल रहे हैं। विराट कोहली कल आकर पारी घोषित करने से पहले पर्याप्त स्कोर करके इंग्लैंड को कठिन लक्ष्य देना चाहेंगे। आइए विशाखापट्टनम टेस्ट के तीसरे दिन बने कुछ दिलचस्प आंकड़ों पर नजर डालते हैं। # अश्विन एक टेस्ट मैच में पचास रन और पाँच विकेट लेने का कारनामा 4 बार कर चुके हैं, वे कपिल देव के साथ ऐसा करने वाले पहले भारतीय हैं। विशाखापट्टनम टेस्ट की पहली पारी में उन्होंने पचास रन बनाने के बाद पाँच विकेट झटके। # अश्विन इस वर्ष टेस्ट क्रिकेट में सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाजों की सूची में दूसरे नंबर पर पहुँच गए हैं। श्रीलंका के रंगना हैराथ इस मामले में 54 विकेट लेकर सबसे ऊपर है। # एक पारी में पाँच विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाजों की सूची में अश्विन चौथे नंबर पर पहुँच गए हैं, उनसे पहले इस सूची में अनिल कुंबले, कपिल देव और हरभजन सिंह है। # केएल राहुल ने जब टेस्ट मैच में पचास से कम रन बनाए हैं तो उनका 11.23 का सबसे कम औसत इस मैच में बना है। # दूसरी पारी में विराट कोहली द्वारा लगाया गया अर्धशतक उनके करियर का 13 वां पचास रन है। # 2000 के बाद भारत के टॉप तीन बल्लेबाजों का सबसे कम स्कोर 14 रन आज बना जब विजय, राहुल और पुजारा सस्ते में निपट गए। # पुजारा टेस्ट डेब्यू के बाद 16 बार बोल्ड आउट हुए हैं, आज भी वे दूसरी पारी में बोल्ड हुए। # अश्विन 22 बार एक पारी में पाँच विकेट लेने वाले गेंदबाज बने हैं। # मुरली विजय ने टेस्ट मैचों में दूसरी पारी में 29.42 की औसत से रन बनाए हैं। # अश्विन हरभजन के बाद एक वर्ष में 50 विकेट पूरे करने के लिए पाँच विकेट हॉल लेने वाले दूसरे भारतीय हैं जिसने लगातार वर्षों में यह उपलब्धि हासिल की है। # टेस्ट क्रिकेट की दोनों पारियों में इंग्लैंड के खिलाफ 223* रन बना चुके हैं। किसी भी भारतीय कप्तान द्वारा इंग्लैंड के खिलाफ बनाया गया यह सर्वाधिक स्कोर है। # भारत द्वारा पहली पारी में 400 रन बनाने के बाद 2011 से कोई भी टीम फॉलोऑन नहीं टाल पाई है। इंग्लैंड भी यहाँ 1 रन से चूक गई।