भारतीय टीम की विकेटकीपर बल्लेबाज ने सभी फॉर्मेट से लिया संन्यास 

अपना आखिरी मैच 2014 में खेलीं थी करुणा
अपना आखिरी मैच 2014 में खेलीं थी करुणा

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की विकेटकीपर बल्लेबाज रहीं करुणा जैन (Karuna Jain) ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट को अलविदा कह दिया है। 36 साल की करुणा ने 2014 में आखिरी बार भारत के लिए कोई इंटरनेशनल मैच खेला था। उन्होंने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक बड़ा पोस्ट करते हुए संन्यास की घोषणा की है। करुणा एक विकेटकीपर के रूप में काफी सफल रहीं थीं। उन्होंने इंस्टा पोस्ट में लिखा,

ढेर सारी खुशियों और तृप्ति वाले भावों के साथ मैं यह घोषणा कर रही हूं कि मैं क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास ले रही हूं। मेरे सफर के शुरुआत से लेकर अब तक जिन भी लोगों ने मेरा साथ दिया मैं उन सबको धन्यवाद कहना चाहूंगी। हर किसी ने मुझे खेल और जीवन के बारे में कुछ अलग सिखाया और इसका मुझे काफी फायदा हुआ।

भारत के लिए वनडे में तीसरी सबसे अधिक शिकार करने वाली विकेटकीपर हैं करुणा जैन

वनडे क्रिकेट में जैन ने विकेट कीपर के रूप में 58 शिकार किए हैं जो भारत के लिए महिला वनडे में तीसरे सबसे अधिक शिकार हैं। उन्होंने अपने घरेलू करियर में अधिकतर समय कर्नाटक के लिए खेला था, लेकिन इसके अलावा वह एयर इंडिया, नागालैंड और पुडुचेरी के लिए भी खेल चुकी हैं। घरेलू क्रिकेट में जैन ने आठ विकेट भी हासिल किए हैं।

2005 में महिला विश्व कप खेलने वाली भारतीय टीम में जैन भी शामिल रही थीं। उपविजेता रहने वाली भारतीय टीम में उन्हें बैकअप विकेटकीपर के रूप में रखा गया था। उन्होंने 2013 में भी महिला विश्व कप खेला था और इसके अलावा 2014 में हुए महिला टी20 विश्व कप में भी उन्होंने हिस्सा लिया था।

2004 में डेब्यू करने वाली जैन ने भारत के लिए पांच टेस्ट में 195 रन बनाए हैं। उन्होंने 44 वनडे मैचों में 987 रन बनाए हैं जिसमें एक शतक और नौ अर्धशतक शामिल रहे। इसके अलावा उन्होंने नौ टी20 मैचों की तीन पारियों में नौ रन बनाए हैं।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar