Create
Notifications

एक ही टेस्ट में शतक और 0 बनाने वाले भारतीय बल्लेबाजों की लिस्ट

एक ही टेस्ट में शतक और 0 बनाने वाले भारतीय बल्लेबाजों की लिस्ट
एक ही टेस्ट में शतक और 0 बनाने वाले भारतीय बल्लेबाजों की लिस्ट
निशांत द्रविड़

टेस्ट क्रिकेट में अभी तक कई बार ऐसे मौके आये हैं, जब एक ही मैच में बल्लेबाज ने शानदार पारी भी खेली और साथ ही फ्लॉप भी हुए। टेस्ट क्रिकेट में ऐसा काफी बार हुआ है, जब एक ही बल्लेबाज ने मैच में शतक भी लगाया और खाता खोले बिना भी आउट हुए। टेस्ट में सबसे पहले यह रिकॉर्ड बनाने वाले बल्लेबाज ऑस्ट्रेलिया के बिली मुर्डोक थे, जिन्होंने 1880 में इंग्लैंड के खिलाफ पहली पारी में 0 और दूसरी पारी में नाबाद 153 रन बनाये थे।

टेस्ट में अभी तक 170 बार ऐसे मौके आये हैं, जब बल्लेबाज ने एक ही मैच में शतक और 0 का रिकॉर्ड बनाया।इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने सबसे ज्यादा 34 बार यह रिकॉर्ड बनाया है। इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया की तरफ से 27, वेस्टइंडीज की तरफ से 24, दक्षिण अफ्रीका की तरफ से 20, पाकिस्तान की तरफ से 17, न्यूजीलैंड और श्रीलंका की तरफ से 11-11, बांग्लादेश की तरफ से 4 और ज़िम्बाब्वे एवं अफगानिस्तान की तरफ से एक-एक बार यह रिकॉर्ड बना है। भारत की तरफ से अभी तक 20 बार यह रिकॉर्ड बल्लेबाजों ने अपने नाम किया है।

आइये नज़र डालते हैं एक ही टेस्ट में शतक और 0 बनाने वाले भारतीय बल्लेबाजों की लिस्ट पर:

वीनू मांकड़
वीनू मांकड़

# वीनू मांकड़ (111 एवं 0)

1948 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में खेले गए पांचवें टेस्ट में वीनू मांकड़ ने पहली पारी में 111 रन बनाये थे, लेकिन दूसरी पारी में वह खाता नहीं खोल सके थे।

# पंकज रॉय (140 एवं 0)

1951 में इंग्लैंड के खिलाफ मुंबई में खेले गए दूसरे टेस्ट की पहली पारी में पंकज रॉय ने 140 रन बनाये, लेकिन दूसरी पारी में 0 पर आउट हो गए।

# विजय मांजरेकर (133 एवं 0)

1952 में इंग्लैंड के खिलाफ लीड्स में खेले गए पहले टेस्ट की पहली पारी में विजय मांजरेकर ने 133 रनों की शतकीय पारी खेली थी, लेकिन दूसरी पारी में खाता नहीं खोल पाए थे।

# माधव आप्टे (0 एवं 163*)

1953 में वेस्टइंडीज के खिलाफ पोर्ट ऑफ स्पेन में खेले गए तीसरे टेस्ट की पहली पारी में 0 पर आउट होने के बाद माधव आप्टे ने दूसरी पारी में नाबाद 163 रन बनाये थे।

# विजय मांजरेकर (108 एवं 0)

1964 में इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई में खेले गए पहले टेस्ट में विजय मांजरेकर ने यह रिकॉर्ड दूसरी बार बनाया था। पहली पारी में 108 रन बनाने के बाद दूसरी पारी में वह 0 पर आउट हो गए थे।

यह भी पढ़ें - 5 बल्लेबाज जिन्होंने डेब्यू टेस्ट में दोहरा शतक लगाया

सुनील गावस्कर
सुनील गावस्कर

# गुंडप्पा विश्वनाथ (0 एवं 137)

1969 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कानपुर में खेले गए दूसरे टेस्ट की पहली पारी में खाता खोले बिना आउट होने के बाद गुंडप्पा विश्वनाथ ने दूसरी पारी में 137 रन बनाये थे।

# सुनील गावस्कर (0 एवं 118)

1977-78 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में खेले गए तीसरे टेस्ट की पहली पारी में 0 पर आउट होने के बाद सुनील गावस्कर ने दूसरी पारी में 118 रनों की शतकीय पारी खेली थी।

# दिलीप वेंगसरकर (0 एवं 103)

1979 में इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में खेले गए दूसरे टेस्ट की पहली पारी में 0 पर आउट होने वाले दिलीप वेंगसरकर ने दूसरी में 103 रन बनाये थे।

# नवजोत सिंह सिद्धू (116 एवं 0)

1989 में वेस्टइंडीज के खिलाफ पोर्ट ऑफ स्पेन में खेले गए चौथे टेस्ट की पहली पारी में 116 रनों की शतकीय पारी खेलने वाले नवजोत सिंह सिद्धू दूसरी पारी में खाता नहीं खोल सके थे।

# मोहम्मद अज़हरुद्दीन (0 एवं 109)

1989 में पाकिस्तान के खिलाफ फैसलाबाद में खेले गए दूसरे टेस्ट की पहली पारी में 0 पर आउट होने के बाद मोहम्मद अज़हरुद्दीन ने दूसरी पारी 109 रनों की शतकीय पारी खेली थी।

सचिन तेंदुलकर 
सचिन तेंदुलकर

# नयन मोंगिया (152 एवं 0)

1996 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए एकमात्र टेस्ट में भारत के पूर्व विकेटकीपर नयन मोंगिया ने पहली पारी में 152 रनों की शानदार पारी खेली थी। हालाँकि दूसरी पारी में वह खाता खोले बिना आउट हो गए थे।

# सचिन तेंदुलकर (0 एवं 136)

1999 में पाकिस्तान के खिलाफ चेन्नई में खेले गए पहले टेस्ट की दूसरी पारी सचिन तेंदुलकर के यादगार 136 रनों की पारी के बावजूद भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा था। इसी मैच की पहली पारी में सचिन खाता खोले बिना आउट हो गए थे।

# सचिन तेंदुलकर (117 एवं 0)

2002 में वेस्टइंडीज के खिलाफ पोर्ट ऑफ स्पेन में खेले गए दूसरे टेस्ट में सचिन तेंदुलकर ने यह रिकॉर्ड दूसरी बार बनाया। पहली पारी में 117 रन बनाने के बाद वह दूसरी पारी में 0 पर आउट हो गए थे।

# वीरेंदर सहवाग (106 एवं 0)

2002 में इंग्लैंड के खिलाफ नॉटिंघम में खेले गए दूसरे टेस्ट की पहली पारी में वीरेंदर सहवाग ने 106 रनों की शतकीय पारी खेली थी, लेकिन दूसरी पारी में वह 0 पर आउट हो गए थे।

# राहुल द्रविड़ (136 एवं 0)

2008 में इंग्लैंड के खिलाफ मोहाली में खेले गए दूसरे टेस्ट की पहली पारी में राहुल द्रविड़ ने 136 रनों की बेहतरीन पारी खेली थी, लेकिन दूसरी पारी में वह खाता नहीं खोल सके थे।

चेतेश्वर पुजारा
चेतेश्वर पुजारा

# वीरेंदर सहवाग (109 एवं 0)

2010 में श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो में खेले गए तीसरे टेस्ट में वीरेंदर सहवाग ने दूसरी बार यह रिकॉर्ड बनाया था। पहली पारी में 109 रनों की पारी खेलने के बाद सहवाग दूसरी पारी में खाता नहीं खोल सके थे।

# शिखर धवन (0 एवं 115)

2014 में न्यूजीलैंड के खिलाफ ऑकलैंड में खेले गए पहले टेस्ट की पहली पारी में शिखर धवन खता खोले बिना आउट हो गए थे। दूसरी पारी में उन्होंने 115 रनों की शानदार पारी खेली थी, लेकिन टीम को जीत नहीं दिला सके थे।

# चेतेश्वर पुजारा (145* एवं 0)

2015 में श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो में खेले गए तीसरे टेस्ट की पहली पारी में नाबाद 145 रन बनाने वाले चेतेश्वर पुजारा दूसरी पारी में खाता नहीं खोल पाए थे।

# विराट कोहली (0 एवं 104*)

2017 में श्रीलंका के खिलाफ कोलकाता में खेले गए पहले टेस्ट की पहली पारी में विराट कोहली 0 पर आउट हो गए थे, लेकिन दूसरी पारी में उन्होंने 104 रनों की शतकीय पारी खेली थी।

# चेतेश्वर पुजारा (106 एवं 0)

2018 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में खेले गए तीसरे टेस्ट में चेतेश्वर पुजारा ने यह रिकॉर्ड दूसरी बार बनाया था। पहली पारी में 106 रन बनाने के बाद दूसरी पारी में पुजारा खाता नहीं खोल सके थे।

Edited by निशांत द्रविड़

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...