Create
Notifications

विशाखापट्टनम टेस्ट में कुमार धर्मसेना का एक और गलत फैसला

Naveen Sharma

यह स्वाभाविक है कि एक क्रिकेट मैच में दोनों टीमों की ओर से खेलने वाले 11 खिलाड़ी किसी न किसी बात को लेकर सुर्खियों में बने रहते हैं। लेकिन यह कम ही देखने को मिलता है कि एक अंपायर भी चर्चा का विषय बन जाए। इसी प्रकार अभी चर्चा का विषय बने हुए हैं श्रीलंका के अंपायर कुमार धर्मसेना, जिन्होंने पिछले कुछ समय से अंपायरिंग करते समय दबाव में कई खराब फैसले दिये हैं। शनिवार को उन्होंने भारत और इंग्लैंड के बीच विशाखापट्टनम में चल रहे टेस्ट मैच में इंग्लैंड की पारी के दौरान एक और खराब फैसला दिया। इंग्लैंड के बल्लेबाज स्टुअर्ट ब्रॉड के पैड से लगी गेंद लेग स्टम्प से बाहर जा रही थी लेकिन धर्मसेना ने अपनी उंगली उठाकर स्टुअर्ट ब्रॉड को आउट करार दे दिया। रीप्ले में साफ नजर आया कि गेंद इस इंग्लिश बल्लेबाज के लेग स्टम्प को छोड़ती हुई जा रही थी। ब्रॉड रीव्यू के लिए नहीं जा पाए क्योंकि उनकी टीम 2 बार इसका प्रयोग पहले ही कर चुकी थी, ऐसे में पवेलियन जाने के अलावा उनके पास कोई विकल्प नहीं था। यह दो दिनों में दूसरी बार हुआ जब एक अंपायर ने इस तरह गलत फैसला दिया हो। इस प्रकार अश्विन ने अपना चौथा विकेट प्राप्त किया। इसके बाद अश्विन द्वारा पांचवां विकेट लेने के साथ ही इंग्लैंड की पारी 255 रनों पर सिमट गई, और भारत को 200 रनों की विशाल बढ़त हासिल हो गई। अश्विन ने 67 रन देकर 5 विकेट लेते हुए मैच पर भारत की पकड़ मजबूत कर दी। अश्विन ने इंग्लैंड के खिलाफ पहली बार एक पारी में 5 विकेट झटके हैं। इससे पहले भी बांग्लादेश और इंग्लैंड के बीच हुई सीरीज में कुमार धर्मसेना अंपायर थे। इस सीरीज के दौरान भी कुमार धर्मसेना के कई फैसले गलत चले गए थे। कुमार धर्मसेना द्वारा दिये गए खराब फैसले का वीडियो आप यहाँ देख सकते हैं।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...