Create
Notifications

भारतीय गेंदबाज ने अचानक संन्यास लेकर चौंकाया, काफी साल से थे टीम से बाहर

अभिमन्यु मिथुन लम्बे समय से भारतीय टीम से भी बाहर चल रहे थे
अभिमन्यु मिथुन लम्बे समय से भारतीय टीम से भी बाहर चल रहे थे
Naveen Sharma

भारतीय टीम (Indian Team) में खेल चुके तेज गेंदबाज अभिमन्यु मिथुन (Abhimanyu Mithun) ने फर्स्ट क्लास से संन्यास का ऐलान कर दिया है। 12 सीजन खेलने के बाद मिथुन ने यह ऐलान किया है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में मिथुन ने 2010 में डेब्यू किया था। भारत के लिए उन्होंने 4 टेस्ट मैचों में 9 विकेट हासिल किये। इसके अलावा 5 वनडे मैचों में उन्होंने 3 विकेट झटके।

मिथुन ने 103 प्रथम श्रेणी मैच खेले और 26.63 की औसत से 338 विकेट हासिल किए। उन्होंने 96 लिस्ट ए मैचों और 74 टी20 मैचों में भी कुल 205 विकेट हासिल किये। संन्यास का ऐलान करते हुए मिथुन ने एक बयान में कहा कि मैंने उच्चतम स्तर पर अपने देश का प्रतिनिधित्व किया है और हमेशा मेरी सर्वोच्च उपलब्धि रहेगी। इससे मिलने वाला आनंद और गर्व कुछ ऐसा है जिसे मैं अपने पूरे जीवन में संजो कर रखूंगा।

मिथुन ने आगे कहा कि क्रिकेट एक युनिवर्सल गेम है और इसे मैं उच्चतम स्तर पर समाप्त करना चाहता था। वर्ल्ड में खुद के लिए बेहतर संभावनाएं और परिवार के लिए मुझे यह निर्णय लेना पड़ा। मैं यह भी स्पष्ट करता हूं कि कर्नाटक में प्रतिभा की प्रचुर मात्रा में तेज गेंदबाजी है और अगर मैं अपने करियर को आगे बढ़ाता हूं तो वे सही समय पर अवसर गंवा देंगे।

गौरतलब है कि मिथुन ने अपना करियर एक डिसकस थ्रोअर के रूप में शुरू किया था लेकिन बाद में वह क्रिकेट में आ गए। टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ गाले में अपना डेब्यू किया था। इसके पांच महीने पहली उन्होंने भारत के लिए दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे डेब्यू भी किया था। जहाँ तक आईपीएल की बात है, तो वे इस लीग में भी खेले हैं। आईपीएल में मिथुन ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए खेलने के अलावा सनराइजर्स हैदराबाद और मुंबई इंडियंस से भी खेला है। वे कुल 16 मुकाबलों में खेले।


Edited by Naveen Sharma

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...