Create

रोहित शर्मा के डेब्यू मैच में खेलने वाले सभी खिलाड़ी: अब वे कहां हैं?

Enter caption
reaction-emoji
Shubham Avhad

विश्व क्रिकेट का सबसे महान ओपनिंग बल्लेबाज बनने की काबिलियत रखने वाले भारतीय टीम के विस्फोटक ओपनिंग बल्लेबाज रोहित शर्मा जैसा बल्लेबाज इस समय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कोई नहीं है। 31 वर्षीय रोहित शर्मा ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में कई सारे बड़े रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं और भारतीय टीम को कई सारी बड़ी उपलब्धियाँ हासिल करने में महत्त्वपूर्ण योगदान निभाया है।

रोहित के अंतरराष्ट्रीय करियर की शुरूआत 23 जनवरी 2007 को आयरलैंड के खिलाफ हुई थी। इस मुकाबले में टॉस जीतकर भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ ने पहले गेंदबाज़ी करने का निर्णय लिया था। इस निर्णय को सही साबित करते हुए भारतीय गेंदबाज़ों ने आयरलैंड की पूरी टीम को 193 के स्कोर पर ऑल-आउट किया था और उसके बाद इस मुकाबले को भारतीय टीम ने डकवर्थ लुईस नियम के चलते 9 विकेट से जीत लिया था।

रोहित के आंकड़े उनके खूबसूरत प्रदर्शन को बयां करते हैं। रोहित ने 27 टेस्ट मैचों में 39.62 की शानदार औसत के साथ 1585 रन बनाये हैं। वहीं 195 एकदिवसीय मैचों में 48.29 की औसत के साथ 7630 रन बनाये हैं। रोहित ने 90 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 32.89 के औसत के साथ कुल 2237 रन बनाये हैं।

रोहित शर्मा इस समय दुनिया के इकलौते खिलाड़ी है, जिनके नाम एकदिवसीय क्रिकेट में तीन दोहरे शतक लगाने का रिकॉर्ड हैं। वहीं एकदिवसीय क्रिकेट का सबसे बड़ा सर्वोत्तम स्कोर 264 रन उनके नाम हैं। ऐसे में यह देखना दिलचस्प होगा की रोहित शर्मा के डेब्यू मुकाबले में भारत की एकदिवसीय टीम का हिस्सा रहे बाकी खिलाड़ी अब कहाँ हैं।

तो आइये एक नज़र डालते हैं बाकी के 10 खिलाड़ियों पर जो रोहित शर्मा के डेब्यू मैच में प्लेइंग इलेवन का हिस्सा थे:

#1. सौरव गांगुली-

Enter caption

भारतीय टीम के बाएं हाथ के तूफानी बल्लेबाज और सफल कप्तान सौरव गांगुली ने रोहित शर्मा के डेब्यू मैच में ओपनिंग की थी। जहां 99 गेंदों पर 77 रन की नाबाद पारी खेली थी। सौरव गांगुली अपने आक्रामक रवैया और शानदार बल्लेबाजी के चलते भारतीय सफल खिलाड़ियों में गिने जाते हैं।

गांगुली ने अपना वनडे डेब्यू 11 जनवरी 1992 में वेस्टइंडीज के खिलाफ किया था और 15 नवंबर 2007 में पाकिस्तान के खिलाफ अपना आखिरी मैच खेला था। सौरव गांगुली ने वनडे क्रिकेट में 311 मैचों में 41.02 की औसत से और 73.70 की स्ट्राइक रेट से 15416 रन बनाए है। इसमें 22 शतक और 72 अर्धशतक शामिल हैं। सौरभ गांगुली का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 183 रन है। वर्तमान में गांगुली कोलकाता क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष पद पर तैनात हैं।

#2. सचिन तेंदुलकर-

Enter caption

विश्व क्रिकेट के सबसे बड़े सितारे सचिन तेंदुलकर है। उनका नाम भारतीय क्रिकेट में स्वर्ण अक्षरों से लिखा गया है। सचिन ने रोहित शर्मा के डेब्यू मैच में 3 गेंदों में 4 रन बनाए थे।

सचिन ने अपना वनडे डेब्यू 18 दिसंबर 1989 में पाकिस्तान के खिलाफ किया था और 18 मार्च 2012 को पाकिस्तान के ही खिलाफ अपना आखिरी वनडे मैच खेला था। वहीं सचिन तेंदुलकर ने 16 नवंबर 2013 को वेस्टइंडीज के विरुद्ध अपना आखिरी टेस्ट मैच खेलकर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहा। तेंदुलकर ने वनडे क्रिकेट में 463 मैचों में 44.83 की औसत और 86.23 की स्ट्राइक रेट से 18426 रन बनाए है। इसमें 49 शतक और 96 अर्धशतक शामिल हैं। उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 200* रन है। तेंदुलकर के नाम आज भी वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन और सबसे ज्यादा शतक हैं।वर्तमान में सचिन आईपीएल में मुंबई इंडियंस टीम के बतौर मेंटोर पद पर कार्य कर रहे हैं।

#3. गौतम गंभीर-

Enter caption

रोहित शर्मा के डेब्यू मुकाबले में गौतम गंभीर ने 107 गेंदों पर 80 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेलकर भारतीय टीम को जीत दिलाई थी। इस मैच में गौतम गंभीर को मैन ऑफ द मैच पुरस्कार से भी नवाज़ा गया था।

गौतम गंभीर ने अपना वनडे डेब्यू 11 अप्रैल 2003 को बांग्लादेश के खिलाफ किया था और 27 जून 2013 इंग्लैंड के खिलाफ अपना आखिरी वनडे मैच खेला था। गंभीर ने वनडे क्रिकेट में 147 मैचों में 39.68 की औसत से और 85.25 की स्ट्राइक रेट से 5238 रन बनाए हैं। इसमें 11 शतक और 34 अर्धशतक शामिल हैं। गौतम गंभीर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 150* रन है और पिछले साल 2018 में उन्होंने क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी। गंभीर ने 2018 में (दिल्ली डेयरडेविल्स) दिल्ली कैपिटल्स की टीम से जुड़े थे।

#4. राहुल द्रविड़-

Enter caption

रोहित शर्मा के डेब्यू मुकाबले में राहुल द्रविड़ भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व बतौर कप्तान कर रहे थे। राहुल द्रविड़ ने अपना वनडे डेब्यू 3 अप्रैल 1997 में श्रीलंका के खिलाफ किया था और अपना आखिरी वनडे 16 दिसंबर 2011 को इंग्लैंड के खिलाफ खेला था। 28 जनवरी 2012 को ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध टेस्ट मैच खेलने के बाद द्रविड़ ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया। राहुल द्रविड़ ने वनडे क्रिकेट में 344 मैचों में 39.16 की औसत और 71.24 की स्ट्राइक रेट से 10889 रन बनाए है। इसमें 12 शतक और 83 अर्धशतक शामिल हैं। द्रविड़ का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 153 रन है। वहीं टेस्ट क्रिकेट में राहुल द्रविड़ ने 164 मैचों में 13288 रन बनाए हैं

राहुल द्रविड़ फिलहाल भारतीय युवा खिलाड़ियों को तैयार करने का सबसे अनमोल कार्य कर रहे हैं। द्रविड़ वर्तमान में इंडिया ए और अंडर-19 टीम के कोच पद पर काम कर रहे हैं।

#5. युवराज सिंह-

Enter caption

‘सिक्सर किंग’ नाम से मशहूर युवराज सिंह को रोहित शर्मा के डेब्यू मैच में बल्लेबाजी करने का मौका नहीं मिला था। युवराज ने अपना वनडे डेब्यू 3 अक्टूबर 2000 को केन्या के खिलाफ किया था और 30 जून 2017 को वेस्टइंडीज़ के खिलाफ अपना आखिरी मैच खेला था। उसके बाद युवराज को भारतीय टीम में खेलने का मौका नहीं मिला।

युवराज ने वनडे क्रिकेट में 304 मैचों में 36.55 की औसत और 87.67 की स्ट्राइक रेट से 8701 रन बनाए हैं। इसमें 14 शतक और 52 अर्धशतक शामिल हैं। युवराज सिंह का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 150 रन है। युवराज ने आईपीएल में 128 मुकाबलों में 1077 रन बनाए हैं।

2011 का विश्वकप भारत को दिलाने में युवराज सिंह का सबसे बड़ा योगदान था। वर्तमान में युवराज सिंह रणजी ट्रॉफी में पंजाब के लिए खेल रहे हैं। अभी भी युवी ने टीम इंडिया में वापसी की उम्मीद छोड़ी नहीं है और वह अपने शानदार प्रदर्शन से भारतीय टीम का हिस्सा बनने की पूरी कोशिश कर रहे हैं।

#6. दिनेश कार्तिक-

Enter caption

रोहित शर्मा के डेब्यू मैच में विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी दिनेश कार्तिक के कंधों पर थी। दिनेश कार्तिक ने अपना वनडे डेब्यू 5 सितंबर 2004 को इंग्लैंड के खिलाफ किया था। कार्तिक ने वनडे क्रिकेट में 88 मैचों में 30.90 की औसत और 73.37 की स्ट्राइक रेट से 1700 रन बनाए है। इसमें 9 अर्धशतक शामिल हैं। दिनेश कार्तिक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 79 रन है।

वहीं मौजूदा वक्त में कार्तिक टी-20 क्रिकेट के स्पेशलिस्ट खिलाड़ी बन चुके हैं। उन्होंने टी-20 क्रिकेट में 27 मैचों में 35.20 की औसत और 140.80 की स्ट्राइक रेट से 352 रन बनाए है। दिनेश कार्तिक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 48 रन है।

कार्तिक ने आईपीएल में विभिन्न टीमों का प्रतिनिधित्व किया है। वो 2018 के आईपीएल सीजन में कोलकाता नाइट राइडर्स टीम के साथ जुड़े थे। जहां वह बतौर कप्तान टीम का नेतृत्व कर रहे थे और वर्तमान में कार्तिक भारतीय वनडे और टी-20 टीम का महत्वपूर्ण हिस्सा हैं।

#7. अजीत अगरकर-

Enter caption

रोहित शर्मा के डेब्यू मुकाबले में भारतीय टीम के तेज गेंदबाज अजीत अगरकर ने 10 ओवर में 27 रन देकर एक विकेट हासिल किए थे। अगरकर ने अपना वनडे डेब्यू 1 अप्रैल 1998 को ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध किया था और 5 सितंबर 2007 को इंग्लैंड के खिलाफ अपना आखिरी मैच खेला था।

अजीत अगरकर ने वनडे क्रिकेट में 288 विकेट हासिल किए हैं, जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 6/42 रहा था। अगरकर ने वनडे क्रिकेट में 191 मैचों में 14.58 की औसत से 1269 रन बनाए हैं। इसमें 3 अर्धशतक शामिल हैं। उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 95 रन है। उन्होंने आईपीएल में 42 मुकाबलों में 29 विकेट हासिल किए हैं, जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 3/25 रहा था।

पिछले 2 सालों में अजीत अगरकर अलग-अलग टी-20 लीग में खेलते हुए नजर आए और वर्तमान में वह बतौर क्रिकेट एक्सपर्ट काम कर रहे हैं।

#8. पियूष चावला-

Enter caption

रोहित शर्मा के डेब्यू मुकाबले में पियूष चावला इकलौते स्पिनर भारतीय टीम में शामिल थे। चावला ने इस मुकाबले में 10 ओवर में 29 रन देकर 3 विकेट हासिल किए थे। पियूष चावला ने अपना डेब्यू 9 मार्च 2011 में नीदरलैंड के विरोध किया था और 12 में 2007 को बांग्लादेश के विरुद्ध अपना आखिरी मैच खेला। उसके बाद उन्हें भारतीय टीम से खेलने का मौका नहीं मिला। पियूष चावला ने वनडे क्रिकेट 25 मुकाबलों में 32 विकेट हासिल किए हैं, जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 4/23 रहा था।

चावला को टी-20 क्रिकेट में मैच विनर खिलाड़ी कहां जाता है। उन्होंने आईपीएल में 144 मैचों में 140 विकेट हासिल किए हैं। जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 4/17 रहा था। पियूष चावला वर्तमान में आईपीएल टीम कोलकाता नाइट राइडर्स के साथ जुड़े हैं और अपना घरेलू क्रिकेट गुजरात की तरफ से खेल रहे हैं।

#9. आरपी सिंह-

Enter caption

रोहित शर्मा के डेब्यू मुकाबले में आरपी सिंह ने भारतीय टीम के लिए अपने कोटे के 10 और में 36 रन देकर 2 विकेट हासिल किए थे। आरपी सिंह ने अपना वनडे डेब्यू 4 सितंबर 2005 को जिम्बाब्वे के खिलाफ किया था और 16 सितंबर 2011 को इंग्लैंड के खिलाफ अपना आखिरी मैच खेला था। उसके बाद दोबारा कभी भी राष्ट्रीय टीम का हिस्सा नहीं बन पाए।

आरपी सिंह ने 2007 का टी-20 विश्वकप जिताने में प्रमुख भूमिका निभाई थी। उस विश्व कप में वह भारतीय टीम के प्रमुख गेंदबाज थे। आरपी सिंह ने वनडे क्रिकेट में 32 विकेट हासिल किए हैं। जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 4/23 रहा था। उन्होंने आईपीएल में मुंबई इंडियंस, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर, कोची टस्कर्स केरला, डेक्कन चार्जर्स, राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स जैसे विभिन्न टीमों में आईपीएल टीम का प्रतिनिधित्व किया है। आरपी ने टी-20 क्रिकेट में 90 विकेट हासिल किए हैं, जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 4/22 रहा था।

वर्तमान में इस खिलाड़ी ने 2018 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया है और अब वह कॉमेंटेटर की भूमिका निभा रहे हैं।

#10. एस श्रीसंत-

Enter caption

एस श्रीसंत ने रोहित शर्मा के डेब्यू मुकाबले में अपने कोटे के 10 ओवर किए जहां उन्होंने 10 ओवर में 50 रन देकर 3 महत्वपूर्ण विकेट हासिल किए थे। एस श्रीसंत ने अपना डेब्यु 25 अक्टूबर 2005 को श्रीलंका के खिलाफ किया था और 2 अप्रैल 2011 को श्रीलंका के विरुद्ध खिलाफ अपना आखिरी मैच खेला था। उसके बाद उन्हें भारतीय टीम में खेलने का मौका नहीं मिला।

एस श्रीसंत 2011 के वर्ल्ड कप टीम का हिस्सा थे। उन्होंने वनडे क्रिकेट में 52 विकेट हासिल किए थे। जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 6/55 रहा था। श्रीसंत ने आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स, कोची टस्कर्स केरला, किंग्स इलेवन पंजाब जैसे विभिन्न टीमों का प्रतिनिधित्व किया है। एस श्रीसंत ने टी-20 क्रिकेट में 40 विकेट हासिल किए हैं। जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 3/29 रहा था।

2013 में मैच फिक्सिंग के मामले में दोषी साबित होने के बाद श्रीसंत को आजीवन क्रिकेट से प्रतिबंधित कर दिया गया है। हाल ही में वो बिग बॉस में नजर आए थे।

Edited by सावन गुप्ता
reaction-emoji

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...