Create
Notifications

'मुझे एक क्रिकेट क्लब के मैच से बाहर कर दिया गया था'

CONTRIBUTOR
Modified 21 Sep 2018
इंग्लैंड क्रिकेट टीम के ऑलराउंडर मोइन अली ने अपने बल्लेबाज़ी क्रम को लेकर एक बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि अभी मेरे बल्लेबाज़ी क्रम को लेकर कोई फैसला नहीं लिया गया है, जैसा कि मैं अभी तक किसी भी क्रम पर बल्लेबाजी कर रहा हूँ। आपको बता दें कि मोइन अली ने टेस्ट क्रिकेट में इंग्लैंड की तरफ से एक नंबर से लेकर नौवें नंबर के क्रम तक बल्लेबाज़ी की है। बाएँ हाथ के बल्लेबाज़ ने एक इन्टरव्यू में कहा "मैंने बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट सीरीज में पांचवें नंबर पर बल्लेबाज़ी की थी, लेकिन टीम के संतुलन को देखते हुए मुझे चौथे क्रम पर भी बल्लेबाज़ी के लिए उतरा गया था, जैसा कि मैं पिछले टेस्ट मैच में तीसरे नंबर पर भी बल्लेबाज़ी करने के लिए उतरा था, अभी यह बिलकुल भी सुनिश्चित नहीं है कि मैं आगामी टेस्ट मैच में कौनसे क्रम पर बल्लेबाज़ी करने के लिए उतरूंगा, यह तो कल मुंबई में टेस्ट मैच के दौरान ही पता चल पाएगा" इसके बाद उन्होंने कहा "एक बार मुझे मेरे पिता जी ने एक क्रिकेट क्लब के मैच से बाहर कर दिया था, उस वक़्त मैंने अपने पिता जी को बताया था कि मैंने सातवें नंबर पर बल्लेबाज़ी की है, जिसके बाद मेरे पिताजी ने कहा था, 'नहीं, नहीं, आप सातवें क्रम पर बल्लेबाजी नहीं कर सकते" "उस समय मैं लगभग 13 साल का था, उसके बाद मेरे पिताजी ने कहा कि नहीं अब आप नहीं खेलोगे, अब आप यहाँ रुकोगे भी नहीं, यहाँ से चलो, लेकिन उसके बाद से आज तक मैं क्रिकेट खेल रहा हूँ": मोइन अली, इंग्लैंड, ऑलराउंडर गौरतलब है कि मोइन अली ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने इंग्लैंड की तरफ से बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों में ही पारी की शुरुआत की है। जहां उन्होंने अपनी बल्लेबाजी में बेहतरीन तकनीक का नमूना पेश किया है। वहीं कसी हुई स्पिन गेंदबाजी का प्रदर्शन भी दिखाया है। मोइन अली ने अपनी टीम के साथी खिलाड़ियों के बर्ताव को लेकर कहा "ज़ाहिर है, मुझे उनकी किसी भी बात का बुरा नहीं लगता, वो जैसा मुझसे कहते हैं मैं उसी पर ही अपना ध्यान केन्द्रित करता हूँ" भारत और इंग्लैंड के बीच सीरीज का चौथा टेस्ट मैच 8 दिसम्बर से यानि कल से मुंबई में खेला जाएगा।  
Published 07 Dec 2016
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now