अश्विन से इस सीरीज में काफी विकेटों की उम्मीद: हरभजन

आर. अश्विन को सिर्फ टर्निंग ट्रैक्स पर विकेट लेने वाला गेंदबाज बताने के कुछ सप्ताह बाद ही भारतीय ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह का एक और बयान सामने आया है। इस बार भारत और इंग्लैंड के बीच चल रही टेस्ट सीरीज के राजकोट टेस्ट मैच में अश्विन और रविन्द्र जड़ेजा की गेंदबाजी के बारे में हरभजन ने कहा कि पहली पारी में गेंदबाजी प्रदर्शन में उनका दिन नहीं था। भज्जी ने जड़ेजा-अश्विन का बचाव करते हुए कहा “उन्हें दूसरी पारी में आकर अच्छी गेंदबाजी का प्रदर्शन करना चाहिए। राजकोट टेस्ट मैच की विकेट में पहले दो दिन स्पिनरों के लिए कुछ ख़ास नहीं रहा।“ इस दौरान अश्विन ने 46 ओवर देकर 167 रन खर्च करते मात्र 2 विकेट झटके। समाचार एजेंसी पीटीआई से बातचीत में भज्जी ने कहा कि "मजा तो तब है जब विकेट चुनौतीपूर्ण हो। आपको अपनी लाइन को निरन्तर बरक़रार रखना होता है। आपको विकेट लेने के लिए कड़ी मेहनत करनी होती है तथा हुनर को सामने लाना होता है।" बेन स्टोक्स, जो रुट और मोइन अली के शतकों की बदौलत इंग्लैंड ने पहली पारी में ऑल आउट होने से पहले 537 रनों का मजबूत स्कोर खड़ा किया। उन्होंने कहा कि रुट, स्टोक्स और मोइन अली अच्छे खिलाड़ी हैं। उनकी एक युवा टीम है और उन्होंने अभी तक अच्छी क्रिकेट खेली है। हरभजन का कहना था "आप भारतीय स्पिनरों को नकार नहीं सकते। मैं जड़ेजा और अश्विन का समर्थन करता हूँ और उम्मीद करता हूँ कि वे दोनों दूसरी पारी में अच्छी वापसी करेंगे। अश्विन बहुत ही सक्षम गेंदबाज है। मैं उनसे बहुत सारे विकेट लेने तथा भारत द्वारा 3-0 से सीरीज जीतने की उम्मीद करता हूँ।" पिछले चार मैचों से पंजाब की तरफ से मैदान में उतरने वाली एकादश का हिस्सा नहीं रहे भज्जी अभी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी के लिए तैयार नहीं है। हरभजन सिंह का कहना था “वे 21 अक्टूबर से पंजाब के लिए तमिलनाडू के खिलाफ नागपुर में होने वाले अगले रणजी मैच में खेलेंगे। अगर आप मुझसे अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी के बारे में जानना चाहते हो तो मैं 'नहीं' कहूँगा लेकिन 21 नवम्बर के बाद, एक बार मेरे फील्ड पर वापस आने के बाद मैं खुद के सामने आने वाली सभी चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार हूँ।“ आप को बता दें कि न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज के दौरान भज्जी ने अश्विन को महज टर्निंग ट्रैक पर विकेट लेने वाला गेंदबाज बताया था।

Edited by Staff Editor