Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

अजिंक्य रहाणे और आर्जेन रॉबेन ने एक ख़ास मौके पर बदली अपनी जर्सियां

CONTRIBUTOR
Modified 11 Oct 2018, 14:28 IST
Advertisement
टीम इंडिया ने दिवाली के ठीक एक दिन पहले मेहमान टीम न्यूजीलैंड को पांच मैचों की एकदिवसीय सीरीज़ के आखिरी मैच में हराकर सीरीज़ अपने नाम की। टीम इंडिया ने इस कारनामे के बाद मेहमान टीम को एक बड़ा रिकॉर्ड बनाने से भी रोक दिया और कीवी टीम का भारतीय सरज़मीन पर वनडे सीरीज़ जीतने के सपने को भी चकनाचूर कर दिया। टीम इंडिया की तरफ से इस सीरीज में पहली बार सलामी बल्लेबाज़ी करने उतरे टीम इंडिया की रीढ़ की हड्डी कहे जाने वाले अजिंक्य रहाणे कुछ ख़ास प्रदर्शन तो नहीं कर पाए और कोच कुंबले का ये एक्सपेरिमेंट नकामयाब रहा। लेकिन वनडे सीरीज़ से पहले खेली गई टेस्ट सीरीज़ में रहाणे ने शानदार बल्लेबाज़ी की थी। रहाणे के इस लाजवाब प्रदर्शन की वजह से दुनिया भर में उनके फैन्स की संख्या बढती चली जा रही है। रहाणे के फैन्स न सिर्फ भारत में हैं बल्कि विदेशों में भी इनके बल्ले के कई आशिक हैं। ऐसी ही एक विदेशी फैन्स में से एक हैं एफसी बेयर्न म्युनिक्स के स्टार फुटबॉलर आर्जेन रॉबेन। ये फुटबॉल सितारा भी रहाणे का एक बहुत बड़ा फैन है और इसने दिवाली के शुभ अवसर पर रहाणे को एक शानदार उपहार देकर अपने फैन होने का इज़हार भी किया। रॉबेन ने रहाणे को दिवाली के शुभ अवसर पर एक उपहार भेजा जिसमे रॉबेन के क्लब की जर्सी थी और जिसपर उनके नाम के साथ-साथ उनका जर्सी नम्बर 27 भी लिखा हुआ था। रहाणे ने रॉबेन के इस उपहार का शुक्रिया अदा करने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया और अपना आभार व्यक्त किया। इसके बाद रहाणे ने भी इस जर्मन फुटबॉलर को अपनी जर्सी उपहार के रूप में भेजी और अपनी दोस्ती का सबूत दिया। इस तरह दो देश के दो लगा अलग खिलाड़ियों ने अपनी अपनी जर्सियों को एक दुसरे से बदलकर अपने प्यार और दोस्ती का पूरे देशवासियों को संदेश दिया। भारत की अगली सीरीज़ इंग्लैंड के खिलाफ 9 नवम्बर से शुरू होने वाली है जिसमें भारत को इंग्लैंड के विरुद्ध पांच टेस्ट मैच खेलने हैं। इस सीरीज में टीम इंडिया के बल्लेबाज़ अजिंक्य रहाणे की भूमिका बहुत अहम् होने वाली है। Published 01 Nov 2016, 16:34 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit