Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

विदेशों में सफल होने पर 'महान श्रेणी' में शामिल हो जाएगी भारतीय टीम : विव रिचर्ड्स

ANALYST
Modified 21 Sep 2018, 20:52 IST
Advertisement
वेस्टइंडीज के महान क्रिकेटर सर विव रिचर्ड्स का मानना है कि विराट कोहली और उनकी टीम यदि पिछले सफल घरेलू सत्र को इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में दोहराने में सफल रही तो वो 'महान श्रेणी' में शामिल हो जाएगी। अपनी आक्रामक बल्लेबाजी के लिए लोकप्रिय रिचर्ड्स को विराट की आक्रमकता से कोई परेशानी नहीं है। हाल ही में संपन्न घरेलू सत्र में भारत ने 13 में से 10 टेस्ट जीते। इस दौरान उसने न्यूजीलैंड, इंग्लैंड, बांग्लादेश और ऑस्ट्रेलिया को मात दी। सर विव ने पीटीआई से बातचीत में कहा, 'मेरे ख्याल से अपार सफलता हासिल करने वाली कोहली की टीम को ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज जीतने की जरुरत है। अगर वह ऐसा करने में सफल होती है तो निश्चित ही महान श्रेणी में शामिल हो जाएगी।' 121 टेस्ट खेलने वाले विव ने हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ संपन्न चार मैचों की टेस्ट सीरीज को भारत की सबसे कठिन सीरीज में से एक करार दिया। विव ने कहा, 'भारतीय टीम का हाल का घरेलू सत्र बेहतरीन रहा। कोहली और उनकी टीम ने शानदार रिकॉर्ड स्थापित किया। टीम ने निरंतरता बरक़रार रखी और विराट कोहली ने अच्छे से नेतृत्व किया। मेरे ख्याल से भारतीय टीम के लिए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हाल ही में संपन्न टेस्ट सीरीज सबसे कठिन सीरीज में से एक रही। उनके लिए सीरीज जीतना शानदार उपलब्धि रही।' रिचर्ड्स ने विराट कोहली की आक्रमकता और खिलाड़ियों का बचाव करने के अंदाज की भी तारीफ की। उन्होंने कहा, 'व्यक्तिगत तौर पर जो सिर्फ बल्लेबाजी नहीं बल्कि क्लास देखना पसंद करता हो। उस हिसाब से मुझे कोहली का कप्तान के रूप में आक्रामक होना पसंद है। वह हर मौके पर अपने खिलाड़ियों का बचाव करते हैं और मुझे इसमें कुछ भी गलत नहीं लगता। भारतीय टीम भाग्यशाली है कि उसे ऐसा व्यक्ति मिला है जो समय पर शानदार प्रदर्शन प्रस्तुत करता है। वह अपनी टीम के खिलाड़ियों का बचाव करता है जो मेरे लिए विशेष है।' विव को खिलाड़ियों के बीच होने वाली स्लेजिंग से भी कोई परेशानी नहीं है। उन्होंने कहा, 'आपको स्लेज झेलना होता है और आप उसे बड़े रूप में लौटना भी चाहते हैं। मुझे स्लेजिंग में कुछ गलत नहीं लगता। मगर कोई खिलाड़ी अगर किसी के रंग पर तंज कसता है तो यह मेरी नजर में सहनीय नहीं है। खेल भावना को ध्यान में रखकर जो स्लेजिंग हो, उसमें कुछ गलत नहीं है।' Published 05 Apr 2017, 20:44 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit