एक ही वनडे मैच में ओपनिंग बल्लेबाजी और गेंदबाजी करने वाले भारतीय खिलाड़ियों की लिस्ट

5 भारतीय खिलाड़ी जिन्होंने एक ही वनडे मैच में ओपनिंग बल्लेबाजी और गेंदबाजी की
5 भारतीय खिलाड़ी जिन्होंने एक ही वनडे मैच में ओपनिंग बल्लेबाजी और गेंदबाजी की

एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय में ऐसे कई मौके आये हैं जब एक ही मैच में किसी खिलाड़ी ने ओपनिंग बल्लेबाजी के साथ-साथ ओपनिंग गेंदबाजी भी की। सबसे पहली बार यह रिकॉर्ड 1975 वर्ल्ड में ईस्ट अफ्रीका के फरासत अली ने न्यूजीलैंड के खिलाफ बनाया था। अभी तक 47 खिलाड़ियों ने वनडे क्रिकेट में यह अनोखा रिकॉर्ड अपने नाम किया है। सबसे ज्यादा 45 मौकों पर यह रिकॉर्ड भारत के मनोज प्रभाकर ने बनाया है।

भारत की तरफ से अभी तक सबसे ज्यादा 5 खिलाड़ियों ने एक ही मैच में ओपनिंग बल्लेबाजी और गेंदबाजी का रिकॉर्ड बनाया है। सबसे पहली बार यह रिकॉर्ड 1980 में रॉजर बिन्नी ने बनाया था। भारत के अलावा पाकिस्तान, दक्षिण अफ्रीका, ज़िम्बाब्वे और नीदरलैंड्स के चार-चार एवं इंग्लैंड, श्रीलंका, वेस्टइंडीज और स्कॉटलैंड के तीन-तीन एवं न्यूजीलैंड, यूएई और पापुआ न्यू गिनी के दो-दो खिलाड़ी यह रिकॉर्ड बना चुके हैं। ईस्ट अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया, बांग्लादेश, कनाडा, बरमूडा, अफगानिस्तान, आयरलैंड और हांगकांग के भी एक-एक खिलाड़ी यह रिकॉर्ड बना चुके हैं।

आइये नजर डालते हैं भारत की तरफ से यह रिकॉर्ड किस-किस खिलाड़ी ने बनाया है:

# रॉजर बिन्नी

रॉजर बिन्नी
रॉजर बिन्नी

रॉजर बिन्नी ने दो मैचों में ओपनिंग बल्लेबाजी और गेंदबाजी करने का रिकॉर्ड बनाया है। दिसंबर 1980 में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी वनडे में यह रिकॉर्ड बनाया था। मैच में उन्होंने 31 रन बनाये थे, लेकिन एक भी विकेट नहीं ले पाए थे। इसके बाद जनवरी 1981 में मेलबर्न में ऑस्ट्रेलिया के ही खिलाफ बिन्नी ने यह रिकॉर्ड दूसरी बार बनाया। उन्होंने उस मैच में 21 रन बनाये, लेकिन एक भी विकेट नहीं ले पाए थे।

# मनोज प्रभाकर

मनोज प्रभाकर
मनोज प्रभाकर

भारतीय टीम के पूर्व ऑलराउंडर मनोज प्रभाकर एक ही मैच में ओपनिंग बल्लेबाजी और गेंदबाजी का रिकॉर्ड 45 बार बना चुके हैं, जो विश्व रिकॉर्ड भी है। उन्होंने सबसे पहली बार यह रिकॉर्ड मार्च 1987 में पाकिस्तान के खिलाफ जमशेदपुर में बनाया था। उस मैच में पाकिस्तान ने भारत को 5 विकेट से हराया था, लेकिन मनोज प्रभाकर (106) को उनके शानदार शतकीय पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया था। यह उनका वनडे में सर्वाधिक स्कोर भी था। हालाँकि मैच में गेंद से उन्हें कोई सफलता नहीं मिली थी।

मनोज प्रभाकर ने करियर में इसके अलावा सिर्फ एक और शतक लगाया। अक्टूबर 1994 में वेस्टइंडीज के खिलाफ कानपुर में मनोज प्रभाकर ने नाबाद 102 रन बनाये थे और इस मैच में भी उन्होंने ओपनिंग गेंदबाजी के बाद ओपनिंग बल्लेबाजी की थी।

मनोज प्रभाकर ने वनडे करियर में दो बार पारी में 5 विकेट लेने का रिकॉर्ड बनाया था। 1994 में श्रीलंका के खिलाफ हैदराबाद और 1995 में न्यूजीलैंड के खिलाफ अमृतसर में मनोज प्रभाकर ने यह रिकॉर्ड बनाया था एवं इन दोनों मैचों में भी उन्होंने ओपनिंग बल्लेबाजी और गेंदबाजी का रिकॉर्ड बनाया था।

# कपिल देव

कपिल देव
कपिल देव

भारतीय टीम के महानतम ऑलराउंडर कपिल देव ने भी एक बार यह अनोखा रिकॉर्ड बनाया था। 1992 वर्ल्ड कप में ज़िम्बाब्वे के खिलाफ हैमिल्टन में खेले गए वनडे में कपल देव ने ओपनिंग बल्लेबाजी करते हुए 10 रन बनाये थे, लेकिन गेंदबाजी में उन्हें कोई सफलता नहीं मिली थी।

# वीरेंदर सहवाग

वीरेंदर सहवाग
वीरेंदर सहवाग

भारतीय टीम के महान ओपनरों में शुमार वीरेंदर सहवाग ने नवंबर 2003 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मुंबई वनडे में यह रिकॉर्ड बनाया था। हालाँकि सहवाग के लिए वह मैच यादगार नहीं रहा था। गेंदबाजी में उन्हें कोई सफलता नहीं मिली थी और बल्लेबाजी में वह पहली ही गेंद पर खाता खोले बिना आउट हो गए थे।

# इरफान पठान

इरफान पठान
इरफान पठान

भारतीय टीम के दिग्गज ऑलराउंडर इरफान पठान ने भी 2005 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ कोलकाता वनडे में यह रिकॉर्ड बनाया था। पठान के लिए भी मैच यादगार नहीं रहा और वह मैच में न तो खाता खोल पाए न ही उन्हें कोई सफलता मिली थी।

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़
App download animated image Get the free App now