IND vs WI 2016 पहला टेस्ट : पहले दिन रिकार्ड्स बुक में छाए रहे विराट और धवन

भारत ने सात महीने के बाद टेस्ट मैच खेला। हालांकि विराट कोहली ने वेस्टइंडीज के खिलाफ एंटीगुआ में पहले टेस्ट के पहले दिन शतक जमाकर दिन अपने नाम किया। विराट ने आगे बढ़कर टीम की जिम्मेदारी उठाई और आक्रामक अंदाज में शतक जड़ा। इस पिच पर गेंदबाजों को ज्यादा मदद नहीं मिलती दिखाई दी। 27 वर्षीय विराट ने शुरुआत से ही अपने इरादे जाहिर कर दिए थे और कमजोर गेंदों पर दमदार प्रहार किया जबकि आसानी से स्ट्राइक भी रोटेट की। उन्हें ओपनर शिखर धवन का भी बखूबी साथ मिला जो शतक बनाने से चूक गए। मेजबान टीम के लिए देवेन्द्र बिशु ने हौसला दिखाते हुए महत्वपूर्ण विकेट लिए जबकि शेनन गेब्रियल ने शॉर्ट गेंदों से प्रभाव छोड़ने का भरपूर प्रयास किया।भारत ने पहले दिन चार विकेट खोकर 302 रन बनाए और पहले दिन के कई दिलचस्प रिकार्ड्स पर अपना नाम दर्ज कराया। चलिए देखते हैं कि पहले दिन क्या खास रिकॉर्ड बने :

  • तीसरे विकेट के लिए विराट कोहली और शिखर धवन के बीच तीसरी बार शतकीय साझेदारी हुई। प्रभावी पहलू यह है कि दोनों ने पांच पारियों के भीतर यह साझेदारियां की।
  • विराट ने कप्तान के रूप में एशिया से बाहर चौथा शतक जमाया। भारतीय कप्तानों में वह सिर्फ मोहम्मद अजहरुद्दीन से पीछे है जिन्होंने पांच शतक जमाए थे।
  • टेस्ट में भारत ने लगातार पांचवी बार टॉस जीता, जो भारतीय रिकॉर्ड तोड़ने से केवल फैसले पीछे है। इससे पहले कोहली ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू सीरीज के चारों टेस्ट में टॉस जीता था।
  • धवन कैरीबियाई जमीन पर फिफ्टी प्लस स्कोर बनाने वाले पांचवे भारतीय ओपनर बन गए हैं। उनसे पहले माधव आप्टे, सुनील गावस्कर, वीवीएस लक्ष्मण और अजय जडेजा यह कारनामा कर चुके हैं।
  • धवन ने टेस्ट में 8 पारियों के बाद अर्धशतक जमाया। उन्होंने आखिरी बार गाले के मैदान पर श्रीलंका के खिलाफ 134 रन की पारी खेली थी।
  • यह 8वां मौका है जब कप्तान ने वेस्टइंडीज में पहली टेस्ट पारी के दौरान शतक जमाया। कोहली ने कप्तान के रूप में ऑस्ट्रेलिया, श्रीलंका और वेस्टइंडीज में पहली पारी खेलते हुए शतक जमाए।
  • कोहली ने 73 पारियों में 12वां टेस्ट शतक जमाया जो भारतीय बल्लेबाजों में दूसरा सबसे तेज गति से बनाया गया है। सुनील गावस्कर ने मात्र 66 पारियों में 12वां शतक जमाया था।
  • वेस्टइंडीज में पहली टेस्ट पारी खेलते हुए भारतीय ओपनर बल्लेबाजों में धवन (84) का स्कोर चौथा सर्वश्रेष्ठ रहा। 1952/53 दौरे में पोर्ट ऑफ स्पेन में पॉली उमरीगर (130) का स्कोर अब भी सर्वश्रेष्ठ है।
  • भारतीय कप्तान का वेस्टइंडीज में सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत स्कोर 146 रन है। कोहली को यह रिकॉर्ड तोड़ने के लिए सिर्फ चार रन की दरकार है। राहुल द्रविड़ ने 2006 में ग्रोस आइलेट में 146 रन की पारी खेली थी।
  • एंटीगुआ में सर विवियन रिचर्ड्स स्टेडियम में पहली पारी का औसत स्कोर 410 है। दूसरी पारी में यहां 390 रन तक स्कोर बनता है।
  • कोहली भारत के 9वें कप्तान बने, जिन्होंने भारतीय कप्तान के रूप में 1000 रन का आकंड़ा पूरा किया। विराट ने 18 पारियों में 1,000 रन पूरे किए और वह एमएस धोनी के साथ संयुक्त रूप से सबसे तेज 1,000 रन पूरे करने के मामले में दूसरे स्थान पर हैं। गावस्कर को ऐसा करने में सिर्फ 14 पारियों की जरुरत लगी थी।
  • कोहली टेस्ट में 3,000 रन पूरे करने वाले 19वें भारतीय बल्लेबाज बने। उन्होंने 73 पारियों में यह पूरा किया। वह इस उपलब्धि को जल्दी हासिल करने के मामले में आठवें स्थान पर हैं।
App download animated image Get the free App now