IND vs WI 2016 : जोश से लबरेज टीम इंडिया का इरादा बढ़त दुगुनी करना होगा

भारत और वेस्टइंडीज के बीच चार मैचों की सीरीज का दूसरा टेस्ट 30 जुलाई से तीन अगस्त के बीच जमैका के सबीना पार्क में खेला जाएगा। टीम इंडिया ने एंटीगुआ में हुए पहले टेस्ट में वेस्टइंडीज को एक पारी और 92 रन से हराया और वह इस समय जोश से लबरेज है। भारतीय टीम की बल्लेबाजी अच्छे फॉर्म में नजर आ रही है और पहले टेस्ट में उसके प्रमुख बल्लेबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया। जमैका पर बल्लेबाजों को ज्यादा मदद मिलने का अनुमान है, ऐसे में भारतीय गेंदबाजों का लक्ष्य पहले टेस्ट के समान अपनी योजना को मजबूत बनाकर 20 विकेट निकालने का होगा। भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली एक बार फिर आक्रामक फील्डिंग सजाकर विंडीज बल्लेबाजों पर दबाव बनाना चाहेंगे। नवनियुक्त कोच अनिल कुंबले भी टीम को जीत की लय बरकरार रखने के लिए नए तरीके जरुर बताएंगे। वहीं वेस्टइंडीज को उम्मीद होगी कि वह एंटीगुआ में शर्मनाक प्रदर्शन से उबरकर वापसी करे। विंडीज बल्लेबाजों को मजबूत तकनीक का प्रदर्शन करते हुए लंबे समय तक क्रीज पर जमने की जरुरत होगी। मेजबान टीम के गेंदबाजों को भी आक्रामक होकर विकेट लेने पर ध्यान देना होगा। सबीना पार्क की पिच पर टेस्ट के नतीजे निकलने का रिकॉर्ड है, क्योंकि यहां अधिकांश गेंदबाजों के लिए मददगार पिच बनी है। सबीना पार्क पर खेले जाने वाला यह टेस्ट भारतीय समयानुसार शाम 8:30 बजे शुरू होगा। टीम की जानकारी : भारत भारतीय टीम के नियमित ओपनर मुरली विजय चोटिल होकर दूसरे टेस्ट से बाहर हो गए हैं और उनकी जगह लोकेश राहुल को शामिल करने की पूरी संभावना है। शिखर धवन अपना शानदार फॉर्म यहां भी जारी रखना चाहेंगे। टीम का मध्यक्रम स्थाई नजर आ रहा है। कप्तान विराट कोहली पहले टेस्ट में दोहरा शतक जड़ने के बाद विश्वास से भरे हुए हैं। चेतेश्वर पुजारा को भी लंबी पारी खेलने का इंतजार होगा क्योंकि वह पहले टेस्ट में मिली शानदार शुरुआत को लंबी पारी में तब्दील नहीं कर सके थे। अजिंक्य रहाणे भी अच्छी लय में नजर आ रहे हैं और उनसे भी बड़ी पारी खेलने की उम्मीद बरकरार है। रिद्धिमान साहा पर विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी होगी और बल्ले से उपयोगी योगदान देने का जिम्मा भी उनपर होगा। भारतीय गेंदबाजी भी अच्छी लय में नजर आ रही है। मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा और उमेश यादव की तिकड़ी इस मैच में कमाल करने की कोशिश करेगी क्योंकि यहां तेज गेंदबाजों को भी मदद मिलने की उम्मीद है। वहीं भारतीय स्पिनर्स एक बार फिर अपनी फिरकी के जाल में विंडीज बल्लेबाजों को उलझाना चाहेंगे। रविचंद्रन अश्विन एक बार फिर टीम के ट्रम्प कार्ड साबित हो सकते हैं। वेस्टइंडीज ओपनर क्रैग ब्रैथवेट अपने शानदार फॉर्म को बरकरार रखना चाहेंगे। राजेंद्र चंद्रिका उनके साथ पारी की शुरुआत कर सकते हैं। मध्यक्रम में अनुभव मौजूद है, लेकिन बल्लेबाजों पर बड़ी पारी खेलने की जिम्मेदारी होगी। प्रतिभावान बल्लेबाज डैरेन ब्रावो पर अपनी लय हासिल करके टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचाने की जिम्मेदारी होगी। मार्लोन सैमुअल्स लय में दिखे और इस टेस्ट में लंबी पारी खेलने की कोशिश करेंगे। जेर्मेन ब्लैकवुड पहले टेस्ट की दोनों पारियों में शून्य पर आउट होने के कारण अपनी जगह गंवा सकते हैं। पिछले मैच में पदार्पण करने वाले रोस्टन चेस का इरादा बल्ले से प्रभावित करने का होगा। विकेटकीपर बल्लेबाज शेन डॉरिच बल्लेबाजी में गहराई बढ़ाएंगे। कार्लोस ब्रैथवेट खुद को सफल ऑलराउंडर साबित करने की पुरजोर कोशिश करेंगे। सबीना पार्क पर तेज गेंदबाजों को मदद मिलने को देखते हुए तेज गेंदबाज मिगुएल कमिंस और अल्जारी जोसफ पदार्पण कर सकते हैं। शेनन गेब्रियल भी सबीना पार्क पर अपनी आक्रामकता बढ़ाकर विकेट लेने के लिए प्रयासरत होंगे। संभावित एकादश भारत : शिखर धवन, लोकेश राहुल, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, रिद्धिमान साहा (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, अमित मिश्रा, ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, उमेश यादव वेस्टइंडीज : क्रैग ब्रैथवेट, राजेंद्र चंद्रिका, डैरेन ब्रावो, मार्लोन सैमुअल्स, रोस्टन चेस, कार्लोस ब्रैथवेट, शेन डॉरिच (विकेटकीपर), जेसन होल्डर (कप्तान), शेनन गेब्रियल, मिगुएल कमिंस, देवेंद्र बिशु महत्वपूर्ण आंकड़े

  • सबीना पार्क पर खेले गए पिछले 15 मैचों में परिणाम निकला
  • 1999 से अब तब 10 टेस्ट से अधिक की मेजबानी करने वाले 32 स्थलों में से एक सबीना पार्क एकमात्र मैदान है, जहां ड्रॉ मैच नहीं खेला गया।
  • 2002 से भारत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ लगातार 16 टेस्ट जीते
  • अश्विन अगर अगले तीन टेस्ट में 17 विकेट ले लेते हैं तो वह टेस्ट में सबसे जल्दी 200 विकेट लेने के मामले में क्लेरी ग्रिमेट की बराबरी पर पहुंच जाएंगे।
App download animated image Get the free App now